अब चोरी होने पर सरकार ढूंढेगी आपका फोन, लॉन्च किया पोर्टल

50 crore active internet users in india 7 1 crore age of 5 to 11 years data usage increased

भारतीय सरकार ने चोरी होने वाले फोन्स को सर्च करने के लिए एक पोर्टल लॉन्च किया है। शुक्रवार को टेलीकॉम मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने एक पोर्टल की घोषणा की है, जहां यूजर्स अपने चोरी हुए फोन की शिकायत कर सकते हैं। फिलहाल यह पायलेट प्रोजेक्ट की तरह महाराष्ट्रा में शुरू किया गया है।

डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्यूनिकेशन (DoT) की मदद से अब यूजर्स अपने खोया फोन पा सकेंगे। इस प्रोजेक्ट को सरकार ने Central Equipment Identity Register (CEIR) का नाम दिया है जो कि DoT के अंदर आता है।

दूरसंचार विभाग (DoT) इस पायलट प्रोजेक्ट पर 2017 से काम कर रही है। इस प्रोजेक्ट में ग्लोबल IMEI (इन्टरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी) नंबर को फीड किया जा रहा है, जिसकी मदद से क्लोन किए गए IMEI को ट्रेस किया जा सकेगा। इसे भी पढ़ें: 24 सितंबर को Xiaomi कर रही है बड़ा ईवेंट, लॉन्च होंगे MI MIX 4 5G, Mi 9 Pro फोन, MIUI 11 OS और नया Mi TV

केन्द्र सरकार ने 2017 में इस पायलट प्रोजेक्ट की घोषणा की जिसके तहत यूजर्स CEIR प्लेटफॉर्म पर अपने खोए हुए मोबाइल को रिपोर्ट कर सकेंगे। इस पोर्टल पर दर्ज डाटाबेस के आधार पर मोबाइल फोन चोरी होने या गुम होने पर ट्रेस किए जाएंगे।

सभी फोन में 15 डिजिट का यूनिक नंबर होता है, जिसे International Mobile Equipment Identity (IMEI) नंबर कहा जाता है। अगर फोन चोरी होने पर कोई भी शख्स उस फोन पर अपना सिम लगाता है तो उस चोरी हुए फोन की लोकेशन का पता लगाया जा सकता है। इसे भी पढ़ें: इंडिया आ रहा है ASUS का सबसे पावरफुल गेमिंग फोन ROG Phone II, 23 सितंबर को होगा लॉन्च

ऐसे करें कम्पलेंट

अगर आपका फोन चोरी हो जाता है तो आपको सबसे पहले पुलिस स्टेशन में FIR करानी होगी। इसके साथ ही DOT डिपार्टमेंट में इस बात की जानकारी हेल्पलाइन नंबर 14422 पर देनी होगी। इसके बाद DoT खोए या चोरी हुए फोन की को ब्लॉक कर देगा, जिससे फोन को इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा।

अगर इसके बाद भी कोई उस डिवाइस को इस्तेमाल करना चाहता है तो टेलीकॉम सर्विस प्रावाइडर यूजर की पहचान कर ली जाएगी। सर्विस प्रोवाइड इस बात की जानकारी पुलिस को देगी, जिससे आपको खोया या चोरी हुआ फोन मिल जाएगा। सभी बड़ी टेलीकॉम कंपनी जैसे BSNL, रिलायंस जियो, एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया DoT को फोन ट्रेक करने में मदद करेगी।

सोर्स

LEAVE A REPLY