5G बना खतरा! विमानों के इंजन और ब्रेकिंग सिस्टम हो रहे फेल, Air India सहित इन कंपनियों ने कैंसिल की उड़ानें

5g-network-deployment-american-airport-is-dangerous-air-india-cancel-flights-internet-service

5G का इंतजार इंडिया में बड़ी बेसब्री से किया जा रहा है। 5G Smartphones मार्केट में आ चुके हैं और अब लोग चाहते हैं कि जल्दी से 5G Network शुरू हो जाए और सुपर फास्ट स्पीड पर 5G Internet का लुफ्त उठाया जा सके। लेकिन 5जी की राह देख रहे लोगों के सामने आज इस सुपरफास्ट नेटवर्क का एक अलग ही चेहरा निकल कर सामने आया है। सिर्फ भारत ही नहीं अमेरिका व जापान समेत कई देशों के सामने अजीब समस्या आ खड़ी हुई है जहां 5G Technology शुरू होने की वजह से हजारों फ्लाइट्स कैंसिल करनी पड़ रही है।

Air India की चेतावनी

शुरूआत भारतीय विमान कंपनी से करें तो एयर इंडिया ने ट्वीट करते हुए बताया है कि अमेरिका के एयरपोर्ट्स पर आज से 5जी कम्यूनिकेशन्स डिप्लॉय किया जा रहा है और इस इंटरनेट सेवा के शुरू होने का सीधा असर विमान को उड़ाने और कंट्रोल करने वाले सिस्टम पर पड़ेगा। अनुमान लगाया जा रहा है इस नेटवर्क की वजह से हवाईजहाज अपना कंट्रोल खो सकते हैं और इसी डर की वजह से एयर इंडिया ने भारत से अमेरिका जाने वाली कई फ्लाइट्स को आज कैंसिल कर दिया है।

5g-network-deployment-american-airport-is-dangerous-air-india-cancel-flights-internet-service

आपातकाल की घोषणा

गौरतलब है कि अमेरिका में 5जी सर्विसेज शुरू होने से पहले ही सरकार को इस खतरे की चेतावनी दी जा चुकी थी। अमेरिका की पैसेंजर और कार्गो विमान कंपनियों के चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव्‍स ने एक पत्र के जरिये 5जी सर्विस शुरू होने के 36 घंटों के भीतर समस्या आने और इमरजेंसी एविएशन ‍क्राइसिस् पैदा होने की बात कही थी।

5G बना खतरा

अमेरिकन एयरपोर्ट्स को 5जी सर्विस बफर जोन बनाया जा रहा है और इसी की वजह से सारी समस्या पैदा हो रही है। प्राप्त जानकारी अनुसार 5जी की वजह से हवाईजहाज के altimeters पर असर पड़ सकता है। बता दें कि यही वह उपकरण होता है जिसके जरिये किसी स्थान की ऊँचाई मापी जाती है।

5g-network-deployment-american-airport-is-dangerous-air-india-cancel-flights-internet-service
अमेरिकन एयरपोर्ट्स के 5जी बफर जोन की समस्या – federal aviation administration

एयरलाइन कंपनियों का कहना है कि अमेरिका में 5G टेक्नोलोजी लागू होने की वजह से लो-विजिबिलिटी ऑपरेशंस में काफी परेशानी आ सकती है। वहीं साथ ही विमान के इंजन और ब्रेकिंग सिस्टम को लैंडिंग मोड में जाने से रुकावट पैदा हो सकती है और ऐसे में हवाईजहाज को एयरपोर्ट् पर लैंड करवाना बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है।

LEAVE A REPLY