जियो क्वाइन के नाम पर चल रहा है फर्जीवाड़ा, कंपनी ने किया अगाह

कुछ दिन पहले ही खबर आई ​थी कि रिलायंस जियो अब बिटक्वाइन की तरह अपना क्रिप्टो करेंसी ला सकता है और इसका नाम जियोक्वाइन होगा। इस खबर ने इंटरनेट जगत में हलचल पैदा कर दी। हालांकि अब तक रिलायंस जियो की ओर से इस बारे में कोई भी अधिकारिक बयान नहीं आया था लेकिन इससे पहले ही इंटरनेट पर कई फर्जी ऐप और वेबसाइट्स आ चुके हैं जो जियोक्वाइन के नाम पर यूजर्स से क्रिप्टोकरंसी में इनवेस्ट करने के लिए कह रहे हैं।

पिछले कुछ दिनों से जियो के नाम पर चल रहे ये फर्जी ऐप और वेबसाइट काफी सुर्खियां बटोर रहे ​थे अन्तत: कंपनी को एक प्रसे विज्ञप्ति जारी कर इस बारे में ग्राहकों को अगाह करना पड़ा। रिलायंस जियो ने ग्राहकों के लिए जरुरी सूचना जारी की है जिसमें कंपनी ने जियोक्वाइन नाम पर तरह के किसी भी ऐप को डाउनलोड करने या उसमें पैसा इनवेस्ट करने से मना किया है। कंपनी ने जानकारी दी है कि इस तरह का कोई भी ऐप रिलायंस जियो की ओर से लॉन्च नहीं किया गया है। रोशनी से चलेगा इंटरनेट, 10जीबी प्रति सेकेंड की होगी स्पीड, इंडिया ने ईजाद की अनूठी तकनीक

कंपनी ने अपने स्टेटमेंट में कहा है ​कि रिलायंस जियो, जियो के नाम पर जनता को भ्रमित करने के लिए जालसाज लोगों द्वारा इस तरह की धोखाधड़ी के प्रयासों के प्रति गंभीर है और जो भी लोग इस तरह कार्य में लिप्ट हैं उनके प्रति उचित कानूनी कर्रवाई करेगा। नोकिया ने दिखाई 5जी चिप, 84जीबीपीएस की गति से चलेगा इंटरनेट

रिलायंस जियो के क्रिप्टोक्वाइन बाजार में दस्तक देने की खबर आने के बाद गूगल प्लसे स्टोर पर 22 से ज्यादा फर्जी ऐप तैयार हो चुके हैं जिनमें जियोक्वाइन, जियो क्वाइन बाई, जियो क्वाइन क्रिप्टोकरेंसी और जियो क्वाइन मार्केट कैप जैसे ऐ​प शामिल हैं।