अपने एंडरॉयड फोन को अपडेट करने से पहले इन 5 बातों का जरूर रखें ख्याल

5 things to do before update your phone

जैसा कि मालूम है हर साल गूगल एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम का नया अपडेट पेश करता है। वर्ष 2016 में जहां 7.0 नुगट था। वहीं 2017 में एंडॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम 8.0 ओरियो को लॉन्च किया गया था। फिलहाल यह एंडरॉयड का सबसे नया आॅपरेटिंग सिस्टम है। हालांकि इसे लॉन्च हुए काफी समय हो गया है लेकिन अब भी ज्यादातर फोन पुराने एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम 7.0 या फिर 7.1 पर ही काम कर रहे हैं। परंतु अच्छी बात यह कही जा सकती है​ कि अब फोन निर्माताओं ने अपडेट देना शुरू कर दिया है जिससे कि आप नए ओएस पर अपने फोन को अपडेट कर सकें। हाल में मोटो और सैमसंग सहित कई कंपनियों ने अपडेट दिया है।

फोन अपडेट के कई फायदे हैं। इससे न सिर्फ सिक्योरिटी बढ़ती है बल्कि फोन में कई नए फीचर्स भी जुड़ जाते हैं। आज फोन को अपडेट करना भी आसान होता है। फोन ओटा फीचर से लैस होता है। आपको सिर्फ एक नोटिफिकेशन मिलता है जिस पर क्लिक करते ही अपडेट शुरू हो जाता है। यदि आपके फोन में भी अपडेट आया है तो उसे जरूर करें लेकिन फोन अपडेट करने से पहले कुछ आवश्यक सावधानी को जरूर बरतें। फोन अपडेट से होते हैं ये 5 फायदे

सावधानी 1
यदि आपके फोन में नया ओएस अपडेट आया है ​तो अपडेट पर क्लिक करने से पहले फोन का बैकअप ले लेंगे तो ज्यादा बेहतर है। हालांकि बैकअप लेना जरूरी नहीं है लेकिन आप चाहते हैं कि अपडेट के बाद फोन बिल्कुल नए जैसा काम करे तो यह जरूरी है। कॉन्टैक्ट बैकअप तो जीमेल के साथ आ ही जाता है, व्हाट्सऐप बैकअप भी ड्राइव पर होता है। आप अपने फोटो, वीडियो और म्यूजिक का बैकअप कंयूटर, हार्ड ड्राइव, मैमोरी कार्ड या फिर क्लाउड पर ले सकते हैं। डाटा बैकअप का एक फायदा और होगा कि अपडेट के दौरान यदि समस्या हुई तो फोन सुरक्षित होगा।
5 things to do before update your phone
सावधानी 2
गूगल की कोशिश है कि एंडरॉयड फोन को ज्यादा से ज्यादा सुरक्षित बनाया जाए। यही वजह है कि जब आप नया फोन लेते हैं तो फोन इंस्टॉल के समय ही आपसे सिक्योर लॉगिन पूछता है। जिससे कि यदि फोन खो जाए या ​चोरी हो जाए तो कोई इसका उपयोग ही न कर सके। यह सिक्योर लॉगिन आपके ईमेल अकाउंट से होता है। इसलिए यदि आप फोन को अपडेट कर रहे हैं तो पहले सिक्योरिटी लॉगिन आईडी देख लें। कई बार हम सुरक्षा के लिहाज से आईडी कोई दूसरा डालकर भूल जाते हैं। इ​सलिए जरूरी है कि पहले ही आप आईडी का पता कर लें। यह विकल्प आपको फोन की सेटिंग में जाकर अकाउंट के अंदर मिलेगा। आप देख सकते हैं कि किस—किस गूगल अकाउंट को आपने इंटीग्रेट किया है। हो सके तो इसका स्क्रीन शॉट ले लें। जानें फोन को चार्ज करने का सही तरीका

सावधानी 3
घर हो या फिर फोन। आप चीजें अपनी जरूरत के हिसाब से संभालकर रखते हैं। ऐसे में यदि आपने अपने फोन में कोई नए लॉन्चर या किसी अलग तरह के कस्टमाइजेशन का उपयोग किया है तो उसका स्क्रीन शॉट ले लें। इससे अपडेट के बाद इंस्टॉल करने में आसानी होगी। जानें कैसे रखें अपने एंडरॉयड फोन को सुरक्षित

सावधानी 4
फोन को नए ओएस पर अपडेट कर रहे हैं तो बैटरी चार्ज होना बेहद जरूरी है। यदि चाहते हैं कि अपडेट के दौरान पावर बैकअप में किसी तरह की समस्या न हो तो फोन को अपडेट से पहले 80 फीसदी तक चार्ज रखें। अपडेट के दौरान बैटरी खपत ज्यादा होती है और यदि बीच में फोन बंद होता है तो समस्या भी हो सकती है।
gionee-a1-battery
सावधानी 5
अपने उपर दी गई सभी सावधानियों पर नजर मार ली है तो अब फोन को अपडेट पर लगा सकते हैं। अपने एंडरॉयड फोन की सेटिंग में जाएंगे तो वहां अबाउट फोन में आपको सॉफ्टवेयर अपडेट का विकल्प मिलेगा। उसे क्लिक कर आप फोन को अपडेट कर सकते हैं। हां, याद रहे कि एक बार जब फोन अपडेट होने लगे तो आप किसी भी हार्डवेयर बटन का उपयोग न करें तो बेहतर है। वहीं फोन को आॅफ भी न करें।
5 things to do before update your phone
अपडेट के बाद
एक बार जब फोन अपडेट हो जाता है तो वह खुद से रिस्टार्ट हो जाएगा और आप इसका उपयोग कर सकते हैं। परंतु चाहते हैं कि फोन नए जैसा काम करें तो एक बार उसे फै​क्ट्री रिसेट या फिर हार्ड बूट कर दें तो ज्यादा बेहतर है।

हार्डबूट करने के लिए सबसे पहले फोन को आॅफ करें और पावर व वॉल्यूम डाउन या अप बटन को एक साथ प्रेस करके रखें। इससे आपका फोन बूट मोड में चला जाएगा। यहां टच स्क्रीन कार्य नहीं करेगा आपको अप डाउन के लिए वॉल्यूम बटन और ओके करने के लिए पावर बटन का सहारा लेना होगा। यहां आप रिसेट का आॅप्शन चुनें। एक बार जब फोन आॅन हो जाए तो आप पुन: अपने मेल और डाटा को ​फोन में रिस्टोर कर इसका उपयोग करें। डाटा रिसेट करने से फोन में उपलब्ध सभी तरह के बग खत्म हो जाएंगे और यह बिल्कुल नए फोन की तरह कार्य करेगा।