5G Launch: 5जी की कीमत इंडिया में हो सकती है कम, जानें कौनसा जुगाड़ करेगा काम

5g spectrum auction union cabinet approves 5g auction companies to launch 5g soon know how to get a 5g sim

5G Recharge Plans: 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी के पहले से ही 5G प्लान्स (5G Plan) की कीमत को लेकर लगातार यह सवाल उठ रहे हैं कि 5G रिचार्ज के लिए ग्राहकों से कितना चार्ज लिया जाएगा। ऐसा लगता है जैसे यह सवाल 5G Launch Date से भी बड़ा सवाल हो गया है। लेकिन, अब सामने आई रिपोर्ट के अनुसार इंडिया में अफोर्डेबल 5G (5G services) लाने के लिए भारत में फोन कंपनियां तेजी से दूरसंचार ऑपरेटरों के साथ गठजोड़ की योजना बना रही हैं। द इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, टेलीकॉम ऑपरेटर्स 5G सेवाओं (affordable 5G services to India) को बाजार में उतारने के लिए ऐसी योजनाओं को महत्वपूर्ण मान रहे हैं – जो कम से कम शुरू में अधिक कीमत पर आ सकती हैं।

5G services के साथ आएंगे phones

ET की रिपोर्ट में बताया गया है कि Relame की ओर से भारतीय दूरसंचार ऑपरेटर भारती एयरटेल के साथ एक किफायती 5G स्मार्टफोन लाने के लिए बातचीत की जा रही, जिसे ब्रांड की बजट स्मार्टफोन सी-सीरीज़ के तहत लॉन्च किया जाएगा। इंडस्ट्री सोर्स के अनुसार 5G प्लान के साथ बंड स्मार्टफोन अनलिमिडे डाटा, प्रीमियम मनोरंजन और गेमिंग कंटेंट के साथ पेश किया जा सकता है क्योंकि फोन निर्माता खरीदारों को अधिक महंगे 5G फोन बेचना चाहते हैं, और टेलीकॉम ज्यादा कीमत के बाजार में प्रयास करने का प्रयास करते हैं।

Adani Data Networks 5g service in india ambani jio 5g plan
भारत में 5G सेवाओं को संचालित करने के लिए आवश्यक नेटवर्क बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के लिए दूरसंचार ऑपरेटरों द्वारा किए गए लागत के कारण, 5G योजनाओं का प्रारंभिक रोलआउट देश में वर्तमान में 4G योजनाओं की लागत से काफी अधिक हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार, यह भारत जैसे मूल्य केंद्रित बाजार में उपभोक्ताओं से अपने पूंजीगत व्यय की वसूली के लिए फोन ब्रांड और टेलीकॉम दोनों के लिए एक बाधा हो सकती है।

5G network rollout in India October 2022 IT minister Ashwini Vaishnaw

इसके अलावा ईटी की रिपोर्ट में आगे एक विशेषज्ञ का हवाला देते हुए कहा गया है कि उपभोक्ता 5G सेवाओं को 4G की तुलना में बहुत तेज नहीं देखते हैं, जिसके लिए स्मार्टफोन के साथ बंडल 5G सेवाओं के रोलआउट की भी आवश्यकता होगी। आगे बढ़ते हुए, यह देखा जाना बाकी है कि क्या भारत भर में 5G की उपलब्धता बढ़ने के साथ ऐसी बंडल सेवाएं दूसरी कंपनियों द्वारा भी आएंगी या नहीं।

LEAVE A REPLY