अमेज़न ने मंगाया था फोन, बॉक्स में मिला साबुन

शॉपिंग साइट्स अधिक से अधिक लोगों को आर्कषित करने के लिए ‘स्पेशल सेल’ का अयोजन करती है। फ्लिपकार्ट व अमेज़न ने हाल ही में दिवाली के मौके पर अनेंको आॅफर्स व डील्स के साथ शॉपिंग सेल का आयोजन किया था, जिनमें पूरे देश के लोगों ने अपनी पसंद की चीजें खरीदी थी। इन वेबसाइट्स पर अलग अलग ब्रांड्स के स्मार्टफोंस भी बेहद कम प्राइस व डिस्कांट पर बिके थे। लेकिन जरा सोचिए आपने बड़े ही चाव से शॉपिंग साइट से अपना पसंदीदा फोन मंगाया हो और बदले में फोन के बॉक्स में आपको साबुन मिले तो क्या हो! ऐसा ही एक वाक्या सामने आया है जिसमें स्मार्टफोन के बॉक्स में फोन की जगह साबुन मिला है।

यह मामला ग्रेटर नोएडा का है। ग्रेटर नोएडा स्थित गौर सिटी में रहने वाले विशाल त्यागी ने नामी ई-कॉमर्स साइट अमेज़न इंडिया पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अमेज़न से स्मार्टफोन मंगाया था लेकिन जब फोन डिलीवर हुआ तो फोन के बॉक्स में स्मार्टफोन की बजाय साबुन और एक घड़ी निकली। खरीदे गए स्मार्टफोन का नाम तो सामने नहीं आया है लेकिन विशाल ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया है कि अमेज़न से उन्होंने 15,000 रुपये की कीमत वाला स्मार्टफोन आॅर्डर किया था। लेकिन फोन के बॉक्स में साबुन और घड़ी मिली है।

online-shop

अमेज़न पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए विशाल त्यागी ने कंपनी के कंट्री हेड अमित अग्रवाल सहित चार लोगों पर आईपीसी की धारा 420, 406 और 120बी के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस रिपोर्ट में विशाल के बताया है कि फोन खरीदने के लिए उन्होंने अपने क्रेडिट कार्ड के 15,000 रुपये का भुगतान भी कर दिया था। 27 अक्टूबर को उन्हें कूरियर कंपनी द्वारा पार्सल के जरिये फोन प्राप्त हुआ। फोन पाने की खुशी में जब विशाल ने वह पार्सल खोला तो उसमें से फोन नदारद था और फोन के बदले बॉक्स में साबुन और एक घड़ी निकली।

इस फ्रॉड के बाद पुलिस ने शिकायत कर जॉंच शुरू कर दी है। खबर लिखे जाने तक अमेजन इंडिया की ओर से कोई बयान नहीं आया है। बहरहाल आॅनलाईन शॉपिंग के नाम पर धोखाधड़ी का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी स्मार्टफोन के बॉक्स में ईंट, साबुन व खाली कागज मिलने के मामले सामने आते रहे हैं। इस तरह के फ्रॉड एक ओर जहां शॉपिंग साइट्स की साख पर बट्टा लगाते हैं वहीं आम जनता में भी आॅनलाईन शॉपिंग के प्रति डर पैदा करते हैं।