2018 में भारत बनेगा सबसे बड़ी 4जी शक्ति वाला देश, एक साल में ही 500 गुणा अधिक इंटरनेट का हुआ यूज़, पढ़े रिपोर्ट

Image Credit : Financial Times

पिछले एक साल से देश में 4जी इंटरनेट का यूज़ जितना बढ़ा उससे तो कोई भी भारतीय अन​भिज्ञ नहीं है। आज सिर्फ युवा ही नहीं बल्कि घर के बड़े सदस्य भी स्मार्टफोन पर व्हाट्सऐप व फेसबुक चलाते हैं। लेकिन यह जानकर आपको भी हैरानी होगी कि भारत में 4जी इंटरनेट का यूज़ इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि अगले साल यानि 2018 में भारत विश्व का सबसे बड़ा 4जी शक्ति वाला राष्ट्र बन जाएगा। इंडियन इंटरनेट मार्केट को लेकर एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामनें आई है, जिसके अनुसार आने वाले दो सालों में भारत में इंटरनेट का यूज़ 40 प्रतिशत से बढ़कर 80 प्रतिशत तक हो जाने वाला है।

ओपनसिग्नल की एक रिपोर्ट ने ये हैरान कर देने वाले आकंड़े शेयर किए है। रिपोर्ट के अनुसार 2017 की दूसरी तिमाही में भारत में 4.2 मिलियन टीबी (terabyte) यानि 42 लाख इंटरनेट डाटा का यूज़ आंका गया है और इस 42 लाख टीबी में से 39 लाख टीबी डाटा 4जी नेटवर्क पर यूज़ हुआ है। ट्राई ने इन आकंड़ो को लेकर कहा है कि इतनी संख्या में यूज़ किया गया 4जी डाटा साल 2016 की दूसरी तिमाही में यूज़ हुए 4जी डाटा से 500 गुणा अधिक है।

how-to-buy-a-good-4g-phone-1

मतलब 2017 में जिस दौरान 39 लाख टीबी 4जी डाटा का यूज़ हुआ है उसी दौरान 2016 में सिर्फ 8,050 टीबी डाटा का यूज़ किया गया था। आपको बता दें कि आज भारत पूरे विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा एलटीई नेटवर्क यूज़ करने वाला डाटा है। भारत स्वीडन, स्वीटर्जलैंड और यूके जैसे राष्ट्रों को पीछे छोड़ चुका है।

girl-with-phone-indian-9

गौरतलब है कि देश की सभी टेलीकॉम कंपनियों में रिलायंस जियो सबसे ज्यादा 95.6 प्रतिशत 4जी सर्विस मुहैया करा रही है। जब्कि एयरटेल और वोडाफोन की 4 सेवाएं देने में भी 60 प्रतिशत तक की ही भागीदारी कर पाएं है। वहीं साथ साथ इस रिपोर्ट में बताया गया है कि यूजर्स की बढ़ती गिनती के बावजूद भारत अभी भी इंटरनेट स्पीड के मामले में काफी पीछे है।

7,000 रुपये के बजट में 12 सबसे अच्छे मोबाइल फोन, जिनमें है 3जीबी और 4जी वोएलटीई

77 देशों की इंटरनेट स्पीड मापने पर भारत को सबसे नीचे पाया गया है। अन्य राष्ट्र जहां औसतन 10एमबीपीएस की इंटरनेट स्पीड देते हैं, वहीं भारत में इंटरनेट यूजर्स 6.1एमबीपीएस की एवरेज स्पीड पर ही इंटरनेट चला पा रहे हैं।