Mobile Tower लगाने के नाम पर लोगों को लग रहा है लाखों का चूना! सरकार की चेतावनी, इन बातों का जरूर रखें ध्यान

    indian mobile users want to join bsnl network but disappointed know why

    5G Network आने को तैयार है। इंडियन मोबाइल यूजर सुपर फास्ट 5G Internet चलाने का इंतजार कर रहे हैं और इस साल के अंत तक भारत में 5G Service शुरू हो जाएगी। जैसे जैसे 5जी पास आ रहा है, वैसे वैसे 5जी सर्विस मुहैया कराने के नाम पर कई तरह के जालसाज भी मार्केट में सक्रिय हो गए हैं। एक नया 5G Mobile Tower Fraud सामने आ रहा है जिसे लेकर Telecom Ministry समेत Cellular Operators Association of India (COAI) और Digital Infrastructure Providers’ Association (DIPA) ने बड़ी चेतावनी जारी की है।

    टेलीकॉम इंडस्ट्री बॉडी डिजीटल इंफ्रास्टक्चर प्रोवाइडर्स एसोशिएशन (DIPA) तथा सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COAI) ने मोबाइल टॉवर फ्रॉड के खिलाफ चेतावनी जारी की है। पब्लिक नोटिस जारी करते हुए कहा गया है कि देश के कई ईलाकों में 5जी मोबाइल टावर लगने के नाम पर ठगी हो रही है। इस फ्रॉड के तहत आम जनता को उनकी जमीन पर टॉवर लगाने का ऑफर दिया जा रहा है तथा टॉवर लगवाने के बदले में उन्हें हर महीने किराए की मोटी रकम देने की बात कही जा रही है।

    How to check sar value of mobile phone in hindi

    Mobile Tower Fraud क्या है?

    यह बात लगभग सभी जानते हैं कि जिसकी जमीन पर मोबाइल टॉवर लगाया जाता है उसे टॉवर लगाने वाली कंपनी हर महीने कुछ पैसा किराए के तौर पर देती है। यह किराए की रकम काफी ज्यादा होती है और इसी वजह से बहुत से लोग चाहते हैं कि उनकी जमीनों पर या घर की छतों पर भी मोबाइल टॉवर लगाए जाएं। इन दिनों सक्रिय जालसाल जनता के इसी लालच का फायदा उठा रहे हैं और Mobile Tower लगाने के नाम पर लाखों का चूना लगा रहे हैं। यह भी पढ़ें : New Communication Rule कल से होंगे लागू, सरकार करेगी सभी फोन कॉल रिकॉर्ड! क्या आपको मिला यह मैसेज?

    इस Mobile Tower Fraud में फ्रॉड लोगों का ग्रुप लोगों से संपर्क स्थापित करता है तथा उनकी जगह पर मोबाइल टावर लगाने का ऑफर देता है। इन लोगों को बताया जाता है कि टॉवर लगवाने के बाद उन्हें किराए के तौर पर मोटी रकम भी दी जाएगी। पैसे के लालच में आकर जब आम जनता टॉवर लगवाने के लिए हॉं कर देती है तो उन्हें बताया जाता है कि इस प्रोसेस को पूरा करने के लिए सरकारी टैक्स के नाम पर कुछ पैसा जमा करवाना होगा।

    5g mobile tower installation frauds

    बस लाखों रुपये का किराया पाने के लालच में लोग टैक्स मनी उन लोगों को दे देते हैं, जिसके बाद वह पैसा पाकर से फ्रॉड लोग रफूचक्कर हो जाते हैं। भरोसा दिलाने के लिए ये जालसाज दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की नकली आईडी बनाकर घूम रहे हैं तथा प्रोसेस को असली दिखाने के लिए Mobile Tower लगवाने से पहले No Objection Certificate भी दे रहे हैं।

    फ्रॉड की कैसे करें शिकायत?

    सरकारी विभाग की ओर से एक ओर यहां मोबाइल टॉवर फ्रॉड के खिलाफ चेतावनी जारी की गई है वहीं साथ ही NCH यानी National Consumer Helpline का टोल-फ्री नंबर भी जारी किया गया है। सीओएआई की ओर से कहा गया है कि अगर आपके क्षेत्र में ऐसे ही तत्व सक्रिय हैं जो 5जी मोबाइल टॉवर लगाने की बात कर रहे हैं तो टोल-फ्री नंबर 1800114000 या 14404 पर कॉल करके सहायता मांगी जा सकती है।

    LEAVE A REPLY