10 दिनों में 10 मिलियन डाउनलोड के साथ ‘भीम’ ऐप ने रचा इतिहास

नोटबंदी के बाद डिजिटल ट्रांजेक्शन्स और कैशलैस ईकॉनमी के विस्तार के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 30 दिसंबर को ‘भीम’ ऐप को लॉन्च किया गया था जिसने अद्भुत प्रदर्शन करते हुए लॉन्च के 48 घंटो के भीतर ही गूगल प्ले स्टोर पर सबसे ज़्यादा डाउनलोड किए जाने वाली ऐप में अपना नाम शुमार कर लिया था। वहीं रिलीज़ के दसवें दिन ‘भीम’ ऐप ने अपने 10 मिलियन डाउनलोड का आंकड़ा पार कर लिया है।

रिलायंस जियो या आईडिया के साथ वोडाफोन का विलय हो सकता है

‘भीम’ ऐप के इस नए कीर्तिमान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से देशवासियों के लिए प्रसन्नता जताई गई है। पीएम के अनुसार ‘भीम’ ऐप प्रयोग करने में आसान और प्रोसेसिंग में तेज है इसीलिए यह आज देश के युवाओं के साथ साथ व्यस्कों के बीच भी तेजी से लोकप्रिय हो रही है। मोदी का कहना है कि ‘भीम’ मेक इंन इंडिया का बेहतरीन उदाहरण है।

bhim-1

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा निर्मित ‘भीम’ ऐप के जरिये अधिकतम 10 हजार रुपये तक का लेन-देन प्रति ट्राजेंक्शन के हिसाब से किया जा सकता है तथा एक दिन में अधिकतम 20 हजार रुपये तक का आदान-प्रदान होता है। यह ऐप यूपीआई के माध्यम से इंस्टेट मनी ट्रासंफर की सुविधा भी देती है तथा इसमें बैंक डिटेल्स और आईएफएससी कोड के ​बिना भी ट्राजेंक्शन संभव है।

5,000 रुपये के बजट में 10 दमदार फोन जिनमें है 2जीबी रैम

गौरतबल है कि कैशलेस ट्रांजेक्शन बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा जारी यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस आ​धारित इस ऐप को संविधान के जनक डा. बाबा साहेब अंबेडकर के नाम पर लॉन्च किया गया है। फिलहाल यह ऐप एंडरॉयड स्मार्टफोन पर ही उपलब्ध है पंरतु जल्द ही आईओएस पर भी पेश की जाने की उम्मीद है।