एंडरॉयड फोन में स्क्रीन हो रही है ब्लैक, जानें कैसे करें ठीक

एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में

एक स्मार्टफोन हजारों कंपोनेंट्स से मिलकर बनते हैं। यही वजह है कि अक्सर फोन में कुछ न कुछ कमियां देखने को मिलती हैं। कभी चार्जिंग सही से काम नहीं करता तो कभी फोन में हीटिंग की समस्या देखने को मिलती है। इसी तरह किसी फोन में कैमरे की समस्या देखने को मिलती है तो कभी स्क्रीन ब्लैक आउट हो जाती है। हालांकि हीटिंग, कैमरा और चार्जिंग जैसी समस्याओं की तो अनदेखी कर देते हैं लोग लेकिन स्क्रीन ब्लैकआउट की अनदेखी नहीं की जा सकती। क्योंकि कुछ दिखेगा ही नहीं तो काम कैसे करेंगे। वहीं स्क्रीन ब्लैकआउट होने पर थोड़े ज्यादा परेशान भी हो जाते हैं क्योंकि इसे ठीक कराने में खर्च ज्यादा दिखने लगता है। परंतु कुछ घरेलु जुुगाड़ हैं जिनके माध्यम से आप स्क्रीन ब्लैकआउट की समस्या का समाधान कर सकते हैं।

हां, यहां एक बात बताना जरूरी है कि यदि स्क्रीन पूरी तरह से डेड हो गई है और कई कोशिशों के बावजूद आॅन नहीं हो रही है तो फिर सर्विस सेंटर ही ले जाना पड़ेगा। हां! यदि चलते-चलते अचानक से फोन की स्क्रीन काली होती है और कुछ सेकेंड या मिनटों में वापस ठीक हो जाती है तो इसका समाधान किया जा सकता है। लोगों को यह शिकायत अक्सर इंटरनेट के उपयोग, कैमरा आॅन करने या फिर कॉलिंग के दौरान देखने को मिलती है। इस तरह की समस्या का समाधान आसानी से किया जा सकता है। तो चलिए बताते हैं स्क्रीन ब्लैक आउट को ठीक करने का तरीका। जानें कैसे चलाएं 1,500 रुपये वाले जियोफोन में व्हाट्सऐप
8 way to make your smartphone life longer
स्क्रीन ब्लैक आउट होने का कारण?
यदि आपके फोन में स्क्रीन ब्लैकआउट की समस्या है तो आपको सबसे पहले भली भांति अपने फोन को जांचने की जरूरत है कि यह समस्या कब-कब । यदि आप इसे समझ जाते हैं तो फिर आसानी से समाधान किया जा सकता है। जैसे- सिर्फ इंटरनेट चलाने के समय हो रही है या कॉलिंग के दौरान, कैमरा के उपयोग में या फिर किसी भी समय। सबसे पहले इन चीजों को नोट कर लें और उसके बाद ये ट्रिक्स अपनाएं। जानें भारत में कैसे काम करेगा आईफोन 10एस का डुअल सिम फंक्शन और क्या है ईसिम

कैसे करें ठीक
1. ऐप की समस्या: स्क्रीन ब्लैक आउट होने का सबसे बड़े कारण होते हैं अनकंपैटिबल ऐप। कुछ नए या पुराने ऐप फोन के ओएस के कंपैटिबल नहीं होते या फिर उनके कोडिंग में समस्या होती है। ऐसे में वे आपको बार-बार तंग करते हैं।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: यदि हाल में आपने कोई ऐप इंस्टॉल किया है और उसके बाद से यह समस्या शुरू हो गई है तो सबसे पहले उस ऐप को अनइंस्टॉल कर दें। यदि इससे समस्या का समाधान हो जाता है तो ठीक है नहीं तो आप अपने फोन को एक बार सेफ मोड में स्टार्ट करें। इसके लिए सबसे पहले फोन को आॅफ करना है और फिर पावर बटन प्रेस करके रखना है। जैसे ही फोन आॅन होने लगेगा आपको वाल्यूम अप और डाउन बटन को एक साथ प्रेस करना है। इसके ही यह सेफ मोड में स्टार्ट होगा।

आपको बता दूं कि ब्रांड के अनुसार फोन को सेफ मोड में स्टार्ट करने का तरीका अलग हो सकता है। आप इंटरनेट पर इसका पता कर सकते हैं। एक बार जब फोन सेफ मोड में स्टार्ट हो जाता है तो आप कुछ समय के लिए ऐसे ही इसका उपयोग करें। यदि वह सही से कार्य कर रहा है तो ठीक है समझ जाएं कि समस्या ऐप्स में ही थी और उन ऐप्स को अन इंस्टॉल कर दें जिन्हें आपने हाल में इंस्टॉल किया था। यदि यहां भी आपको परेशानी हो रही है तो फिर दूसरा ट्रिक उपयोग करें। टॉयलेट साइन देखकर बना था एंडरॉयड लोगो और अंतरीक्ष में भी है एंडरॉयड ​​डिवाइस, जानें एंडरॉयड से जुड़े 20 दिलचस्प बातें

2. बैटरी की समस्या: फोन के उपयोग के दौरान हम ध्यान नहीं देते कि बैटरी भी खराब हो सकती है। आज यूनिबॉडी वाले फोन में जहां बैटरी को खुद से बदल भी नहीं सकते उसमें इसे पकड़ना और मुश्किल भरा हो जाता है। एक बात और यह कोई जरूरी नहीं कि इस तरह की समस्या पुरानी बैटरी में ही आए। नई बैटरी के साथ भी हो सकती है।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: बैटरी खराब होने पर भी ऐसा होता है। यदि फोन की बैटरी निकलती है तो एक बार देख लें। अगर बैटरी नहीं निकलती है तो फोन की बॉडी को भलीभांति जांच लें कि कहीं बैटरी फूल तो नहीं रही है। यदि जरा भी शक हो तो तुरंत सर्विस सेंटर फोन को ले जाएं। उसे घर पर न खोलें ब्लास्ट भी हो सकता है। हां यदि सबकुछ ठीक नजर आ रहा है बावजूद इसके किसी भी समय स्क्रीन ब्लैकआउट हो जा रही है तो बैटरी को जांचने के लिए आप एंपियर ऐप्लिकेशन का सहारा ले सकते हैं। यह ऐप अपके फोन की बैटरी हेल्थ को बता देगा।

3. खराब चार्जर: आपको शायद नहीं मालूम कि खराब क्वालिटी के चार्जर की वजह से भी स्क्रीन ब्लैकआउट हो सकती है। क्योंकि उनमें सही वोल्ट में बिजली सप्लाई नहीं होती और बैटरी सही से चार्ज नहीं हो पाती है। इस कारण भी फोन में समस्या बढ़ जाती है।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: यदि आपने हाल में चार्जर खरीदा है और उसके बाद से यह परेशानी आने लगी है तो एक बार नए आॅरिजनल चार्जर का उपयोग कर देखें।

4. माइक्रोएसडी कार्ड: यदि आपने अपने कार्ड में म्यूजिक, फोटो, वीडियो आदि रखा और उसके उपयोग के दौरान फोन की स्क्रीन ब्लैकआउट हो जा रही है तो समझ जाएं कि कार्ड खराब हो गया है।
microsd-anf-usb-1
समाधान: वायरस की वजह से या फिर स्क्रैच आदि लगने की वजह से माइक्रोएसडी कार्ड करप्ट हो जाते हैं और फिर उनसे डाटा एक्सेस करना मुश्किल हो जाता है। फोन में यदि कार्ड करप्ट हो गया है तो स्क्रीन ब्लैक आउट भी हो सकती है। ऐसे में आप कार्ड को निकालें और फोन को रिस्टार्ट करें। आपका फोन सही तरह से कार्य करेगा।

5. वायरस: स्मार्टफोन में आप इंटरनेट चलाते हैं और जैसा कि मालूम है इंटरनट पर वायरस का खतरा हमेशा होता है। ऐसे में यदि आपके फोन में वायरस है तो भी स्क्रीन ब्लैक आउट और हैंग होने जैसी समस्या हो सकती है और यह कभी भी आपको परेशान कर सकती है।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: यदि फोन धीमा हो गया है, बार-बार हैंग हो रहा है और ब्लैकआउट भी तो यह वायरस ही है। इसे ठीक करने के लिए आपको फोन को फैक्ट्री रिसेट या फिर हार्ड बूट करना होगा।

6. पुराना फोन: हालांकि स्क्रीन ब्लैक आउट की समस्या ज्यादातर पुराने फोन में देखने को मिलती है। हालांकि पुराना होने का मतलब यह नहीं फोन खराब हो गया। बल्कि फोन की मैमोरी फुल होने की वजह से भी इस तरह की समस्याएं होती हैं।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: ऐसे में आप अपने फोन से कैशे मैमोरी डिलीट कर और फोन से कुछ ऐप्स को अनइंस्टॉल कर दें तो स्क्रीन ब्लैकआउट की समस्या का समाधान कर सकते हैं। यदि फोन को फैक्ट्री रिसेट कर लें तो ज्यादा बेहतर है।

7. पुराना सॉफ्टवेयर: स्क्रीन ब्लैकआउट की समस्या पुराने सॉफ्टवेयर की वजह से भी हो सकती है।
एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में
समाधान: यदि आपका फोन पुराना हो चुका है तो एक बार स्टोरेज के साथ ही सॉफ्टवेयर पर भी नजर डाल लें। कई बार कंपनियां फोन के बग को खत्म करने के लिए अपडेट देती हैं लेकिन हम उन अपडेट्स की अनदेखी कर देते हैं और इससे फोन में हैंग होना और स्क्रीन ब्लैकआउट जैसी समस्या होने लगती है। ऐसे में यदि फोन में कोई सॉफ्टवेयर अपडेट आया है तो तुरंत अपडेट करें।