अग्निपथ हिंसा के चलते 4 दिन बैन रहा इंटरनेट, शिकायत के बाद डाटा और वैलिडिटी की भरपाई के लिए एयरटेल तैयार

यूजर की शिकायत पर एयरटेल डाटा और वैलिडिटी के नुकसान की भरपाई के लिए तैयार हो गया है। हालांकि एयरटेल की ओर से मिले प्रस्ताव पर यूजर नाराज हैं और उनका कहना है कि नुकसान प्रदेश के सभी यूजर्स का हुआ है।

1 month plan 30 days validity mobile recharge details Jio Airtel Vi

केंद्र सरकार द्वारा भारतीय सेना में भर्ती की नई स्कीम ‘अग्निपथ’ लागू किए जाने के फ़ैसले के ख़िलाफ़ देश में कई जगह हिंसात्मक आंदोलन हुए। इन हिंसात्मक आंदोलन के चलते बिहार के क़रीब 13 ज़िलों में 17 जून से 20 जून तक राज्य के गृह मंत्रालय के आदेश पर इंटरनेट बंद करने के आदेश दिए गए थे। इस आदेश के चलते कई सारे यूज़र्स को चार दिनों तक बिना इंटरनेट के गुज़ारने पड़े थे। एयरटेल अब चार दिनों तक हुए इंटरनेट बैन का हर्जाना देने के लिए तैयार हो गया है। बिहार के आरा ज़िले के रहने वाले आनंद प्रकाश की एक शिकायत के बाद एयरटेल ने यह कदम उठाया है।

आनंद प्रकाश ने चार दिन तक आंदोलन के चलते बंद हुए इंटरनेट और वैलिडिटी बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय उपभोक्ता फ़ोरम में शिकायत दर्ज की थी। इस शिकायत पर एयरटेल युवक आनंद प्रकाश को उनके चार दिनों तक डाटा और वैलिडिटी बढ़ाने का ऑफ़र दिया है। हालांकि युवक का कहना है कि यह सिर्फ़ उनका मसला नहीं है बल्कि सभी मोबाइल यूज़र्स को कंपनी ने डाटा और वैलिडिटी बढ़ाना चाहिए।

डाटा और वैलिडिटी का नुकसान

Airtel announces new xstream fiber broadband plans to counter Reliance Jio hotstar netflix

दैनिक जागरण की ख़बर के मुताबिक़, आनंद प्रकाश को एयरटेल की ओर से बताया गया कि कंपनी चार दिन के नुक़सान की भरपाई मेन बैलेंस के माध्यम से करेगी। इस पर आनंद प्रकाश ने बताया कि उन्हें मेन बैलेंस नहीं बल्कि डाटा और वैलिडिटी का नुक़सान हुआ है। इसलिए भरपाई भी डाटा और वैलिडिटी का होना चाहिए। इसके बाद उपभोक्ता फ़ोरम की से जानकारी मिली कि एयरटेल डाँटा और वैलिडिटी के नुक़सान की भरपाई के लिए राज़ी हो गया है। यह भी पढ़ें : 108MP कैमरा वाले Redmi Note 11 Pro+ 5G को सस्ते में खरीदने का मौका, मिल रहा जबरदस्त डिस्काउंट

सभी के नुकसान की हो भरपाई

आनंद प्रकाश का कहना है कि एयरटेल सिर्फ़ उनके डाटा और वैलिडिटी के नुक़सान की भरपाई के लिए तैयार हुआ है। जबकि इस दौरान प्रदेश के लाखों यूज़र्स का नुक़सान हुआ है, जिसमें उनके कई दोस्त और परिजन भी शामिल है। ऐसे में यह सिर्फ़ उनकी लड़ाई नहीं है। उपभोक्ता फ़ोरम का कहना है कि अगर आनंद प्रकाश कंपनी के फ़ैसले से संतुष्ठ नहीं हैं तो वे फिर से शिकायत कर सकते हैं। इसके बाद फ़ोरम ख़ुद इस मामले पर अपना फ़ैसला देगा। आनंद प्रकाश का कहना है कि इंटरनेट बंदी के चलते प्रदेश के लाखों यूज़र्स का नुक़सान हुआ है। वे इस मामले की शिकायत जिला उपभोक्ता फ़ोरम में करेंगे।

LEAVE A REPLY