क्या आपने भी ऑर्डर किया Dominos से Pizza तो बड़ी मुसीबत कर रही आपका इंतजार

अगर आप भी Domino’s का पिज्जा खाने के शौकीन हैं तो जरा इस खबर को ध्यान से पढ़ें, क्योंकि यह आपके लिए बेहद जरूरी खबर है। दरअसल, सिक्योरिटी एक्सपर्ट ने बताया है कि फेमस पिज़्ज़ा डिलीवरी और सर्विस ऐप डोमिनोज पिज्जा के 18 करोड़ डिलीवरी डीटेल लीक हो गई है। सिक्योरिटी एक्सपर्ट की मानें तो यूजर्स के 13000 GB डाटा डिटेल डार्क वेब पर उपलब्ध हैं। इस खबर के सामने आने के बाद उन सभी लोगों को अपने डाटा को लेकर डर लग रहा है, जिन्होंने कभी न कभी अपने या अपने परिवार वालों के लिए डोमिनोज से पिज़्ज़ा ऑर्डर किया था।

Dominos डाटा लीक

साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर Rajshekhar Rajaharia ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने अपने ट्विट में कहा कि डोमिनोज इंडिया के 18 करोड़ ऑर्डर का डेटा पब्लिक हो गया है। हैकर ने डार्क वेब पर इसका एक सर्च इंजन बनाया है। अगर आपने कभी डोमिनोज इंडिया को ऑनलाइन ऑर्डर किया है, तो आपका डेटा लीक हो सकता है। लीक डाटा में नाम, ईमेल, मोबाइल, जीपीएस लोकेशन, आदि शामिल है।”

Dominos डाटा लीक से क्या होगा?

Rajaharia डाटा लीक का खुलासा करने के साथ ही कहा है कि हैकर्स इस डाटा की मदद से आपकी जासूसी कर सकते है। क्योंकि कोई भी व्यक्ति जिसके पास किसी दूसरे व्यक्ति का मोबाइल नंबर है, वह डेट और टाइम के साथ अपने पिछले लोकेशन भी चेक कर सकता है।

dominos-pizza

कैसे पता करें कि आपका डोमिनोज़ का डेटा लीक हुआ है या नहीं?

अगर आपने भी कभी डोमिनोज पिज्जा ऑनलाइन ऑर्डर किया है तो आप यह जरूर जानना चाहेंगे कि कहीं आपकी जानकारी चोरी तो नहीं हुई है तो इस बात की जानकारी हासिल करने का एक तरीका हम आपको बताते हैं। सबसे पहले आपको सबसे पहले Tor ब्राउजर डाउनलोड करना होगा। डाउनलोड करने के बाद इस पर आप एक लिंक के जरिये अपनी जानकारी खोज सकते हैं। लेकिन, इस बड़े डाटाबेस में आपकी जानकारी सर्च करनी होगी।

कंपनी ने डेटा लीक की बात मानी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारत में डोमिनोज पिज्जा चेन चलाने वाली कंपनी जुबिलेंट फूडवर्क्स ने डाटा लीक होने की बात मानी है। लेकिन, कंपनी का कहना है कि उसके ग्राहकों की फाइनेंशियल इनफार्मेशन सुरक्षित हैं। कंपनी का कहना है कि पेमेंट से जुड़ी जानकारी सर्वर पर सेव नहीं की जाती इसलिए वह सुरक्षित हैं।

LEAVE A REPLY