स्मार्टफोन में OS Update से होते हैं ये 5 बड़े फायदे, जानें

5-reason-to-update-your-android-smartphone-in-hindi

यदि आपके पास स्मार्टफोन है तो अक्सर सॉफ्टवेयर और ऐप अपडेट के मैसेज आते हैं। परंतु डाटा खपथ की डर से आप उसकी अनदेखी कर देते हैं और यही सोच कर छोड़ देते हैं कि इससे क्या फर्क पड़ता हैं! परंतु मैं आपको बता दूं कि इससे बहुत ज्यादा फर्क पड़ता है। इससे न सिर्फ आपके फोन का परफॉर्में बेहतर होता है बल्कि आपका फोन पहले से ज्यादा सुरक्षित भी हो जाता है।

आप यही सोच रहे होंगे कि अपडेट से सुरक्षा का क्या लेना देना। तो बता दूं कि अपडेट से न सिर्फ फोन की सुरक्ष्ज्ञा का लेना देना है बल्कि उससे फोन के फीचर्स परफॉर्मेंस और रिलायबिलिटी सब पर फर्क पड़ता है। आगे हमने आपके स्मार्टफोन अपडेट के ऐसे ही 5 फायदों की जानकारी दी है।

1. सिक्योरिटी अपडेट
फोन में ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) या सॉफ्टवेयर किसी का भी अपडेट आता है तो उसमें सिक्योरिटी से संबंधित खामियों को दूर किया जाता है और सिक्योरिटी को पुख्ता किया जाता है।

जानें फोन को चार्ज करने का सही तरीका

2. फीचर इनहांस करना
आपने गौर किया होगा कि पुराने एंडरॉयड फोन और नए Android Phone के फीचर में काफी अंतर होते हैं। इतना ही नहीं Whatsapp की भी यदि पहले से तुलना करते हैं तो काफी अडवांस हो गया है। आपको लगता होगा कि यह फोन का फीचर है जबकि ऐसा नहीं है। यह सब सॉफ्टवेयर की वजह से होता है। साॅफ्टवेयर में अपडेट के माध्यम कंपनियां हमेशा ऑपरेटिंग सिस्टम या ऐप्लिकेशन में नए—नए फीचर्स जोड़ती हैं। इसलिए अपने फोन को जरूर अपडेट करें।

3. ऑपरेटिंग तेज करना
ओएस या ऐप्ल्किेशन अपडेट में कंपनी इस बात की भी कोशिश करती है कि सॉफ्टवेयर को तेज किया जा सके। जिससे कि उपभोक्ता आसान और कम समय में ही ऐप्लिकेशन का उपयोग कर सके। वहीं अपेडट में साॅफ्टवेयर को नए हार्डवेयर और ऑपरेटिंग सिस्टम के कंपैटिबल भी बनाने की कोशिश की जाती है। ताकि भविष्य में यदि फोन या सिस्टम के हार्डवेयर में किसी तरह का बदलाव हो तो साॅफ्टवेयर रन कर सके।

जानें एंडरॉयड स्मार्टफोन के 5 बेहद ही जरूरी फीचर्स

4. कमियों को दूर करना
अक्सर लोग शिकायत करते नजर आते हैं कि फलां एप्लिकेशन फोन में कार्य नहीं कर पा रहा है या एप्लिकेशन बार—बार क्रैश हो रहा है। ये सारी परेशानियों पर आॅपरेटिंग सिस्टम निर्माता या ऐप्लिकेशन निर्माता कंपनियां इन चीजों पर नजर बनाये रखती हैं। ऐसे में सॉफ्टवेयर अपडेट के माध्यम से इसे दूर किया जाता है। ऐप्लिकेशन में आ रहे ऐरर को दूर कर फंक्शनालिटी को बेहतर किया जाता है।

5. आसान उपयोग
किसी भी ओएस और सॉफ्टवेयर का उपयोग पर कंपनियां करीबी नजर बनाये हुए होती हैं और उनकी कोशिश होती है कि सिस्टम को आसान बनाया जा सके जिससे ज्यादा से ज्यादा उपभोक्ता इससे जुड़ सकें और उन्हें परेशानी न हो। यही वजह है कि साॅफ्टवेयर निर्माता समय-समय पर अपडेट देते हैं।