इस खबर को पढ़ने के बाद क्या आप भी करेंगे अपना फेसबुक अकाउंट डिलीट?

after cambridge dada scam delete facebook trending

सोशल मीडिया के कई प्लेटफॉर्म हैं लेकिन फेसबुक की बात ही अलग है। आसान उपयोग और बेहतर फीचर्स की वजह से लोग इसके दिवाने हैं और हर मिनट इस पर अपडेट रहते हैं। परंतु हाल में जिस तरह की खबरें आई हैं वह यूजर्स को परेशान करने वाली हैं। दावा किया जा रहा है कि दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक से 5 करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी हो गया है। यह खबर मीडिया में आ गई और इसके बाद सोशल प्लेटफॉर्म पर हलचल मच गई है।

क्या है मामला
कहा जा रहा है कि कैम्ब्रिज एनालिटिका ने फेसबुक डाटा का उपयोग अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान किया और राष्ट्रपति ट्रंप को फायदा पहुंचाया। फर्म ने वोटर्स की राय जानने के लिए फेसबुक यूजर्स डेटा का उपयोग किया। इसके लिए कंपनी ने 5 करोड़ यूजर्स के डाटा का उपयोग मनमाने तौर पर किया। चुनाव के दौरान कंपनी ने एक सर्वे किया था जिसमें तकरीबन 2 लाख 70 हजार यूजर्स की प्रोफाईल्स से डिटेल्स सब्मिट हुई थी। इन 2,70,000 एफबी यूजर्स को इस सर्वे की जानकारी तक नहीं थी कि इनका डाटा और निजी जानकारी किसी अन्य के पास इक्ट्ठा है। ऐप में लोगों को यह बताया गया कि उनकी जानकारियां केवल अकादमिक रिसर्च के लिए इस्तेमाल की जाएंगी जबकि ऐसा नहीं था। ब्रिटेन के चैनल 4 के एक स्टिंग ऑपरेशन में कैम्ब्रिज एनालिटिका के सीईओ अलेक्जेंडर निक्स समेत फर्म के दूसरे टॉप एग्जिक्यूटिव कैमरे के सामने पकड़े गए। जियो सिनेमा पर आया ‘जियो किड्स’ ज़ोन, फ्री में देखें मूवी और ढ़ेर सारे कार्टून

फुटेज में साफ तौर पर देखा गया कि दोनों एक्जिक्यूटिव चुनाव के लिए किस तरह से फेक न्यूज और हनी ट्रैप सहित दूसरे हथकंडे अपना रहे हैं। हालांकि सबसे खास बात इसमें यह है कि इस डाटा चोरी स्कैम ने फेसबुक को कटघरे में खड़ा कर दिया है। खबर है कि ये सारे काम फेसबुक के जानकारी में हुए थे। हालांकि पहले फेसबुक बचता रहा लेकिन हाल में बयान जारी कर यूजर्स पर ही मामले को डाल दिया ​कि यूजर्स ने एक्सेस दी है तब जाकर निजी डाटा का उपयोग किया गया है। वीवो ने लॉन्च किया नॉच डिसप्ले और डुअल कैमरे वाला सस्ता स्मार्टफोन वाई85, प्री-आॅर्डर के लिए हुआ लिस्ट

फेसबुक को करना पड़ रहा है गुस्से का सामना
मामला तूल पकड़ने के बाद फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग भी बैकफुट पर हैं। इस मामले को लेकर अमेरिका और यूरोप के सांसदों ने उन्हें तलब किया है और सफाई मांगी है। इसके साथ ही डाटा चोरी के मामले में जांच की मांग की है।

हालांकि इतने से ही बात नहीं बनी। इसे लेकर फेसबुक को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। कंपनी के शेयर लगातार नीचे जा रहे हैं। एक दिन में ही कंपनी को लगभग 4 अरब रुपये का नुकसान हो चुका है। इतना ही नहीं लोगों ने अपने गुस्से का इजहार फेसबुक अकाउंट डिलीट कर भी किया है। यह ट्रेंड इतना तेजी से बढ़ा कि कुछ ही समय में ​ट्विटर पर डिलीट फेसबुक हैशटैग के साथ ट्रेंड करने लगा। लाखों लोगों ने डाटा प्राइवेसी की मांग को लेकर फेसबुक अकाउंट को डिलीट कर दिया।

कैसे करें फेसबुक अकाउंट डिलीट
इस स्कैम के बाद यदि आप भी अपना फेसबुक अकाउंट डिलीट करना चाहते हैं तो ऐप या डेस्कटॉप कहीं से कर सकते हैं। डेस्कटॉप से फेसबुक अकाउंट डिलीट करने के लिए सबसे पहले आपको दाईं ओर उपर में दिए गए ऐरो पर क्लिक करें और सेटिंग में जाएं। यहां आपको जनरल सेग्मेंट में मैनेज का आॅप्शन मिलेगा उसे क्लिक करें।

इसमें नीचे ही डिएक्टिवेट का आॅप्शन मिलेगा उसे क्लिक करने पर आपसे पासवर्ड मांगा जाएगा। पासवर्ड डालते ही डिएक्टिवेट हो जाएगा। इसके बाद आप फेसबुक सर्च बार से डिलीट सर्च कर उसे डिलीट कर सकते हैं या फिर आप इस लिंक पर क्लिक कर अपना अकाउंट डिलीट करें।

एंडरॉयड फोन से यदि आप अकाउंट डिलीट कर रहे हैं तो यह आॅप्शन आपको मेन्यू में जाकर नीचे स्क्रॉल करेंगे तो अकाउंट सेटिंग का विकल्प मिलेगा उसे क्लिक करें। यहां से आपको जनरल में जाना है। जनरल में नीचे की ओर मैनेज अकाउंट का आॅप्शन होगा। इसे क्लिक करते ही डिएक्टिवेट अकाउंट का विकल्प मिल जाएगा। इसके बाद ही आप अपना एफबी अकाउंट डिलीट कर पाएंगे।