भारत में ही बनेगा नया एप्पल आईफोन एसई2, सस्ते में होगी सेल

know-how-to-stop-your-smartphone-from-overheating

एप्पल आईफोन 10 के बाजार में आने के बाद एप्पल कंपनी को लेकर तरह तरह की चर्चाऐं सुनने को मिल रही है। एक ओर जहां यह कहा जा रहा है कि नए आईफोन डुअल एलटीई सपोर्ट के साथ लॉन्च होंगे वहीं कई जगह से नए आईफोन में आॅक्टा-कोर प्रोसेसर होने की बात भी सामनें आई है। इस तमाम गॉसिप्स के बीच अब एप्पल द्वारा कम बजट में लॉन्च किए जाने वाले आईफोन एसई को लेकर भी नई जानकारी सामनें आई है। इसके मुताबिक एप्पल साल 2018 में जो आईफोन एसई2 पेश करेगी और उनका भारत में ही किया जाएगा।

कोरियन वेबसाइट ने अपनी रिपोर्ट में एप्पल आईफोन एसई2 का जिक्र करते हुए बताया है कि कंपनी नए साल के शुरूआती महीनों में ही अपने ये आईफोन अंर्तराष्ट्रीय बाजार में उतारेगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस फोन का निर्माण भारत के बेंगलुरु में स्थित एप्पल की मैन्युफैक्चरिंग प्लांट में ही किया जाएगा। तथा आईफोन एसई2 की​ बिक्री के लिए एप्पल का मुख्य टार्गेट भारत, इंडोनेशिया और दक्षिण ​एशियन बाजार होंगे।

iphone-se

भारत में बनने की वजह से यह लाज़मी माना जा रहा है कि आईफोन एसई2 की कीमत देश में काफी कम होगी तथा ये फोन मीड बजट में लॉन्च किए जाएगे। सामनें आए लीक्स पर गौर करें तो आईफोन एसई2 में 4-इंच की डिसप्ले देखने को मिलेगी तथा इसके फ्रंट पैनल पर होम बटन होगा जिसमें फिंगरप्रिंट सेंसर और टच आईडी होगी।

बड़ी बैटरी से लैस होगा शाओमी का नया फोन, फ्लिपकार्ट पर होगी एक्सक्सूसिव सेल

एप्पल आईफोन एसई2 में 2जीबी रैम और 32जीबी की इंटरनल स्टोरेज होगी। फोन के बैक पैनल पर जहां 12-मेगापिक्सल का रियर कैमरा होगा वहीं इसके फ्रंट पैनल पर 5-मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा देखने को मिलेगा। यह फोन ए10 फ्यूजन चिपसेट पर रन करेगा। माना जा रहा है कि साल 2018 की पहली तिमाही में यह फोन भारतीय बाजार में कदम रखेगा।

SHARE
Previous article4,130एमएएच बैटरी के साथ असूस ने अनाउंस किया अपना दूसरा बेज़ल लेस स्मार्टफोन
Next articleशाओमी रेडमी 5ए
मेरे लिखने से आपके पढ़ने तक, सब तकनीक है।Kamal Kant का मानना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 10 साल के अनुभव के दौरान ये विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों से जुड़ते हुए मीडिया के तीनों मंच - प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और डिजीटल मीडिया पर कार्य चुके हैं।