यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल

5 point to keep in mind when purchasing and selling a Second Hand Smartphone

कुछ साल पहले जब फ्लिपकार्ट और स्नैपडील जैसी ईकॉमर्स वेबसाइट्स ने भारत में दस्तक दी तो किसी ने आशा नहीं की थी कि भारत में आॅनलाइन शॉपिंग इस कदर लोकप्रिय होगी। आज दिल्ली हो या फिर पटना, मुंबई हो या फिर मथुरा हर जगह लोग आॅनलाइन शॉपिंग कर रहे हैं। कम प्राइस और बेस्ट सर्विस की वजह से हर रोज लाखों लोग आॅनलाइन शॉपिंग साइट्स पर आते हैं और अपने मनपसंद समान की खरीदारी करते हैं। हालांकि आॅनलाइन में सबसे ज्यादा खरीदारी मोबाइल्स की होती है। कई कंपनियों के फोन तो सिर्फ आॅनलाइन स्टोर पर ही उपलब्ध हैं।

इसमें कोई दो राय नहीं कि आॅनलाइन स्टोर पर ज्यादा वेरायटी उपलब्ध होती हैं और प्राइस भी बेहतर है। परंतु इस बात से आप भी इंकार नहीं कर सकते कि यहां धोखा भी बहुत ज्यादा होता है। यदि आप थोड़े से असावधान हुए तो आपको आर्थिक और मानसिक रूप से भारी नुकसान हो सकता है। इसलिए आॅनलाइल शॉपिंग करते हैं तो इन 15 बातों का ध्यान जरूर रखें।

1. भरोसेमंद हो ईकॉमर्स साइट
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
आज भारत में 100 से भी ज्यादा ईकॉमर्स वेबसाइट उपलब्ध हैं। हालांकि इनमें से कुछ को ही लोग अच्छी तरह से जानते हैं। परंतु कई वेबसाइट्स हैं जो यूजर्स को सिर्फ धोखा देने का काम करते हैं। यहां पर भारी छूट दिखाया जाता है लेकिन खरीदारी करने के बाद पैसे तो कट जाते परंतु सामान नहीं आता। ऐसे में अनजान वेबसाइट से कभी भी खरीदारी न करें। परंतु आपको बता दूं कि कभी—कभी भरोसेमंद ईकॉमर्स साइट से भी आपको भारी धोखा मिल जाता है। इसलिए जितना सावधान रहेंगे उतना बेहतर है। एंडरॉयड ओरियो की 7 शानदार सेटिंग जिससे आप हैं अनजान

2. कंपनी की आॅफिशियल वेबसाइट देखें
samsung-logo-1
ईकॉमर्स साइट के अलावा आज मोबाइल निर्माता कंपनियां खुद के वेबसाइट से भी फोन सेल करती हैं। ऐसे में मोबाइल खरीदारी के दौरान यदि आपको थोड़ा भी शक लगे तो सीधा कंपनी की वेबसाइट पर जा कर चेक करें और यदि वहां खरीदारी की व्यवस्था है तो वहीं से फोन लेना बेहतर होगा। 2018 के ये फेसबुक ट्रिक्स आपके लिए हैं बेहद जरूरी

3. देखें कौन है विक्रेता
xiaomi-offline
फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी कंपनियां खुद से बहुत कम मोबाइल सेल करती हैं। वहां अलग—अलग रिटेलर्स होते हैं जो अपने प्रोडक्ट सेल करते हैं। ये रिटेलर देश के किस कोने में बैठे हैं आपको पता नहीं चलता। ऐसे में ऐसे में कोशिश करें कि भरोसेमंद विक्रेता से ही आप समान खरीदें। हालांकि यह चेक करना मुश्किल हो जाता है कि भरोसेमंद कौन है। परंतु आप यह देख सकते हैं कि उसे आॅनलाइन स्टोर द्वारा विशेष दर्जा दिया गया हो। जैसे फ्लिपकार्ट पर फ्लिपकार्ट अडवांटेज, स्नैपडील पर स्नैपडील फुलफील और अमेजन फुलफील देख सकते हैं। इन पर आप थोड़ा भरोसा कर सकते हैं क्योंकि इन रिटेलर्स के सामान अमेजन और फ्लिपकार्ट के वेयर हाउस जिसे आप गोदाम कहते हैं वहां रखा होता है। कैसे करें अपने फोन के लिए सही चार्जर की पहचान

4. कैश आॅन डिलीवरी
online-money-transfer
आॅनलाइन खरीदारी में सबसे ज्यादा डर सामान न आने की होती है। एक बार परेशानी शुरू होती है तो फिर रुकने का नाम नहीं लेती। पैसे फंसने का डर सबसे ज्यादा होता है। ऐसे में यदि आप कोई सामान खरीद रहे हों और कैश आॅन डिलीवरी का आॅप्शन है तो आप उसी का चुनाव करें। जिससे कि सामान मिल जाने के बाद पैसे देना पड़े।

5. भारी छूट के चक्कर में ना पड़ें
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
जहां ज्यादा लालच करते हैं परेशानी वहीं से शुरू होती है। जालसाजी वाले वेबसाइट भारी छूट को ही माध्यम बनाते हैं। इसलिए यदि किसी मोबाइल पर अप्रत्याशित छूट मिल रही है तो पहले उसके बारे में पूरी जानकारी लें। नाम मॉडल नंबर आदि सबकुछ अच्छी तरह से जांचें। क्योंकि कुछ फर्जी साइट्स नाम और मॉडल लंबर में एक शब्द बदल देती हैं और समान लोगो के साथ भारी छूट दिखाकर नकली सामान बेचती हैं। जानें लिथियम ऑयन बैटरी के बारे में सबकुछ, कैसे बना और किसने बनाई पहली बैटरी

6. रिव्यू और रेटिंग करें चेक
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
यदि आप किसी अच्छे आॅनलाइन साइट से खरीदारी कर रहे हैं तो भी प्रोडक्ट के रिव्यू और रेटिंग्स को चेक करें। उपभोक्ता कमेंट, रिव्यू और रेटिंग आपके लिए बेहतर प्रोडक्ट के चुनाव में मददगार होगा। क्योंकि आॅनलाइन साइट सिर्फ अपना प्रोडक्ट नहीं बेचती बल्कि यहां अन्य छोटे-बड़े रिटेलर्स अपने प्रोडक्ट मुहैया कराते हैं। ऐसे में उपभोक्ता कमेंट और रिव्यू से आपको पता चल जाएगा कि कौन किस तरह का प्रोडक्ट मुहैया करा रहा है।

7. गारंटी और वारंटी
iphone x boxes
आॅनलाइन खरीदारी के समय गारंटी और वारंटी को ध्यान से देखें। आॅफलाइन खरीदारी के समय रिटेलर्स आपको बहुत कुछ बता देते हैं लेकिन आॅनलाइन में आपको खुद से जांचना पड़ता है। खरीदारी से पहले यह जरूर जांच लें कि प्रोडक्ट पर निर्माता कंपनी की ओर से गारंटी व वारंटी दी जा रही है फिर डीलर या किसी थर्ड पार्टी वारंटी है। डीलर या थर्ड पार्टी वारंटी न लें। क्योंकि ऐसा अक्सर पुराने प्रोडक्ट पर होता है।

8. रिटर्न पॉलिसी पर डालें नजर
google-pixel-2-launch-date-billboard
फोन की खरीदारी के दौरान आप रिटर्न पॉलिसी पर भी देख लें। अक्सर एक सप्ताह या फिर 10 दिन की रिटर्न पॉलिसी होती है। इस दौरान यदि फोन में कोई खराबी हो तो उसे वापस किया जा सकता है।

9. कस्टमर केयर से जरूर करें बात
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
खरीदारी से पहले कस्टमर केयर से बात जरूर करें और देखें कि कितना जल्दी आपको कनेक्ट किया जा रहा है। क्योंकि आज कई कंपनियां कस्टमर सपोर्ट के नाम पर सिर्फ नंबर दे देती हैं लेकिन कॉल ही नहीं मिलता है। किसी किसी कंपनी में कॉल लगता भी है तो आपका 1 घंटे या आधे घंटे का समय खराब हो जाता है।

10. अब दें आॅफर पर ध्यान
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
आॅनलाइन में हमेशा आपको छूट की बात कही जाती है जबकि ऐसा है नहीं। क्योंकि वे बॉक्स प्राइस पर छूट की बात करते हैं जबकि बाजार में समान एमओपी मार्केट आॅपरेटिंग प्राइस पर सेल होता है। इस पर ज्यादा ध्यान देने के बजाय आप देखें कि किस कार्ड या किस माध्यम से खरीदारी पर ज्यादा बचत है। यदि फोन खरीदारी के दौरान कार्ड और कैश आॅन डिलीवरी की खरीदारी में 50—100 रुपये की बचत है तो फिर आप कैश आॅन डिलीवरी को चुनें आप सेफ रहेंगे।

11. एक्सचेंज आॅफर की करें तुलना
xiaomi-mi-exchange-programme
आज आॅनलाइन शॉपिंग में एक्सचेंज आॅफर में खरीदारी काफी लोकप्रिय है। जिसमें आप अपना पुराना फोन देकर नया फोन लेते हैं। परंतु जरूरी नहीं कि एक्सचेंज आॅफर में आपको फायदा ही हो। इसमें अक्सर नुकसान वाली बातें होती हैं। यदि पुराना फोन हटाना चाहते हैं तो ओएलएक्स या कैसिफाई जैसे साइट्स से इसके रेट पता कर लें। आपको काफी फायदा होगा। कभी—कभी फोन के साथ ऐक्सेसरीज काफी सस्ते में मिल जाता है। ऐसे में आप फोन के साथ दूसरे आॅफर पर भी दें ध्यान।

12. पोर्टल पर कार्ड डिटेल न करें सेव
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
पेमेंट के दौरान अब कई कंपनियां कार्ड डिटेल्स को सेव कर लेती हैं। जिससे कि आप अगली बार तेजी से खरीदारी कर सकें। परंतु आप अपने क्रेडिट या डेविट कार्ड के डिटेल कहीं सेव न करें। सुरक्षा के लिहाज से यह सही नहीं है।

13. खरीदारी की रिसिप्ट और ईमेल संभाल कर रखें
gmail
आॅनलाइन खरीदारी के बाद आपके पास ईमेल आती है और पैकेट के साथ खरीदारी की रिसिप्ट भी। इन्हें संभालकर रखना जरूरी है। जिससे कि कुछ गड़बड़ होने पर आप कार्रवाई कर सकें।

14 तुरंत खोलें पैकेट
वनप्लस 6 रेड एडिशन प्राइस स्पेसिफिकेशन और फीचर्स।
आॅनलाइन खरीदारी में गलत सामान और धोखा-धड़ी के कई मामले सामने आए हैं। इसलिए कोशिश करें कि डिलीवरी ब्वाॅय के सामनें ही पैकेट खोलें। जिससे कि यदि गलत सामान की डिलीवरीहुई हो तो आप तुरंत कार्रवाई कर सकें। यह और भी बेहतर होगा यदि आप पैकेट खोलने के साथ ही फोन से एक छोटा सा वीडियो बना लें। यदि कुछ गड़बड़ हो तो आप इसे कंपनी को भेज सकें।

15. गलत सामान आ गया तो क्या करें
यदि आॅनलाइन कर रहे हैं फोन की खरीदारी तो इन 15 बातों का जरूर रखें ख्याल
यदि आपके पास गलत सामान आ गया है तो तुरंत कस्टमर केयर को सुचित करें या फिर कंपनी को ईमेल भेजें। यदि कंपनी कार्रवाई नहीं कर रही है तो आप डॉक्यूमेंट के साथ कंज्यूमर कोर्ट में जा सकते हैं। वहां तुरंत कार्रवाई होती है। इसके साथ ही आप सोशल मीडिया पर कंपनी की शिकायत कर सकते हैं।