देखें एक झलक नोकिया 3310 की, 17 साल बाद कैसा हो गया है यह फोन

बार्सिलोना चल रहे मोबाइल वर्ल्ड कॉन्ग्रेस 2017 में इस बार एक से एक महंगे फोन प्रदर्शित हुए लेकिन लोगों की जुबान पर ​जिस फोन का नाम सबसे ज्यादा था वह था नोकिया 3310 फीचर फोन। जिसे कंपनी 17 सालोंं बाद दोबारा लॉन्च कर रही है। हर कोई इसे सबसे पहले देखना चाहता था और उसमें हम भी एक थे। अंतत: वह समय आ ही गया जब नोकिया का यह फोन हमारे हाथों में आया और हमने ​भी बिना देर किए आपके लिए इसकी पहली झलक पेश कर दी।

डिजाइन
nokia-3310_1
फोन के डिजाइन को देखकर कहा जा सकता है कि 17 सालों बाद नोकिया 3310 काफी स्मार्ट हो गया है। जैसा कि आप देख सकते हैं डिजाइन में कपंनी ने इसे पहले से ज्यादा आकर्षक बना दिया है। पुराना नोकिया 3310 जहां बहुत भारी था वहीं यह फोन हल्का और बेतरीन है। इसके अलावा पहले से काफी पतला भी हो गया है। फोन की बिल्ड क्वालिटी शानदार कही जा सकती है और बटन काफी बेहतर हो गए हैं और बड़े—बड़े कीपैड में टाइपिंग भी बेहतर होगी। वहीं इस बार पिन चार्जर के बजाय आपको माइक्रा यूएसबी चार्जर मिलेगा।

मोटो जी4 प्लस बनाम मोटो जी5 प्लस, जानें कौन फोन है दमदार

डिसप्ले
नोकिया 3310 के इस नए अवतार में आपको 2.4-इंच की स्क्रीन देखने को मिलेगी जो फीचर फोन के लिहाज से काफी अच्छा कहा जाएगा। हालांकि 5.5 इंच स्क्रीन वाले फोन के जमाने में आप इसमें वीडियो देखना पसंद नहीं करेंगे लेकिन याद रहे कि यह एक फीचर फोन है।

कनेक्टिविटी
nokia-3310-usb
नोकिया 3310 में दोहरा सिम सपोर्ट है और आप इसमें 2जी कॉल का ही उपयोग कर सकते हैं। इसमें आपको 3जी या 4जी सपोर्ट नहीं मिलेगा। कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि कंपनी ने इसे खास तौर से कॉलिंग और मैसेजिंंग के लिए पेश किया है और इस बात का जिक्र लॉन्च के दौरान भी किया गया।

शाओमी रेडमी नोट 4 और लेनोवो के6 पावर में जानें कौन है ताकतवर फोन

पावरफुल बैटरी
नोकिया 3310 को कंपनी ने ताकतवर बैटरी के साथ पेश किया है। फोन में 1,200 एमएएच की बैटरी दी गई है। कंपनी ने 24 घंटे टॉकटाइम और एक महीने का स्टैंडबाइ टाइम का दावा किया है। हालांकि अपने छोटे से परिक्षण के दौरान हम इस बात को पूरी तरह से जांच नहीं सके। इसलिए बैटरी कैसी है इस बारे में पूरी जानकारी नहीं दे सकते।

कैमरा
nokia-3310-camera
जहां पहले वाले नोकिया 3310 में कैमरा नहीं था वहीं इस बार कंपनी ने 2-मेगापिक्सल के कैमरे से लैस किया है। कैमरे के साथ आपको फ्लैश भी मिलेगा। जहां तक पिक्चर क्वालिटी की बात है तो इस शुरुआती परिणाम औसत मिले। अच्छे हैं बहुत अच्छे नहीं।

सॉफ्टवेयर
नोकिया 3310 को ​एस30 सीरीज के आॅपरेटिंग सिस्टम पर पेश किया गया है। हालांकि इस बार ओएस थोड़ा अडवांस है और आपको ओपेरा ब्राउजर मिलेगा। अर्थात नए 3310 में इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।

स्नेक गेम
nokia-3310-snake
आप नोकिया 3310 फोन की कल्पना बिना स्नेक गेम के कर ही नहीं सकते और इस फोन को कंपनी ने स्नेक गेम के साथ पेश किया है। हालांकि इस स्नेक गेम को खेलने का तरीका वही है लेकिन इस बार अहसास अलग होगा। ग्राफिक्स काफी अच्छे हो गए है और आपको कीपैड से ही खेलना है। ऐसे में मजा वही है।

कुल मिलाकर देखा जाए तो कहा जा सकता है कि नोकिया 3310 का यह नया अवतार पहले की अपेक्षा उपभोक्ताओं को काफी लुभाएगा और शानदार डिवाइस है भी। सिर्फ लोग 3जी और 4जी की कमी कह सकते हैं लेकिन याद रहे कि इन नेटवर्क पर आपको लंबी बैटरी बैकअप नहीं मिलेगा। जहां तक कीमत की बात है तो इसे 3,500 रुपये तक भारत में आने की आशा है यदि इससे कम कीमत भी हो तो बेहतर कहा जाएगा और शायद एक बार फिर से यह इतिहास दोहराने में सफल होगा।

SHARE
Previous articleइन मामलों ने नये नोकिया 3310 का नहीं कोई मुकाबला
Next articleभारत आ रहा है नोकिया का पहला एंडरॉयड स्मार्टफोन नोकिया 6
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 15 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 13 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।