Xiaomi के बाद अब इस चीनी कंपनी में पड़ा इनकम टैक्स का छापा! जानें किसका है नाम और क्या है पूरा मामला

Xiaomi और OPPO का नाम बीते दिनों टैक्स चोरी के मामले में सामने आया था। इन कंपनियों पर आरोप लगा था कि भारत में हो रहे व्यापार में कुछ गैरकानूनी गतिविधियां शामिल है और इसी ऐवज़ शाओमी तथा ओपो के कुछ दफ्तर तथा इनसे जुड़े अधिकारियों को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का सामना करना पड़ा था। वहीं इस​ किस्से में अब एक और नाम Huawei का भी जुड़ गया है। खबर सामने आई है कि हुआवई के परिसर में इनकम टैक्स विभाग ने शिरकत की है और कुछ जगहों पर टैक्स चोरी के शक के बिनाह पर छापा मारा गया है।

प्राप्त जानकारी अनुसार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने चाइनीज कंपनी Huawei के परिसरों में रेड मारी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी के दिल्ली, गुरूग्राम और बेंगलुरु स्थित यूनिट्स में छापे गए हैं। बताया जा रहा है कि यह छापेमारी टैक्स चोरी का संदेह होने के चलते की गई है और इस पूरी कार्रवाई में जांच के लिए हुआवई कंपनी के कुछ दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं। खबर है कि टैक्स विभाग के अधिकारियों ने हुआवई के फाइनेंशियल डॉक्युमेंट्स और भारत सहित विदेश में चल रहे बिजनेस से जुड़ी ट्रांजैक्शन रिकॉर्ड की जांच की है।

income tax department raid in huawei preises after Xiaomi OPPO

Huawei ने दी सफाई

मीडिया रिपोर्ट्स में सामने आ रहा है कि Huawei ने भारत के बिजनेस कानून का पूरी तरह से पालने किए जाने की बात कही है और माना है कि भारत में हुआवई बिजनेस सभी कानूनों और नियमों का पालन करता है। बता दें कि चाइनीज मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स के स्पोक्सपर्सन वांग ने इस मामले को तूल देते हुए बयान दिया है कि इंडियन अथॉरिटी देश में चीनी कंपनियों और व्यापार को दबाने की कोशिश कर रही है। बहरहाल हुआवई पर लगे आरोप कितने सही साबित होंगे यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा, लेकिन बार-बार चीनी ऐप्स को बंद किया जाना और कंपनियों में छानबीन करना ड्रैगन को बौखला रहा है यह जरूर साफ हो गया है।

Xiaomi पर लगा था 653 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप

यहां बता दें कि साल 2022 की शुरूआत में भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने शाओमी इंडिया पर 653 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी का आरोप लगाते हुए कारण बताओ नोटिस भी जारी किया था। शाओमी टेक्नोलॉजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड पर कस्टम ड्यूटी के जरिये घपला करने का आरोप लगा था जिसमें कहा गया है ​शाओमी इंडिया ने अपने प्रोडक्ट इम्पोर्ट को अंडर वैल्यूएशन रखा था अप्रैल 2017 से लेकर जुलाई 2020 तक इस कंपनी ने लगभग 653 करोड़ रुपये की कस्टम ड्यूटी बचाई है। Xiaomi India पर कस्टम एक्ट, 1962 के सेक्शन 14 और कस्टम वैल्यूएशन नियम 2007 का उल्लंघन करने के खिलाफ मुकदमा दायर किया गया है।

LEAVE A REPLY