Jio के बाद BSNL ने शुरू की इस अनोखी टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग, बिना नेटवर्क सिग्नल के भी होगी कॉल

Xiaomi Samsung OPPO Vivo Realme indian smartphone market idc report

सरकारी टेलीकॉम कंपनी BSNL काफी समय से अपने प्लान्स के दम पर प्राइवेट कंपनी को टक्कर दे रही है। वहीं, अब कंपनी टेलीकॉम कंपनी के बाद पॉप्यूलर मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप को चुनौती देने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। दरअसल, BSNL ने भारत में अपने नई वॉयस ओवर वाई-फाई (VoWiFi) की टेस्टिंग शुरू कर दी है।

हालांकि, टेलिकॉम कंपनियों के लिए वॉट्सऐप किसी चुनौती से कम नहीं। फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी वॉट्सऐप ने बहुत हद तक एसएमएस और वॉयस कॉल को भी रिप्लेस काफी हद तक रिप्लेस कर दिया है। इसे भी पढ़ें: Jio ला रहा है अनूठी तकनीक, बिना नेटवर्क सिग्नल के भी हो सकेगी कॉल! टेस्टिंग हुई शुरू
bsnl
भारत में पहले से ही जियोचैट, हाइक और वीचैट जैसे प्लेटफॉर्म भी इस तरह की सर्विस दे रहे हैं। वहीं, अब बीएसएनएल ने वॉयस ओवर वाई-फाई (VoWiFi) की टेस्टिंग शुरू कर दी है। इसके लिए अलावा कुछ समय पहले जानकारी सामने आई थी कि जियो भी वॉयस ओवर वाई-फाई की टेस्टिंग कर रही है।

bsnl
जानें क्या है VoWi-Fi

VoWi-Fi यानि वॉयस ओवर वाई-फाई। फिलहाल इंडिया में VoLTE यानि वॉयस ओवर एलटीई सर्विस उपलब्ध है। VoLTE सर्विस में वॉयस कॉल को सिम नेटवर्क में मौजूद इंटरनेट के जरिये किया जाता है। साथ ही कॉल आने की स्थिति में भी फोन में इंटरनेट की स्पीड में कमी नहीं आती है। इसी तरह से VoWi-Fi में वॉयस कॉल करने के लिए सिम नेटवर्क और उसके इंटरनेट की भी जरूरत नहीं पड़ती है। यानि फोन में सिग्नल न होने पर भी किसी वाई-फाई नेटवर्क के जरिये कॉल की जा सकती है। इस तकनीक के जरिये वॉयस सर्विस को आईपी के माध्यम से वाई-फाई नेटवर्क पर डिलीवर किया जाता है।

इस अनूठी तकनीक के चलते उपभोक्ता बिना मोबाइल नेटवर्क के भी कॉल कर सकते हैं। VoWi-Fi का सबसे बड़ा फायदा दूर दराज के क्षेत्रों और ग्रामीण ईलाकों को मिलेगा जहां टेलीकॉम कंपनियों के टॉवर नहीं होते है और नेटवर्क कम आते हैं। इस तकनीक से कमजोर सिग्नल रहने पर भी बेहतर कॉलिंग का मजा लिया जा सकेगा और इंडोर या अंडरग्राउंड व बेसमेंट में भी बेहतर कनेक्टिविटी मिल सकेगी।

LEAVE A REPLY