लोगों को पसंद आए Made In India गैजेट्स, देसी कंपनियों ने 75 प्रतिशत मार्केट पर कब्जा कर ड्रैगन को चटाई धूल

भारतीय कंपनियां वीयरेबल मार्केट में चीनी कंपनियों को धूल चटा रही हैं। boAt और Firebolt जैसे देसी कंपनियों ने स्मार्टवॉच और ब्लूटूथ इयरबड्स के मामाले में 75 प्रतिशत बाजार में कब्जा किया हुआ है। वहीं स्मार्टफोन मार्केट की बात करें तो यहां अभी भी चाइनीज स्मार्टफोन कंपनियों का दबदबा बना हुआ है। यह जानकारी मिंट ने अपनी एक रिपोर्ट में मार्केट ट्रेकर्स के डाटा के हवाले से प्रकाशित की है।

कई गुना बढ़ी सेल

स्मार्टवॉच और ब्लूटूथ ईयरबड्स या ट्रू वायरलेस स्टीरियो (TWS) की सेल में एक साल के अंदर 280 प्रतिशत की तेजी देखने को मिली है। यह स्मार्ट डिवाइसेस के मामले में काफी तेज है। इसके साथ ही कोरोना महामारी के दौरान भी इस कैटगरी में काफी तेजी देखने को मिली है। काउंटरपॉइन्ट रिसर्च के सीनीयर एनालिस्ट अंशिका जैन का कहना है कि स्मार्टवॉच सेगमेंट में घरेलू ब्रांड तेजी से बढ़ हे हैं। भारतीय कंपनियों को सेलेब्रिटी से विज्ञापन, इंट्रोडक्टरी प्राइस स्कीम, डिस्काउंट ऑफर, ऑफोर्डेबल और फीचर फुल डिवाइस और तेजी से नए प्रोडक्ट लॉन्च करने जैसे स्ट्रेटीजी का फायदा मिल रहा है।

मार्केट ट्रेलर पेज के मुताबिक़ स्मार्टवॉच सेग्मेंट में तीन बड़ी कंपनियां boAt, Noise और Firebolt हैं, जिन्होंने 66 प्रतिशत मार्केट पर कब्जा किया हुआ है। स्मार्टवॉच सेगमेंट में इंडियन ब्रांड्स का 2021 में मार्केट पर 76% कब्जा है। वहीं चाइनीज कंपनियों सिर्फ 17% पर सिमटी है। इससे पहले 2020 में भारतीय और चाइनीज कंपनियों मार्केट में 38 प्रतिशत की बराबर हिस्सेदारी थी।

सस्ता और बेहतर विकल्प

देसी कंपनियों की बात करें तो इसमें Ptron, Mivi, Boult Audio जैसी कंपनिया तेजी से ग्रोथ कर रही है। ये कंपनियां कम कीमत में बायर्स को बेहतर विकल्प देने में सफल रही जिसका कि उन्हेंने अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला है। यह भी पढ़ें : 5G in India : देश 5G नेटवर्क के लिए 2022 में होगी स्पेक्ट्रम की नीलामी, 2023 में शुरू होंगी सेवाएं

TechArc की रिपोर्ट में वियरेबल मार्केट में भी तेजी से बढ़ेत्तरी देखने को मिली है। स्मार्टवॉच और स्मार्टबैंड कैटगरी में जहां 2021 में 289 प्रतिशत की ग्रोथ देखने को मिली है। इस दौरान करीब 72 लाख यूनिट सेल हुई है। वहीं TWS कैटगरी में 58% की ग्रोथ देखने को मिली है। बीते साल करीब 105 लाख यूनिट की सेल हुई। यह भी पढ़ें : Xiaomi पहले Snapdragon 8 Gen चिपसेट के साथ लॉन्च करेगी Redmi K50 सीरीज का स्मार्टफोन

लॉकडाउन से मिला फायदा

TWS कैटगरी में 2020 के मुकाबले 626 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। TechArc के फाउंडर फैजल कफूसा का कहना है कि लॉकडाउन के चलते ऑडियो डिवाइस कॉलिंग और पढ़ाई के लिए काफी महत्वपूर्ण बन गए थे। यही कारण है कि इस सेगमेंट में तेजी देखने को मिली है। इसकके साथ ही नए इनोवेशन, अफोर्डेबल टेक्नोलॉजी और मांग के चलते ट्रू वायरलेस स्टीरियो इयरबड्स सेग्मेंट में यह तेजी देखने को मिली है, जिसमें भारत के मैट्रो शहर ही नहीं बल्कि टीयर 2 और टीयर 3 शहर भी शामिल हैं।

लेटेस्ट वीडियो : OnePlus 9RT की पहली झलक

LEAVE A REPLY