Xiaomi और Huawei ने ईवी प्रोजेक्ट में तेजी लाने के लिए इस कंपनी से मिलाया हाथ, जानें क्या है प्लानिंग

Xiaomi और Huawei को देखकर लग रहा है कि दोनों कंपनियां अपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल योजना में तेज़ी लाना चाह रहे हैं। दोनों कंपनियों ने ईवी बैटरी सप्लायर में एक बड़ी राशि का निवेश किया है, जो चाइनीज़ ईवी स्टार्टअप NIO को भी सप्लाई करता है। 36Kr की रिपोर्ट के मुताबिक़, शाओमी और हुवावे दोनों कंपनियों ने बीजिंग वेइलन न्यू एनर्जी लिमिटेड में बड़ा निवेश किया है।

हुवावे और शाओमी का बड़ा निवेश

रिपोर्ट में बताया गया है कि कंपनी को शाओमी और हुवावे से क़रीब 5 बिलियन युआन मिले हैं। बता दें कि बीजिंग वेइनल न्यू एनर्जी एक हाई टेक फ़र्म है जिसका फोसक सॉलिड स्टेट बैटरी के नेक्स्ट जेनेरेशन को डेवलपर करने पर है। बीजिंग वेइनल न्यू एनर्जी कंपनी की स्थापना 2016 में हुई थी, जिसके चीन में तीन प्रोडक्डशन बेस हैं।

दमदार बैटरी और शानदार रेंज

इस कंपनी की बैटरी पहले से ही इलेक्ट्रिक व्हीकल में इस्तेमाल माल की जा रही है। इलेक्ट्रिक कार NIO ET7 में इसी कंपनी की बैटरी लगी है जिसे लेकर दावा किया जा रहा है कि यह सिंगल चार्ज में 1000 किमी की शानदार रेंज ऑफ़र करती है। हुवावे और शाओमी से मिले इंवेस्टमेंट के बाद कंपनी का प्लान ईवी प्रोजेक्ट के लिए बैटरी प्रोडक्शन में तेज़ी लाना है। यह भी पढ़ें : Xiaomi ज़ोर-शोर से कर रहा अपनी इलेक्ट्रिक कार पर काम, जानें कब भरेगी रफ्तार

हुवावे ने अपनी पहली ईवी से उठाया पर्दा

Huawei Avatr E11

Xiaomi ने कुछ दिनों पहले अपनी दूसरी कार यूनिट के रजिस्ट्रेशन की जानकारी दी थी। इसके साथ ही कंपनी ने अपनी फ़ाइनेंशियल रिपोर्ट में बताया था कि उसके ऑटोमोबाइल यूनिट में क़रीब 500 कर्मचारी रिसर्च एवं डेवलपमेंट डिपार्टमेंट में काम कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर हुवावे ने अपनी अपनी इलेक्ट्रिक कार से पर्दा उठाया है। हुवावे के जॉइन्ट वेंचर AVATR ने कुछ दिनों पहले अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार E11 को पेश किया है। यह भी पढ़ें : Huawei ने उठाया अपनी इलेक्ट्रिक कार Avatr E11 से पर्दा, सिंगल चार्ज में मिलेगी 700 किमी की शानदार रेंज

लेटेस्ट वीडियो : स्मार्टफोन बनाने वाली ये कंपनियां जल्द लॉन्च करेंगी इलेक्ट्रिक कार

LEAVE A REPLY