जानें क्यों बैन हुआ इंटेक्स का एक्वा स्मार्टफोन

देश की दूसरी सबसे बड़ी मोबाईल हैंडसेट निर्माता कंपनी इंटेक्स को एक दिल्ली हाई कोर्ट के एक फैसले से करारा झटका लगा है। दिल्ली हाई कोर्ट ने इंटेक्स के एक्वा ब्रांड में प्रयोग किए ट्रेडमार्क लोगो पर ट्रेडमार्क एक्ट के उल्लघंन करार देते हुए एक्वा के सभी मोबाईल डिवाइस और एक्सेसरीज़ के निर्यात और ब्रिकी पर रोक लगा दी है।

7,000 एमएएच बैटरी और डुअल कैमरे के साथ लॉन्च हुआ जियोनी का यह प्रीमियम फोन

एक्वा मोबाईल्स द्वारा इंटेक्स कपंनी के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दर्ज की गई थी कि इंटेक्स की एक्वा सीरीज़ के तहत बनने वाले मोबाईल फोन तथा अन्य डिवाइस के निर्माण में एक्वा मोबाईल्स के ट्रेडमार्क लाइसेंस की अनदेखी करते हुए कानून का उल्लंघन किया गया है।

intex-cloud-scan-fp 91Mobiles

एक्वा मोबाईल्स की याचिका की सुनवाई के बाद हाई कोर्ट की ओर से जारी अंतरिम फैसले में इंटेक्स को दो हफ्तों के भीतर अपना पूरा स्टॉक निकालने को कहा गया है। जस्टिस जी एस सिस्तानी ने अपना फैसला सुनाते हुए आदेश ​दिया है कि तय किए गए दो सप्ताह के बाद इंटेक्स कंपनी के किसी भी कार्य से जुड़ा किसी भी कार्य श्रेणी का कोई भी आंतरिक व बाहरी कर्मचारी एक्वा ट्रेडमार्क या उससे मिलते-जुलते किसी भी प्रोडक्ट का न ही इस्तेमाल करेगा और न ही किसी अन्य तक पहुंचाएगा।

जानें कैसे रखें अपने फोन को वायरस से सुरक्षित

आपको बता दें कि एक्वा मोबाइल्स ने साल 2013 में इंटेक्स कंपनी के एक्वा सीरीज़ के प्रोडक्ट्स के खिलाफ याचिका दर्ज की थी। एक्वा मोबाइल्स के अनुसार वह वर्ष 2009 से ही एक्वा ट्रेडमार्क वाले फोन बेच रही है और इंटेक्स कंपनी द्वारा प्रयोग किया जा रहा एक्वा का ट्रेडमार्क उनके ट्रेडमार्क से मेल खाता है। और इस वजह से एक्वा कंपनी अपने उत्पादों की ब्रिकी में हानि उठाने को मजबूर है।