5G में Jio की बड़ी उड़ान, 1000 शहरों में शुरु होगी Jio की 5G सर्विस

jio-will-start-5g-service-from-1000-cities-in-india

लगभग तय है कि भारत में इस साल 5G सर्विस शुरू हो ही जाएगी। इस बारे में डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम्यूनिकेशन ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि 2022 में देश के 13 शहरों में 5G सर्विस शुरू होने वाली है। इसे लेकर सभी कंपनियों ने अपनी तैयारी पुख़्ता करनी शुरू कर दी है। अब तक रिलायंस Jio, Airtel और Vodafove-Idea जैसी कंपनियों ने 5G ट्रायल की घोषणा तो कर दी थी। परंतु यह नहीं बताया था कि कितने शहरों में और कब से यह सर्विस शुरू होगी। वहीं अब Jio ने इन सभी से एक कदम आगे अपने 5G सर्विस को लेकर बड़ी घोषणा कर दी है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश धीरुभाई अंबानी ने कहा कि “Jio प्लेटफॉर्म के तहत वे देश के 1,000 शहरों में 5G कवरेज की प्लानिंग कर रहे हैं और 5G नेटवर्क का ट्रायल हेल्थकेयर और इंडस्ट्रियल ऑटोमेशन जैसे एडवांस टेक्नोलॉजी के लिए किया जा रहा है।” ​यह जानकारी कंपनी ने एक प्रेस विज्ञप्ति को जारी कर कही है।

Jio उपभोक्ता आधार और शुद्ध लाभ

यह बयान रिलायंस इंडस्ट्रीज लि​मिटेड के वित्तीय और परिचालन प्रदर्शन यानी फाइनेंशियल और ऑपरेशनल परफॉर्मेंस जारी करने के दौरान आया है। कंपनी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में इस तिमाही में शुद्ध लाभ और रेवेन्यू के बारे में भी बताया है जिसमें जानकारी दी गई है कि डिजिटल सर्विसेज से कंपनी ने कुल 25,200 करोड़ का राजस्व प्राप्त किया है, जो कि सालाना दर से लगभग 6.4 फीसदी का ग्रोथ रहा। वहीं ​इस दौरान Jio Platforms का शुद्ध लाभ 3,795 करोड़ रहा जो​ कि पिछले साल के मुकाबले इस क्वार्टर 8.8 फीसदी ज्यादा रहा। इसे भी पढ़ें : 6G के क्षेत्र में Jio की जबरदस्त छलांग, Airtel और Vodafone रह गए बहुत पीछे!

jio-mukesh-ambani

अंबानी ने आगे कहा कि “31 दिसंबर 2021 तक रिलायंस जियो का उपभोक्ता आधार 421 मिलियन रहा। कंपनी ने ​पिछले साल से इस साल तक लगभग 10.2 मिलियन नए उपभोक्ताओं को जोड़ा है। वहीं मोबाइल और फाइबर बिजनेस मिलाकर कुल 34.6 मिलियन नए सब्सक्राइबर जुड़ने से जियो का उपभोक्ता आधार और भी मजबूत हुआ है। इसके साथ ही Jio के ARPU में भी काफी सुधार आया है और इस तिमाही यह 151.6 रुपये तक पहुंच गया जो कि पिछले साल के मुकाबले 8.4 फीसदी ज्यादा रहा। वहीं आने वाले दिनों में भी ​टैरिफ हाइक का आसर ARPU पर पर देखने को मिलेगा। हम देश के 1,000 शहरों में 5G सर्विस शुरू करने की प्लानिंग कर रहे हैं और इसके लिए 5G नेटवर्क का ट्रायल हेल्थकेयर और इंडस्ट्रियल ऑटोमेशन जैसे एडवांस तकनीक के लिए कर रहे हैं।”

गौरतलब है कि आरपू का आशय है अैवरेज रेवेन्यू पर यूजर। अर्थात प्रति यूजर वे कितना पैसा प्राप्त कर रहे हैं। अब से पहले तक कंपनी का आरपू 146 रुपये के आसपास था। वहीं हाल में कंपनी द्वारा किए गए टैरिफ में हाइक की वजह से यह आरपू 151.6 रुपये तक आ गया है जो कि बहुत बड़ी बा​त कही जा सकती है। इसे भी पढ़ें : e-Shram Card के लिए जानें कैसे करें फ्री में अप्लाई, सरकार दे रही है मुफ्त के फायदे, आज ही उठाएं लाभ

रिलायंस रिटेल

इस दौरान कंपनी द्वारा अपने रिटेल बिजनेस रिलायंस रिटेल की भी जानकारी दी गई है। मुकेश अंबानी ने कहा कि “रिटेल ​बिजनेस में काफी अच्छा ग्रोथ देखने को मिला है। कंपनी ने रिकॉर्ड कुल राजस्व 57,714 रुपये प्राप्त किए जबकि सालाना दार पर 52.5 फीसदी का विकास देखने को मिला। वहीं कंपनी का रिटेल बिजनेस से इस तिमाही शुद्ध लाभ 2,259 करोड़ रहा जो कि सालाना दर से 23.4 फीसदी का रहा। इस दौरान कंपनी ने 837 नए स्टोर खोले और अब इनकी संख्या 14,412 हो गई है।”

Reliance Jio Estonia and University of Oulu finland collaborate 6G technology standardisation research

उन्होंने यह भी कहा कि “इस दौरान कंपनी ने जियो हैप्टिक पावर्ड कॉमर्शियल कन्वर्सेशन प्लेटफॉर्म जियो मार्ट और व्हाट्सऐप भी लॉन्च किया है जिससे कि डिजिटल शॉपिंग को और आसान बनाया जा सके।” इसे भी पढ़ें : Jio को टक्कर देने के लिए Airtel ने कसी कमर, सैटेलाइट ब्रॉडबैंड को लेकर की सबसे बड़ी डील

हालांकि अपने इस तिमाही परिणाम को जारी करने के दौरान कंपनी ने 6G नेटवर्क पार्टनरशिप के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। इससे एक दिन पहले ही जियो द्वारा एक प्रेस​ विज्ञप्ति जारी कर जानकारी दी गई थी कि वह 6जी नेटवर्क को लेकर अभी से तैयारी में जुट गई है। कंपनी ने इसके लिए फ़िनलैंड की ओउलू यूनिवर्सिटी से हाथ मिलाया है जहां दोनों कंपनियां मिलकर 6G नेटवर्क पर ​रिसर्च करेंगी।

LEAVE A REPLY