लो लाइट में फोटोग्राफी के लिए ये 10 टिप्स हैं बड़े काम के

आज जब आप फोन की खरीदारी करने जाते हैं तो सबसे पहले कैमरे के बारे में जानकारी लेते हैं। कैमरा कैसा, कितने मेगापिक्सल का है, सेंसर्स कौन से लगे हैं और लो लाइट में फोटोग्राफी कैसी करता है। खरीदारी के समय हर चीज में इसे नंबर वन बताया जाता है। पंरतु जब बात परफॉर्मेंस की आती है तो वहां पर कैमरे की औकात पता लगने लगती है। दिन में अच्छी रोशनी के दौरान तो लगभग फोटो अच्छे आते हैं लेकिन शाम होते ही कम रोशनी में इनके हालत खराब हो जाते हैं। फोटो ब्लर और पिक्सलेट होने लगते हैं। रात में फोटोग्राफी के दौरान पसीने छूट जाते हैं। अंधेरे में काला फोटो और फ्लैश के साथ रंगत ही बदल जाते हैं। परंतु यदि आप फोटोग्राफी को थोड़ा समझ लें तो कम रोशनी में भी अच्छी तस्वीर ले सकते हैं। आगे हमने कम रोशनी में बेहतर फोटोग्राफी के ऐसे ही 10 टिप्स सुझाए हैं।

हाथ रखें शांत
mobile-camera-1
फोटो रोशनी से तैयार होता है और रात में रोशनी कम होती है। ऐसे में आॅटो मोड में जब आप फोटोग्राफी करते हैं तो शटर स्पीड खुद ही धीमा हो जाता है जिससे कि ज्यादा से ज्यादा रोशनी कैमरे में जा सके। परंतु इस दौरान एक बात ध्यान रखनी होती है कि हाथ न हिले। यदि हाथ हिलेगा तो पिक्चर ब्लर हो जाएगा। इसलिए कोशिश करें कि रात में या लो लाइट कंडिशन के दौरन फोटोग्राफी में हाथ को जितना शांत रख सकें। इसके साथ ही इमेज स्टेबलाइजेशन का भी उपयोग जरूर करें। इस तरह कर सकते हैं किसी दूसरे के फोन को कंट्रोल, कॉल, मैसेजिंग और कैमरे का कर सकते हैं उपयोग

ट्राइपॉड
आज कल मोबाइल के लिए छोटे और अच्छे ट्राईपॉड उपलब्ध हैं जो सस्ते भी हैं। ऐसे में यदि आप रात में फोटोग्राफी करते हैं तो इन ट्राइपॉड के उपयोग से बेहतर फोटो ले सकते हैं।

फोकस करें लॉक
low-light-photo
आज ज्यादातर स्मार्टफोन में कैमरे आॅटोफोकस फीचर के साथ आते हैं। कैमरा सब्जेक्ट को खुद ही फोकस कर लेता है। परंतु रात में फोटोग्राफी के दौरान फोकस आउट होने लगता है। ऐसे में कोशिश करें कि जिस चीज की तस्वीर लेना चाहते हैं उसे सावधानी पूर्वक सही से फोकस करें और हो सके तो फोकस लॉक कर फोटोग्राफी करें तो ज्यादा बेहतर होगा। जानें Apple iPhone X के 10 शानदार ट्रिक्स जो हर यूजर के लिए है जरूरी

मैनुअल सेटिंग
लो लाइट में यदि आप कोई क्रियेटिव फोटो बना रहे हैं तो आॅटो सेटिंग के बजाय मैनुअल सेटिंग का उपयोग करें तो ज्यादा बेहतर है। फोन में कैमरा आॅटो मोड पर होता है। अर्थात सभी सेटिंग आॅटो होती हैं लेकिन लो लाइट में मैनुअली सेटिंग कर आप अच्छी तस्वीर ले सकते हैं। लो लाइट में फोटोग्राफी के दौरान आप शटर स्पीड को धीमा कर आईएसओ को बढ़ाकर अच्छी तस्वीर ले सकते हैं। परंतु याद रहे कि इस दौरान कैमरा या सब्जेक्ट जितना कम हिलेगा उतना बेहतर होगा।

सूर्यास्त में करें फोटोग्राफी
sunset-photo
सूर्यास्त के समय रोशनी कम होती है लेकिन आपको बता दूं कि इस दौरान इतने अच्छें फोटो आते हैं जो हमेशा के लिए यादगार हो जाएंगे। उस वक्त आसमान में हल्की सी लालीमा होती है और कुछ रोशनी भी होती है। इस वक्त हल्की सी रोशनी और हल्की सी परछाई आपके लिए अनुकुल फोटोग्राफी का माहौल तैयार करते हैं।

जूम का ना करें यूज
यदि आपके फोन में डिजिटल इमेज स्टेबलाइजेशन है तो ​कोशिश यही करें कि जूम के उपयोग जितना हो सके बचें। दिन में भी यदि आप जूम करेंगे तो फोटो खराब होगा तो फिर रात के समय में तो यह और भी नुकसान करेगा। यदि आपका सैमसंग गैलेक्सी फोन हो रहा है गर्म तो जानें उसे ठीक करने का तरीका

फ्लैश के उपयोग से बचें
mobile-camera
रात में फोटोग्राफी के दौरान जितना ज्यादा हो सके फ्लैश के उपयोग से बचें। इससे चेहरे पर लाइट ज्यादा हो जाती है और यह चमक की वजह से चेहरे का रंग बदल जाता है। किसी एक व्यक्ति की तस्वीर लेने के लिए रात में फ्लैश का उपयोग करते हैं तो लाईट का रिफ्लेक्शन इतना होगा कि फोटो खराब हो जाएगी। वास्तविक रोशनी चाहे वह ब्ल्ब या ट्यूब लाइट की ही क्यों न हो उसी का उपयोग करें

ग्रुप फोटो में करें फ्लैश का उपयोग
noght-party
जहां सिंगल फोटोग्राफी के दौरान फ्लैश के उपयोग से बचना है वहीं यदि आप ग्रुप फोटोग्राफी कर रहे हैं तो फ्लैश का उपयोग जरूर करें। रात में रोशनी कम होती है और ग्रुप फोटो के लिए दूर से कैमरा सेटअप करना होता है। ऐसे में यदि फ्लैश का उपयोग न करें तो फोटो काला हो सकता है। इसलिए ग्रुप फोटो में आप फ्लैश का उपयोग कर सकते हैं और यह कारगर भी होगा।

आसपेक्ट रेशियो को रखें हाई
एंडरॉयड स्मार्टफोन में में आज कल रेजल्यूशन के साथ आसपेक्ट रेशियो भी दिया होता है। कई फोन में कैमरा रेजल्यूशन में 16:9 का रेशियो होता है तो किसी में 4:3 का। ऐसे में आप कोशिश यही करें इसे हाई पर रखें।

एचडीआर
mobile-camera-hdr
पिछले कुछ सालों में आपने फोटोग्राफी के दौरान एचडीआर का जिक्र जरूर सुना होगा। यह फीचर विशेष तौर से रोशनी को अडजस्ट कर अच्छी फोटोग्राफी के लिए ही होता है। इसमें आप कम आईएसओ पर भी स्पष्ट तस्वीर ले सकते हैं। इससे न्वाइस कम आता है। परंतु इस फीचर का उपयोग तभी कारगर होगा जब आपका हाथ स्थिर हो। इसलिए ट्राइपॉड पर इस फीचर का उपयोग करेंगे तो ज्यादा बेहतर कहा जाएगा।

ग्रे स्केल का लें सहारा
grayscalr
यदि लाख कोशिशों के बावजूद लो लाइट में अच्छी फोटो नहीं आ रही है तो आप ब्लैक एंड व्हाइट मोड जिसे आप ग्रे स्केल के नाम से भी जानते हैं का उपयोग करें तो बेहतर है। यदि बिल्कुल अंधेरे में कहीं एक जगह रोशनी आ रही है तो यह मोड कमाल कर देगा।