एंडरॉयड ओ का डेवलर्स प्रीव्यू लॉन्च, नए एंडरॉयड में हैं कई नए फीचर्स

Photo: techcrunch.com

जैसा कि मालूम है हर साल गूगल एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम का नया संस्करण पेश करता है और यह संस्करण अल्फाबेट के आधार पर होते हैं। पिछले साल कंपनी ने एंडरॉयड एन को पेश किया था जिसे बाद में नुगट नाम दिया गया। वहीं गूगल द्वारा एंडरॉयड ओ का डेवलपर्स प्रीव्यू लॉन्च कर दिया गया है और कंपनी का दावा है​ कि नया एंडरॉयड कई मामलों में खास होगा।

इसके साथ ही कंपनी ने कई खास फीचर्स का खुलासा भी किया है। जिसमें बैकग्राउंड लीमिट्स, नोटिफिकेशन चैनल्स, आॅटोफील और अडैप्टिव आईकॉन जैसे फीचर्स के बारे में जानकारी दी है। जैसा कि मालूम है पिछले कुछ संस्करण से गूगल फोन के बैटरी परफॉर्मेंस पर भी काफी ध्यान दे रहा है। इस बार भी कंपनी ने कुछ नया किया है। बैकग्राउंड लिमिट में कंपनी ने एप्स को इंप्लिसिट ब्रॉडकास्ट, बैकग्राउंड सर्विस और लोकेशन अपडेट सहित तीन भागों में बांट दिया है। इससे बैकग्रांउड में रन कर रहे ऐप्स को मैनेज करने में आसानी होगी और बैटरी बैकअप बेहतर होगा।

एंडरॉयड फोन के 5 छुपे हुए फीचर्स जो हैं बड़े उपयोगी

इसी तरह कंपनी ने नोटिफिकेशन चैनल्स में भी काफी बदलाव किया है। अब आप नोटिफिकेशंस की कैटेगरी बना सकते हैं। इसके अलावा आप वहीं से उसे ब्लॉक भी कर सकते हैं। ये फीचर्स फोन के उपयोग को और बेहतर बनाएंगे।

फीचर्स के अलावा गूगल ने डिजाइन पर भी ध्यान दिया है और एडैप्टिव आइकॉन में आपको एंडरॉयड के आईकॉन पहले की अपेक्षा नए डिजाइन और शेप में दिखाई देंगे। वहीं गूगल का कहना है कि इससे डिवाइस के अनुसार आईकॉन को बदल सकेंगे।
android-o-1
इसके अलावा पिक्चर इन पिक्वचर जो कि पहले एंडरॉयड टीवी में पेश किया गया था। वही फीचर भी अब एंडरॉयड फोन में उपलब्ध होगा। वहीं आॅटोफील, फॉन्ट रिसोर्स इन एक्सएमएल और वाईफाई अवेयर जैसे बेहद ही शानदार फीचर्स मिलेंगे।

जानें क्यों होता है आपके फोन में जल्दी डाटा खत्म

एंडरॉयड ओ के डेवलपर्स प्रीव्यू पेश करने के दौरान कंपनी ने यह भी जानकारी दी कि मई गूगल आई/ओ के दौरान इसका अधिकारिक रूप से प्रदर्शन किया जाएगा। हालांकि डेवलपर्स प्रीव्यू को अब भी उपभोक्ता अपने फोन में डाउनलोड कर सकते हैं लेकिन याद रहे कि यह अधिकारिक रूप से लॉन्च नहीं हुआ है ऐसे में फोन में कुछ समस्याएं आ सकती हैं।

SHARE
Previous articleएंडरॉयड फोन के 5 छुपे हुए फीचर्स जो हैं बड़े उपयोगी
Next articleकैसे करें एंडरॉयड के लेटेस्ट वर्जन ‘ओ’ को अपने फोन में इंस्टॉल
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 15 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 13 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।