टिक टॉक वीडियो बनाते वक्त चली गोली, युवक की मौत

filming-tiktok-video-delhi-teen-shot-dead-pistol-3-arrested

टिकटॉक का यूज़ आप करते हो या न करते हो, लेकिन इसका नाम आप सभी ने जरूर सुना होगा। टिकटॉक ऐप इन दिनों काफी ट्रेंड में है। अभी तक जहां यह देखा जाता था कि किसी भी ऐप का ट्रेंड सबसे ज्यादा शहरों में होता था लेकिन टिकटॉक ने गांव व देहात को भी अपने रंग में रंग लिया है। टिकटॉक को लेकर मिलीजुली प्रतिक्रिया आती रही है। पिछले दिनों टिकटॉक पर ​अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाते हुए मद्रास हाईकोर्ट ने इसे बैक करने की मांग सुप्रीम कोर्ट से की थी। वहीं आज एक सनसनीखेज़ मामला सामने आया है जिसमें टिकटॉक पर वीडियो बनाते वक्त गोली चल जाने से एक युवक की मौत हो गई है।

टिकटॉक ने ले ली जान

यह हैरान कर देने वाला वाक्या राजधानी दिल्ली का है। पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक इस वीकेंड पर मतृक सलमान अपने दो दोस्तों आमिर और सोहेल के साथ घूमने गया था। ये तीनों रात के वक्त गाड़ी में थे। सलमान गाड़ी चला रहा था। सोहेल सलमान की साईड वाली सीट पर था और आमिर पीछे वाली सीट पर बैठा था। गाड़ी में ही सोहेल टिकटॉक ऐप ओपर करके वीडियो बनाने लगा।

वीडियो बनाने के लिए सोहेल ने अपनी पिस्तौल हाथ में ले ली और सलमान की तरफ निशाना साधने लगा। टिकटॉक वीडियो बनाने में सोहेल इतना मशगूल हो गया कि उसके हाथ से ट्रिगर दब गया तथा पिस्तौल की गोली सीधे सलमान के गाल पर जा लगी। कुछ देर बाद जब सलमान को अस्पताल ले जाया गया तो वहां डाक्टरों ने सलमान को मृत घोषित कर दिया।

filming-tiktok-video-delhi-teen-shot-dead-pistol-3-arrested

पुलिस ने हालांकि आर्म्स एक्ट और हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। लेकिन इतनी बड़ी गलती और अपने दोस्त को खोने से दोनों युवा गहरे सदमे में हैं। पुलिस बेशक मामले की पूरी तफ्तीश में जुटी है लेकिन प्रथमदृष्टया इस हादसे की वजह टिकटॉक पर वीडियो बनाए जाने को ही माना जा रहा है। टिकटॉक की वजह से हुए हादसे ने पूरे देश को चौंका कर रख दिया है।

पहले भी हुए हैं हादसें

आपको बता ​दें​ टिकटॉक की वजह से पहले भी कई जगहों से हादसे होने की खबरे सामने आती रही है। टिकटॉक पर स्टंट करने के दौरान कई युवा जख्मी हो चुके हैं। वहीं दूसरी ओर टिकटॉक पर यह आरोप भी लगाया जा चुका है कि इस ऐप के चलते युवा ​अश्लील ​गतिविधियों में भी संलिप्त हो रहे हैं। लड़कें व लड़कियां टिकटॉम पर फेमस होने के लिए न्यूडिटी का सहारा ले रही है।

लगे हाथ आपको यह भी बता दें कि मद्रास हाईकोर्ट ने भी टिकटॉक पर बैन की पैरवी करते हुए यही कहा था कि इस ऐप की वजह से न्यूडिटी को बढ़ावा मिल रहा है तथा देश का युवा ​गलत दिशा में जा रहा है। लेकिन मद्रास हाईकोर्ट की इस अपील को सुप्रीम कोर्ट की ओर से खारिज कर दिया गया है यानि फिलहाल भारत में टिकटॉक बैक होने के कोई आसार नहीं है।

SHARE
Previous articleRedmi Note 7 Pro को टक्कर देने आ रहा Realme 3 Pro, फ्लिपकार्ट पर हुआ लिस्ट
Next articleTagg Flex रिव्यू: छोटे पैक में बड़ा धमाका
लैपटॉप की 'की' से लेकर मोबाईल की 'हैलो' तक, सबकुछ तकनीक है। बस इसी को समझा और इसी को लिखा। इनका मानना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 6 साल के अनुभव के दौरान ये मीडिया के तीनों मंचों- प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और सोशल मीडिया पर कार्य चुके हैं।

LEAVE A REPLY