Dizo GoPods D Review: लो बजट और ट्रेंडी लुक है इसकी शान

बजट TWS (ट्रू वायरलेस स्टीरियो) शानदार डिजाइन और अच्छी ऑडियो क्वालिटी के साथ भारतीय बाजार में बहुत मुश्किल से मिलते हैं। हालांकि, अगर आप कम कीमत वाले TWS की तलाश कर रहे हैं तो Realme Buds Q को एक ऑप्शन के तौर पर देखा जा सकता है, जिसकी शुरुआती कीमत 1,899 रुपए है। वहीं, इस TWS और दूसरे बजट कैटेगरी वाले TWS को चुनौती देने के लिए कुछ समय पहले रियलमी के टेकलाइफ ब्रांड Dizo ने भारतीय बाजार में Dizo GoPods D TWS ईयरबड्स को पेश किया था। Dizo GoPods D को एक किफायती ईयरबड्स है जिसे हमने रिव्यू के लिए काफी लंबे समय तक इस्तेमाल किया है। इस दौरान हम अपने एक्सपीरियंस को इस रिव्यू के माध्यम से आपसे शेयर करेंगे, जिससे आप इसे खरीदने और न खरीदने का फैसला कर पाएंगे। आइए जानते हैं कैसा है यह ईयरबड्स?

Dizo GoPods D Review का डिजाइन और बिल्ड क्वालिटी

डीजो के इस ईयरबड्स की डिजाइन काफी हद तक Realme Buds Q2 (रिव्यू) जैसा ही लगता है। दोनों में अंतर सिर्फ इतना है कि रियलमी बड्स क्यू2 के बड्स का टच पैनल रिफ्लेक्टिव है और Dizo GoPods D के दोनों बड्स पर टेक्चर से लैस हैं। दरअसल, कुछ समय पहले ही हमने Realme Buds Q2 इस्तेमाल किए तो दोनों में एक बार देखकर फर्क बाताना काफी मुश्किल था। लेकिन, टच और फील के साथ केस पर छपी ब्रांडिंग से साफ हो जाएगा कि डिजो का TWS कौनसा है। इसे भी पढ़ें: Realme Buds Q2 रिव्यू: लो बजट में ढेर सारे फीचर्स से लैस एक शानदार TWS

dizo-go-pods-d-review-hindi

Dizo GoPods D को ब्लैक और व्हाइट कलर में खरीदा जा सकता है। रिव्यू के लिए हमारे पास ब्लैक वेरिएंट आया था। चार्जिंग केस के साथ ईयरबड्स आपकी जेब में आसानी से फिट हो जाते हैं। साथ ही इसका वजन काफी हल्का है, जिससे आपको इन्हें जेब में रखने में कोई परेशानी नहीं होगी। चार्जिंग के लिए केस में माइक्रो यूएसबी पोर्ट है जो कि पीछे की ओर है। हालांकि, यही इसका सबसे बड़ा माइनस प्वाइंट भी है क्योंकि आज के समय में बजट कैटेगरी वाले स्मार्टफोन से ही टाइप-सी चार्जर कंपनियों द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है। इसलिए इस TWS को चार्ज करने के लिए आपको बार-बार अपने चार्जर में माइक्रो यूएसबी लगाने की जरुरत होगी जो कि कभी-कभी काफी इरिटेशन पैदा कर देता है।

Realme Dizo

इसके अलावा इस केस के फ्रंट में बैटरी इंडिकेटर दिया गया है। बड्स मैटे फिनिश के साथ आता है और टच थोड़ा ग्लॉसी है। कानों में फिटिंग अच्छी है, थोड़ी एक्टिविटी होने पर गिरने का डर रहता है। लेकिन, नॉर्मल रनिंग और साइकलिंग में मेरे इस्तेमाल के दौरान ऐसा नहीं हुआ। हालांकि,, ऑफ रोड साइकलिंग में इनके कान से निकलने के चांस ज्यादा थे इसलिए मैंने ऐसी सड़कों पर इनका इस्तेमाल न करना ही ठीक समझा। अगर बात करें बिल्ड क्वॉलिटी की तो लो बजट में आने के कारण इसकी बिल्ड क्वालिटी काफी लो लगती है। इसमें कुछ खास नहीं है लेकिन अपनी कीमत के हिसाब से ठीक-ठाक कही जाएगी। कंपनी ने इसका केस हार्ड प्लास्टिक का दिया है।

Dizo GoPods D Review का परफॉर्मेंस और साउंड क्विलिटी

Realme और Dizo के दूसरे ईयरफोन्स की तरह ही इसे भी रियलमी लिंक एप से कनेक्ट किया जा सकता है। इस ऐप के माध्यम से आप साउंड की तीन प्रोफाइल का आनंद ले सकते हैं जो कि डायनेमिक, Bass Boost+ और Bright हैं। इस ऐप का इस्तेमाल करने के दौरान मुझे डायनेमिक मोड में ऑडियो क्वॉलिटी क्रिस्टल क्लियर मिली। इसके अलावा Bass Boost+ में वॉल्यूम ज्यादा करने पर थोड़ी परेशानी जरूर हुई। दरअसल, बास का इफेक्ट गाने की अवाज को दबा देता है। वहीं, ब्राइट के दौरान म्यूजिक सुनने में काफी अच्छा लगा। ऑडियो प्रोफाइल बदलने पर ज्यादा फर्क आपको नहीं मिलेगा।

dizo-buds-d

लेकिन, थोड़ा बहुत फर्क ही आपको म्यूजिक सुनने के अहसास को अलग कर देगा। रिव्यू के लिए हमने Dizo GoPods D को OnePlus 8 Pro के साथ इस्तेमाल किया, हमें कोई दिक्कत नहीं हुई। वहीं, कॉलिंग के दौरान भी आवाज सुनने में कोई परेशानी नहीं हुई। साथ ही दोनों बड्स में टेक्चर से गाने बदले, कॉल रीसीव व कट की जा सकती है। साथ ही यह बड्स इंस्टेंट कनेक्शन के साथ आते हैं। इसका मतलब है कि अगर आपने किसी डिवाइस के साथ Dizo GoPods D पेयर्ड है तो केस से निकालते ही बड्स कनेक्ट हो जाते हैं। इसके अलावा इसमें दी गई नॉयस कैंसलेशन कॉलिंग के दौरान उतना काम नहीं करती, जितना कि कंपनी ने दावा किया है। कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि इसकी कीमत को देखकर इसमें म्यूजिक सुनने का एक्सपीरियंस अच्छा था। इसे भी पढ़ें: Realme Dizo Wireless रिव्यू: दमदार साउंड क्वालिटी इसे बनाती है Winner

Dizo GoPods D की बैटरी

अगर बात करें Dizo GoPods D की बैटरी लाइफ की तो बड्स के केस में 400mAh की बैटरी दी गई है, जबकि दोनों बड्स में 40mAh की बैटरी दी गई है। कुल मिलाकर आपको इसके साथ लगभग 18 घंटे तक का बैकअप मिलता है। ऐसे में इसे अच्छा बैटरी बैकअप कहा जाएगा। Dizo GoPods D के साथ फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट नहीं है। इसलिए इसे फुल चार्ज करने में लगभग 2 घंटे 30 मिनट का समय लगता है।

निष्कर्ष

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि 1,500 रुपए की रेंज में Dizo GoPods D एक अच्छे ईयरबड्स हैं। अगर कंपनी इसकी बिल्ड क्वालिटी पर थोड़ा और काम करे तो Dizo के TWS वैल्यू फॉर मनी प्रोडक्ट की लिस्ट में टॉप पर पहुंच जाएंगे। वहीं, मेरे पर्सनल एक्सपीरियंसए के हिसाह इसका डिजाइन, लाइटवेट और ट्रेंडी लुक भी इसके पक्ष में जाते हैं। अगर आप एक लो बजट वाले TWS को खरीदने का विचार कर रहे हैं तो इसे खरीदा जा सकते है।

Pros

  • लाइट और ट्रेंडी डिजाइन
  • सॉलिंड बैटरी लाइफ
  • बेहतर साउंड क्वालिटी

Cons

  • चार्जिंग के लिए माइक्रोयूएसबी पोर्ट
  • बिल्ड क्वालिटी करेगी निराश
  • नॉइस कैंसिलेशन नहीं कमाल का

LEAVE A REPLY