जियो फोन की बैटरी हुई क्षतिग्रस्त, कंपनी ने की तुरंत कार्रवाई

अभी हाल में रिलायंस जियो ने यह घोषणा की है कि कंपनी एयरटेल को पीछे छोड़कर देश की नंबर दो सेवा प्रदाता कंपनी बन गई है। कंपनी ने महज तीन से साल से भी कम समय में यह कारनामा कर दिखाया। हालांकि इसमें जियो के फीचर स्मार्टफोन जियोफोन का भी बहुत बड़ा योगदान है। इसी के दम पर कपंनी फीचर फोन सेग्मेंट में नंबर वन की कंपनी बन गई है। हालांकि आज जियोफोन यूजर्स के लिए यह खबर अच्छी नहीं आई है। हल्द्वानी में एक जियो फोन ब्लास्ट हो गया है और 91मोबाइल्स को इस बारे में एक्सक्लूसिव जानकारी मिली है और हमनें इस मामले में दोनों ओर से पड़ताल किया। जहां एक ओर यूजर्स से पूरी जानकारी मांगी वहीं कंपनी को भी पूरे मामले से अवगत कराया और कंपनी ने भी इस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए मामले को शांत कर लिया।

दरअसल मामला हल्द्वानी का है जहां अतुल कोठारी नाम के एक यूजर ने अपने जियो फोन ब्लास्ट होने की खबर को ट्विटर पर पोस्ट किया था। इसके बाद हमने उनसे सम्पर्क साधा और उन्होंने पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि “फोन साधारण वैसे ही रखा था जैसे रखा होता है। यहां तक की चार्ज में भ नहीं लगा था। खुद ही आग लग गई। इसके बाद जब मैं कंपनी के पास गया तो उनका कहना था कि आपको 50 फीसदी कॉस्ट पर रि​फर्बिश फोन दिया जाएगा और मैंने इनकार कर दिया।” इसे भी पढ़ें: 3,000एमएएच बैटरी और स्नैपड्रैगन 435 चिपसेट के साथ आया मोटोरोला का सस्ता फोन Moto E6

jio-phone-blast

अतुल से बात होने के बाद हमनें कंपनी से सम्पर्क किया और उन्होंने त्वरित कार्रवाई करने का भारोसा दिलाया। साथ ही रिलायंस रिटेल के प्रवक्ता का इस बारे में कहना यह था “जियोफोन का डिजाइन और निर्माण बहुत ही बड़े मोबाइल निर्माताओं द्वारा किया जाता है जिसमें हम उच्च गुणवत्ता का ख्याल रखते हैं। निर्माण के दौरान क्वालिटी कंट्रोल के लिए कई प्रकिया से गुजरता है। हालांकि बावजूद इसके यह घटना हमारे संज्ञान में लाई गई है और हमारी टीम इसके कारणों का पता लगा रही है। जानकारी के आधार पर हम उचित कार्रवाई करेंगे।” इसे भी पढ़ें: अब दंगल होगा! PUBG Mobile Lite हुआ इंडिया में लॉन्च

कंपनी रिस्पॉन्स के बाद जब हमनें यूजर से बात की तो उन्होंने ज्यादा कुछ तो नहीं बताया लेकिन इतना जरूर कहा कि नया फोन मिल गया है। इसके साथ ही उन्होंने अपना ट्विट डिलीट भी कर दिया।

हालांकि यह बहुत अच्छी बात कही जा सकती है कि कंपनी ने तुरंत कार्रवाई कर मामले को तुल पकड़ने से पहले ही संभाल लिया।

LEAVE A REPLY