जियो ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, सबसे ज्यादा डाउनलोड स्पीड देकर रचा नया इतिहास

Reliance Jio Bharti Airtel Vodafone Idea Ring duration 25 seconds trai

रिलांयस जियो एकलौती ऐसी भारतीय टेलीकॉम कंपनी है जो सिर्फ 4जी नेटवर्क पर काम करती है। जियो ने जहां अपनी एंट्री के सा​थ ही टेलीकॉम बाजार में प्राइज़ वॉर छेड़ दी वहीं अपनी 4जी सर्विस के चलते जियो ने कई नए मुकाम भी बनाए हैं। वहीं अब एक बार फिर जियो ने अपने 4जी नेटवर्क के दम पर नया रिकॉर्ड बनाया है। जियो ने अपने ही पुराने रिकॉर्ड को तोड़ते हुए औसत 4जी डाउनलोड स्पीड का नया रिकॉर्ड बनाया है।

भारतीय टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अथॉरिटी (ट्राई) ने अपनी हालिया रिपोर्ट में यह खुलासा किया है। ट्राई ने मायस्पीड ऐप के आकंड़ों को शेयर किया है। इन आकंड़ो के मुताबिक अक्टूबर माह में रिलायंस जियो ने 21.9एमबीपीएस की 4जी डाउनलोड स्पीड है। आपको बता दें कि यह स्पीड देश में किसी भी कंपनी द्वारा दी गई डाउनलोड स्पीड में सबसे ज्यादा है। इससे पहले रिलायंस जियो ने ही मई माह में सबसे ज्यादा 19.123एमबीपीएस की औसत 4जी डाउनलोड स्पीड दी थी।

jio-feature-phone-2 91Mobiles

अक्टूबर माह की बात करें तो इस दौरान जियो के बाद वोडाफोन ने 8.7एमबीपीएस, आइडिया ने 8.6एमबीपीएस और एयरटेल ने 7.5एमबीपीएस की औसत 4जी डाउनलोड स्पीड दी है। वहीं सितंबर माह में जियो ने जियो की 4जी डाउनलोड स्पीड 18.4एमबीपीएस, वोडाफोन की 9एमबीपीएस, आईडिया की 8.7एमबीपीएस और एयरटेल ने 8.5एमबीपीएस की स्पीड दी थी।

गूगल ने दिया भारत को शानदार तोहफा, जानें 5 बड़ी घोषाणाएं

4जी अपलोड स्पीड की बात करें तो ट्राई के अनुसार अक्टूबर माह में आईडिया ने सबसे ज्यादा 6.4एमबीपीएस की औसत अपलोड स्पीड दी है। इस सूची में 5.9एमबीपीएस स्पीड के साथ वोडाफोन दूसरे, 4.1एमबीपीएस स्पीड के साथ रिलांयस जियो तीसरे तथा 3.5एमबीपीएस स्पीड के साथ देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कपंनी एयरटेल चौथे स्थान पर रही है।

SHARE
Previous articleकूलपैड कूल प्ले 6
Next articleसैमसंग गैलेक्सी आॅन मैक्स
मेरे लिखने से आपके पढ़ने तक, सब तकनीक है।Kamal Kant का मानना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 10 साल के अनुभव के दौरान ये विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों से जुड़ते हुए मीडिया के तीनों मंच - प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और डिजीटल मीडिया पर कार्य चुके हैं।