जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल कर रहा है बड़ी तैयारी

Reliance Jio 101 rs vs Bharti Airtel rs 98 add on packs benefits 12gb 4g data free offer

रिलांयस जियो ने भारतीय मोबाइल बाजार में दस्तक देने के साथ ही हलचल मचा दिया। कंपनी ने 5 सितंबर से अपनी 4जी सेवा शुरू की है और इसी के साथ वेलकम आॅफर भी पेश किया था। इसके तहत जियो की सभी सेवाएं 31 दिसंबर तक मुफ्त में उपलब्ध हैं। इतना ही नहीं कंपनी ने लाइफटाइम के लिए वोएलटीई नेटवर्क पर कॉलिंग मुफ्त कर दिया है। ऐसे में जियो सिम के लिए उपभोक्ताओं की होड़ लगी है। जियो को टक्कर देने के लिए दूसरे आॅपरेटर्स भी काफी जोर आजमाइश कर रहे हैं। परंतु कहा जा सकता है कि इसमें एयरटेल सबसे आगे है। कपंनी हर तरह से जियो से लोहा लेने को तैयार है। सबसे पहले एयरटेल ने 4जी डाटा शुल्क को कम किया और अब पूरे देश में वोएलटीई सर्विस शुरू करने की तैयारी कर रही है।

इकनॉमिक टाइम्स द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार इसके लिए एयरटेल ने नोकिया के साथ 402 करोड़ रुपये की डील साइन की है जिसके तहत कंपनी देश भर में 4जी वोएलटीई सर्विस शुरू करेगी। हालांकि इससे पहले एयरटेल ने देश के कुछ हिस्सों में वोएलटीई को टेस्ट किया है और कंपनी का यह परिक्षण काफी सफल रहा। ऐसे एयरटेल की योजना वोएलटीई सर्विस को पूरे देश में विस्तार करना है। नोकिया के साथ समझौता कर कंपनी पूरे देश में आईएमएस (आईपी मल्टीमीडिया सिस्टम) को लॉन्च करना चाहती है जिससे कि बिना बैंड बदले ही वोएलटीई कॉलिकं की जा सके।

सावधान! फ्रॉड वेबसाइट से चल रहा है जियो सिम का स्कैम

फिलहाल फोन से जो हम कॉल करते हैं वह सर्किट स्विच नेटवर्क पर आधारित होता है। वोएलटीई से इसकी तुलना करें तो यह थोड़ा धीम और निम्न क्वालिटी का होता है जबकि वोएलटीई में फास्ट कॉलिंग के साथ हाईडेफिनेशन वाइस कॉलिंग की जा सकती है। वोएलटीई में फोन की बैटारी खपथ कम होती है और एक ही बैंड पर कॉल और डाटा दोनों को चलाया जा सकता है। यही वजह है कि जियो फ्री कॉलिंग देने में सक्षम है। समान बैंड होने की वजह से कॉलिंग और डाटा के लिए अलग से इंफ्रास्ट्रक्चर लगाने की जरूरत नहीं होती।

बिहार में एयरटेल की 4जी सर्विस लॉन्च, 247 रुपये में 10जीबी 4जी डाटा

एयरटेल​ फिलहाल भारतीय मोबाइल बाजार का बदशाह है और कंपनी किसी भी हाल में अपनी उपभोक्ता आधार खोना नहीं चाहता। यही वजह है कि जल्द से जल्द वोएलटीई सर्विस शुरू करने की योजना बना रहा है। दी गई खबर के मुताबिक कंपनी कुछ ही दिनों में इस सर्विस को शुरू कर सकती है। हालांकि हाल में भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने कहा था कि वोएलटीई सर्विस को उतारने के लिए हमें ये देखना होगा कि बाजार में अभी कितने डिवाइस हैं जिनमें वोएलटीई सपोर्ट है।

वहीं कंपनी के लिए परेशानी वाली खबर यह भी थी कि कुछ दिन पहले ही जियो ने भारत सरकार उपक्रम बीएसएनएल के साथ समझौता किया था। इसके बाद यह खबर दी गई कि रिलायंस जियो फीचर फोन के लिए भी वोएलटीई सर्विस लॉन्च कर सकती है। यदि ऐसा होता है तो वर्तमान नेटवर्क और सर्विस के साथ बाकी कंपनियों को भारत में बने रहना मुश्किल हो जाएगा। ऐसे में एयरटेल अपनी तैयारियां पुख्ता करने में लगा है।

हालांकि यह एयरटेल और नोकिया की पहली डील नहीं है। इससे पहले भी एयरटेल ने नोकिया के साथ 9 सर्किल्स में 4जी सर्विस शुरू करने के लिए 23 करोड़ डॉलर की डील की थी।