जियो से पहले एयरटेल ने किया 5जी नेटवर्क ट्रायल शुरू

airtel starts 5g network trail in india

5जी मोबाइल तकनीक की चर्चा काफी समय से चल रही है। वहीं हाल में आईटीयू ने भी इसके ​लिए स्टैंडर्ड सेट कर दिया है। आईटीयू द्वारा 5जी मानक तय करने के बाद विश्व स्तर पर इसकी कोशिशें तेज हो गई है। भारत को अक्सर तकनीक में पीछे माना जाता है लेकिन 5जी को देखकर शायद पीछे नहीं होगा। भारत की नंबर मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी एयरटेल ने आज 5जी सर्विस के ट्रायल की घोषणा कर दी है। कंपनी ने इसके लिए चीनी वेंडर हुआवई के साथ समझौता किया है। एयरटेल ने हुआवई के साथ मिलकर गुड़गांव मानेसर में भारत का पहला 5जी एक्सपीरियंस सेंटर स्थापित किया है।

हालांकि यह फिलहाल परिक्षण के तौर पर है लेकिन भारत में 5जी की शुरुआत तो कपंनी ने कर ही दी है। एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कंपनी ने बताया कि 5जी रैन आॅपरेशन की शुरुआत भारत में 3.5गीगाहट्रर्ज बैंड और 5जी कोर व 50जीई नेटवर्क स्लासिंग राउटर पर किया। इस दौरान कंपनी अधिकतम 3जीबीपीएस तक की डाटा स्पीड पाने में सफल रही। खुशखबरी: अल्ट्रा फास्ट 5जी है तैयार, जल्द देगा दस्तक

5जी की इस सेटअप में हाई स्पीड डाटा को प्रदर्शित किया गया जो आईओटी, एआर और वीआर जैसी सर्विस को आसानी से प्रदान करने में सक्षम है। इस बारे में डायरेक्टर— नेटवर्क्स भरती एयरटेल, अभय सवारगांवकर का कहना है कि 5जी के लिए एक छोटा लेकिन बेहद ही महत्वपूर्ण कदम है। 5जी नेटवर्क आने के बाद ​काम करने और रहन सहन के तरीके में काफी बदलाव आने वाला है। 2019 में 19 कंपनियां लॉन्च करेगी 5जी सर्विस, नोकिया, शाओमी, ओपो और वीवो ने कर ली है तैयारी

गौरतबल है कि आल में ही 3जीपीपी ने विश्व भर में 5जी नेटवर्क के लिए लोगो सहित टावर्स और स्मार्टफोन के मानकों का निर्धारण कर दिया था। इसके बाद से आशा की जा रही थी कि 2019 तक 5जी नेटवर्क की शुरुआत हो जाएगा। मानक तय करने के बाद विश्व भर के आॅपरेटर्स इसके लिए नेटवर्क और रेडियो इंजीनियर इस पर कार्य कर सकेंगे। 3जीपीपी द्वारा 5जी के लिए मानक तय किए जाने के बाद कई बड़ी दिग्गज कंपनियों ने जल्द ही इस पर कार्य करने के लिए प्रतिबद्धता जताई थी। इसमें नोकिया, सैमसंग, क्वालकॉम, सोनी, एरिक्सन, वोडाफोन, एटीएंडटी, डोकोमो, एसके टेलीकॉम, चाइना मोबाइल, इंटेल, जेडटीई, हुआवई, स्प्रिंट और वेरियाइजन तक शामिल हैं।

वहीं आज भारत में एयरटेल द्वारा इसकी ​नींव रख दी गई है। वहीं आशा है​ कि जियो जैसे आॅपरेटर्स भी जल्द अपनी 5जी सर्विस के लिए घोषणाएं कर सकता है। क्योंकि कंपनी ने पहले भी कहा है कि जियो नेटवर्क 5जी रेडी है।