Android 11 में होंगे ये टॉप 5 फीचर्स, 3 जून को उठेगा नए ओएस से पर्दा

गूगल की ओर से Android 11 डेवलपर 4 प्रीव्यू को पेश कर दिया गया है जो कि Android के अगले वर्जन के लिए अंतिम डेवलपर प्रीव्यू माना जा रहा है। टेक जगत की दिग्गज कंपनियों में से एक Google अगले महीने से एंडरॉयड के लेटेस्ट वर्जन का बीटा वर्जन रोल आउट करना शुरू करेगी। दरअसल, कंपनी 3 जून को ‘Android 11: The Beta Launch Show’ नाम के एक ईवेंट का आयोजन करने वाली है। यह ईवेंट ऑनलाइन भारतीय समय के अनुसार 8:30 pm पर शुरू होगा।

android-11-new

हालांकि, हर साल गूगल अपनी Google I/O एनुअल कॉन्फ्रेंस में लेटेस्ट एंडरॉयड से पर्दा उठाता रहा है। लेकिन, कोरोनावायरस को देखते हुए कंपनी ने इस ईवेंट को कैंसिल कर दिया था। वहीं, अब ऑनलाइन ईवेंट के जरिए कंपनी लेटेस्ट एंडरॉयड डिवेलपमेंट के बीटा वर्जन को पेश करेगी। इसे भी पढ़ें: 6 जीबी रैम के साथ Google Pixel 4a सर्टिफिकेशन्स साइट पर लिस्ट, जल्द होगा लॉन्च

वहीं, यूजर्स की उत्सुकता को बढ़ाने के लिए गूगल ने एंडरॉयड 11 के कुछ फीचर्स से पहले ही पर्दा उठा दिया है। एंडरॉयड के लेटेस्ट वर्जन में यूजर सेंसिटिव डाटा और बेस्ट सिक्यॉरिटी फीचर दिए जाएंगे। आइए आगे आपको एंडरॉयड 11 में मिलने वाले कुछ खास फीचर के बार में जानकारी देते हैं। इसे भी पढें: MIUI 12 हुआ लॉन्च, देखें इसके शानदार फीचर्स जो बना देंगे Xiaomi स्मार्टफोंस को और भी खासस्क्रीन रिकॉर्डिंग

गूगल एंडरॉयड 11 के नेटिव स्क्रीन रिकॉर्डर फीचर को भी पेश करेगी। इस फीचर को क्विक सेटिंग्स टॉगल में जाकर ऐक्सेस किया जा सकेगा। इतना ही नहीं, एंडरॉयड 11 सपॉर्ट करने वाले डिवाइस में अगर ब्लूटूथ पहले से ऑन है तो यह फ्लाइट मोड के ऑन करते ही अपने आप ऑफ हो जाएगा।

छोटा होगा स्क्रीनशॉट पॉप-अप

Google इस नए एंडरॉयड वर्जन के साथ नया स्क्रीनशॉट पॉप-अप फीचर पेश करेगी। जब आप स्क्रीनशॉट को कैप्चर करेंगे तो वह बहुत छोटा दिखाई देगा जैसा कि आईओएस डिवाइस पर दिखाई देता है। स्क्रीन के टॉप पर एक बड़े पॉप-अप के बजाय स्क्रीनशॉट एक छोटे पॉप-अप के साथ सक्रीन के नीचे बाएं और दिखाई देगा। इसमें स्क्रीनशॉट शेयर और एडिट करने के ऑप्शन भी दिए जाएंगे। स्क्रीनशॉट साझा करने और इसे संपादित करने के लिए विकल्पों के साथ है।
android-11
कैमरा अपडेट

एंडरॉयड 11 में गूगल बोके मोड को भी पहले से अच्छा करने वाला है। वहीं, यूजर्स कैमरा यूज के दौरान रिंगटोन वाइब्रेशन, नोटिफिकेशन या अलार्म को म्यूट कर सकेंगे।

सिक्यॉरिटी होगी अपडेट

गूगल की कोशिश है कि वह एंडरॉयड 11 के साथ यूजर्स की सिक्यॉरिटी को और बेहतर बनाए। इसके लिए कंपनी बायोमीट्रिक्स सपोर्ट को बढ़ाएगी। इस बार तीन ऑथेंटिकेटर को सपोर्ट दिया जाएगा, जिसमें स्ट्रॉन्ग, वीक और डिवाइस क्रिडेंशल शामिल हैं। नए अपडेट में किसी ऐप को डिवाइस ऐक्सेस करने से पहले ओटीपी की जरूरत पड़ेगी।

ईथरनेट टेथरिंग

Android 11 में ईथरनेट टेथरिंग के रूप में हॉटस्पॉट और टेथरिंग मेनू में एक नया ऑप्शन मिलेगा। यह अनिवार्य रूप से लोगों को अपने एंडरॉयड फोन पर एक यूएसबी-टू-ईथरनेट एडेप्टर कनेक्ट करने और फिर लैन केबल को उस एडेप्टर और उनके पीसी से कनेक्ट करने की अनुमति प्रदान करेगा। यह एक अच्छा फीचर है लेकिन निश्चित रूप से तब मददगार होगा जब आप ऐसे डेस्कटॉप पर इंटरनेट इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे हों जिसमें वाई-फाई सपोर्ट न हो।

ऐप परमिशन में होगा सुधार

Google एंडरॉयड अपने पिछले वर्जन से ही एप्लिकेशन परमिशन को ठीक करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है और यह काम एंडकॉयड 11 के साथ भी जारी रहेगा। कंपनी ने एंडरॉयड 11 डेवलपर प्रीव्यू 3 में यह सामने आया था कि कुछ महीनों तक ऐप का उपयोग नहीं करने पर ऐप की परमिशन को रद्द कर देगा। इससे उपयोगकर्ता का अपने डाटा कम खर्च होगा।

गूगल पिक्सल 4ए एक्सएल स्पेसिफिकेशन
परफॉर्मेंस
आठ कोर(2.3 गीगाहर्ट्ज, सिंगल कोर + 2.2 गीगाहर्ट्ज, सिंगल कोर + 1.8 गीगाहर्ट्ज, हेक्सा कोर)
स्नैपड्रैगन 765
6 जीबी रैम
डिसप्ले
6.1 इंच (15.49 सेमी)
396 पीपीआई, ओएलईडी
कैमरा
12.2 एमपी + 8 एमपी डुअल प्राइमरी कैमरा
एलईडी फ्लैश
8 एमपी फ्रंट कैमरा
बैटरी
3900 एमएएच
फास्ट चार्जिंग
नॉन रिमूवेबल

LEAVE A REPLY