जानें स्मार्टफोन की बैटरी को सुरक्षित रखने के 8 स्मार्ट ट्रिक्स

charging problems 12 way to fix it

पहले एक बाद एक सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 में बैटरी ब्लास्ट होने की खबरों ने उपभोक्ताओं को डराया। इसके बाद आईफोन 7 के ब्लास्ट होने की खबर से लोग फिर से सकते आ गए। वहीं आज फिर से एक से गैलेक्सी एस7 ऐज फोन ब्लास्ट की खबर चर्चा में है। बड़े—बड़े फ्लैगशिप फोन में ब्लास्ट होने की खबरों के बाद मोबाइल उपभोक्ताओं को अपने फोन की बैटरी को लेकर और ज्यादा सजग रहने की जरूरत है। य​दि आपके फोन भी स्मार्टफोन है तो सुरक्षा के कुछ नियमों का पालन करना जरूरी है। आगे हमने ऐसे ही कुछ टिप्स बताए हैं जिनके माध्यम से आप अपनी फोन की बैटरी को सुरक्षित रख सकते हैं और बैटरी ब्लास्ट जैसे खतरों को कुछ हद तक टाल सकते हैं।

1. ज्यादा पसीना या भीगे होने क्रम में न करें फोन का उपयोग
अक्सर हम नहा कर आते हैं और फोन का उपयोग करने लगते हैं। जबकि यह खबरनाक है। यदि आपको ज्यादा पसीना आ रहा है या फिर आप भीगे हुए हैं तो उस वक्त फोन का उपयोग न करें। इससे फोन में पानी जा सकता है जिससे फोन खराब हो सकता है या फिर बैटरी ब्लास्ट होने का खतरा भी है। यदि बात करना जरूरी है तो आप हेडफोन या स्पीकर का उपयोग कर सकते हैं। यह ज्यादा सुरक्षित है।

यदि आपका सैमसंग गैलेक्सी फोन हो रहा है गर्म तो जानें उसे ठीक करने का तरीका

2. टैंपरेचर का रखें ख्याल
गर्म होने से फोन न सिर्फ अपनी बैटरी कपैसिटि खोता है बल्कि गर्म होना बेहद खतरनाक भी है। गिजमोडो पर दी गई जानकारी के अनुसार 32 डिग्री से ज्यादा के टैंपरेचर पर बैटरी अपनी 6 फीसदी क्षमता खो देता है। इसी तरह टैंपरेचर ज्यादा हो तो यह आंकड़ा और बढ़ जाता है। इतना ही नहीं ज्यादा टैंपरेचर में फोन ब्लास्ट होने का खतरा भी बढ़ जाता है। यदि बाहर काफी धूप है तो ऐसी स्थिति में फोन को कहीं ऐसी जगह ही रखें जिससे वह गर्म न हो। यदि आपको लग रहा है कि सामान्य तापमान से आपका फोन ज्यादा गर्म हो रहा है तो तुरंत उसे आॅफ कर दें। पॉकेट में रखे हुए अक्सर ऐसा लगता है कि फोन गर्म हो रहा है। यदि ऐसा हो तो तुरंत अपने फोन को आॅफ कर दें।

3. कार के डैशबोर्ड पर न रखें
कार में बैठने के दौरान फोन निकालने में दिक्कत होती है ऐसे में हम इसे डैशबोर्ड पर रख देते हैं। यह भी फोन के लिए काफी नुकसानदेह होता है। सामने शीशे से धूप आती है और गाड़ी चलने से डैशबोर्ड भी गर्म रहता है। इससे भी फोन की बैटरी को नुकसान हो सकता है। फोन गर्म हो सकता है और बैटरी फट भी सकती है। इसलिए कृपया ऐसा न करें।
car-dash-board

4. दूसरे चार्जर का न करें उपयोग
हालांकि यह बेहद ही चर्चा का विषय है। हर कोई सलाह देता है कि दूसरे चार्जर का उपयोग नहीं करना चाहिए। परंतु क्यों इसका सटीक कारण कोई नहीं देता। परंतु मैं इजना जरूर बता सकता हूं कि हर फोन के चार्जर का पावर आउटपुट अलग होता है जो आपके फोन की बैटरी को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए दूसरे चार्जर का उपयोग नहीं करना चाहिए।

जानें कैसे तोड़ें एंडरॉयड फोन में पैटर्न और पासवर्ड

5. वायरलेस चार्जर से रहें दूर
वायरलेस चार्जर गर्मी पैदा करता है और इसी से फोन को चार्ज करता है। हालांकि बैटरी उस गर्मी को सहने में सक्षम है लेकिन इससे फोन भी गर्म होता है। ऐसे में वायरलेस चार्जिंग से बचें तो ज्यादा बेहतर है।

6. चार्जिंग के दौरान हो रहा है गर्म हो तुरंत निकालें
यदि फोन चार्जिंग के दौरान गर्म हो रहा है तो जितना जल्दी चार्जिंग से निकाल दें बेहतर होगा। आप एक बार फोन को रिस्टार्ट करके चार्ज करें और प्लग को बेहतर तरीके से कनेक्ट करें। यदि फिर भी बैटरी गर्म हो रही है तो एक बार सॉफ्टवेयर अपडेट पर नजर डाल लें। सॉफ्टवेयर अपडेट करें। यदि इन सबके बाद भी बैटरी गर्म हो रही है तो समझें कि बदलने का समय आ गया है।

7. यदि फोन जल्दी डिसचार्ज हो रहा है और बार-बार रिस्टार्ट हो रहा है
यदि आपका फोन ज्यादा जल्दी डिस्चार्ज हो रहा है तो भी आप यह जान सकते हैं कि बैटरी बदलने का यह है नहीं तो खतरनाक हो सकता है। इतना ही नहीं आपका पुराना फोन अक्सर खुद से रिस्टार्ट हो रहा है तो भी बैटरी चेक कर लें।

battery-bunch

8. बैटरी यदि फुल गई है
यदि आपके फोन की बैटरी फुल गई है तो उसे तुरंत निकालकर फोन से अलग कर दें। यूनिबॉडी है तो आपको पता नहीं चलता लेकिन यदि थोड़ा भी शक हो तो फोन को आॅफ कर दें।

SHARE
Previous articleनोट 7 के बाद अब सैमसंग गैलेक्सी एस7 ऐज भी हुआ ब्लास्ट
Next articleगलती से सैमसंग ने दी गैलेक्सी नोट8 की जानकारी
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 15 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 13 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।