जानें कैसे जोड़े आधार से अपना मोबाईल नंबर, जानें पूरा प्रोसेस

मोबाईल नंबर से आधार कार्ड जोड़ने की कवायद देश के कई महीनों से चल रही है। लोगों को एसएमएस के जरिये लगभग हर रोज़ मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ने के मैसेज भेजे जा रहे है। इस प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए सरकार ने वन टाईम पासवर्ड (ओटीपी), ऐप आधारित लिंक और इंटरेक्टिव वॉयस रिस्पांस (आईवीआर) जैसे आॅप्शन्स सुझाए थे। वहीं अब भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) द्वारा इस पेशकश को स्वीकार कर लिया है। सरकार की ओर से ओटीपी के जरिये आधार को लिंक करने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। आईवीआर व ऐप आधारित सर्विस आने वाले दिनों में जारी हो जाएंगी। अगर आपने भी अभी तक अपने मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से नहीं जोड़ा है तो चलिए बताते हैं किस तरह से आप यह हाथ चु​टकियों में कर पाएंगे। आगे जानें इस प्रक्रिया का पूरा प्रोसेस :

1. सबसे पहले आधार कार्ड की आॅफिशियल वेबसाइट यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया पर जाएं, इसके लिए (UIDAI) पर क्लिक करें।

2. होम पर ही वेरिफाई ईमेल/मोबाईल नंबर का आॅप्शन मिलेगा, इस पर क्लिक करें

adhar-1

3. क्लिक करते ही आप एक अन्य पेज पर पहुंच जाएंगे, जहां आपसे आपकी कुछ निजी जानकारी पूछी जाएगी। इन्हें ध्यानपूवर्क पढ़ें।

4. अपना 12 अंको का आधार नंबर, ईमेल या मोबाइल नंबर और सिक्योरिटी कोड भरें। इन डिटेल्स को डालने के बाद ‘गेट वन टाईम पासवर्ड’ पर क्लिक करें।

adhar

5. इस बटन पर क्लिक करने से आपके द्वारा चुने गए मोबाईल नंबर पर एक ओटीपी आएगा। इस ओटीपी को आधार कार्ड की वेबसाइट पर दर्ज करें।

6. यहां ओटीपी वेरिफाई करते ही आपकी स्क्रीन पर Congratulation का मैसेज आएगा और आपकी रि-वैरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

adhar-2

आपको बता दें कि अभी यह ओटीपी उन्हीं मोबाईल नंबर को वेरिफाई कर रहा है जो आपने पहले आधार कार्ड के डाटाबेस में दर्ज कराए थे। वहीं अन्य नंबरों के लिए 1 जनवरी से आधार विभाग की ओर से नई अपडेट जारी कर दी जाएगी। गौरतलब है कि सरकार द्वारा मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ने की आखिरी तारीख 6 फरवरी रखी गई है।

SHARE
Previous articleसैमसंग गैलेक्सी नोट 8
Next articleलॉन्च होने जा रहा है आॅनर 7एक्स स्मार्टफोन, यहां देखें लाईव
मेरे लिखने से आपके पढ़ने तक, सब तकनीक है।Kamal Kant का मानना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 10 साल के अनुभव के दौरान ये विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों से जुड़ते हुए मीडिया के तीनों मंच - प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और डिजीटल मीडिया पर कार्य चुके हैं।