JioMeet लॉन्च कर Reliance ने दी Zoom को चुनौती, 100 लोग एक साथ कर पाएंगे वीडियो कॉल

कोरोना वायरस महामारी के कारण देश लगे लॉकडाउन के कारण लाखों लोग घर से काम कर रहे हैं। घर से काम के दौरान ऑफिस मीटिंग में हिस्सा लेने के लिए कर्मचारी Zoom जैसे वीडियो कॉलिंग एप को इस्तेमाल कर रहे थे। लेकिन सिक्योरिटी और प्राइवेसी को लेकर जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप पर लगातार सवाल उठते रहे थे। वहीं, अब रिलांयस जियो ने जूम और दूसरी विडियो कॉलिंग ऐप को टक्कर देते हुए अपने JioMeet वी़डियो कॉलिंग ऐप को पेश कर दिया है। यह ऐप एंडरॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म के लिए पेश किया गया है।

एंडरॉयड प्लेटफॉर्म पर यह ऐप डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। हालांकि, आईओएस पर यह एप जल्द ही डाउनलोड के लिए आएगा। लेकिन, हमारी टीम ने आईओएस डिवाइस पर इस ऐप को डाउनलोड कर इस्तेमाल किया है। गूगल प्ले स्टोर और एप्पल एप स्टोर के अलावा मैक एप स्टोर और माइक्रोसॉफ्ट के विंडो मार्केटप्लेस पर भी इस ऐप को पेश किया गया है। जियो के अधिरकारी से बात करने पर उन्होंने 91मोबाइल्स को बताया कि यह ऐप धीरे-धीरे सभी प्लेटफॉर्म पर डाउनलोड के लिए पेश किया जाएगा। इसे भी पढ़ें: WhatsApp और Zoom App, जानें दोनों में कितना है फर्क और कितनी है समानता

jiomeet-cover

jiomeet-new
1 लाख से ज्यादा हुआ डाउनलोड

रिलायंस के टेलीकॉम प्लेटफॉर्म जियो की ओर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप जियोमीट को लॉन्च किया गया है। न्यूज लिखते समय एंडरॉयड पर JioMeet को 100k+ डाउनलोड हो चुके हैं। वहीं, दूसरे प्लेटफॉर्म पर यह ऐप धीरे-धीरे डाउनलोड के लिए उपलब्ध होगा।
jiomeet-main
100 यूजर्स कर पाएंगे एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

रिलायंस ने जियोमीट के दो प्लान लॉन्च किए हैं। फ्री प्लान में ज्यादा से ज्यादा 5 यूजर एक समय में वीडियो कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं। वहीं, कंपनी ने इसके बिजनेस प्लान को भी पेश किया है, जिसमें 100 यूजर्स एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का हिस्सा बन सकते हैं। इस सर्विस पर ईमेल्स और ओटीपी आधारित लॉग इन मीटिंग्स होस्ट ऑफर की जा सकती है। गूगल क्रोम और मोजिला फायरफॉक्स के के माध्यम से भी जियोमीट का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे भी पढ़ें: Jio अपने यूजर्स को मुफ्त दे रहा है 8जीबी 4जी डाटा, जानें कैसे उठाएं फ्री का फायदा

ऐसे करें JioMeet का इस्तेमाल

JioMeet ऐप का इस्तेमाल करना काफी आसान है। इसे एंडरॉयड फोन का इस्तेमाल कर रहे यूजर को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना होगा। 8MB के इस ऐप को डाउनलोड होने में कुछ ही देर लगेगी। इसके बाद आप इस एप में अपने फोन नंबर और ई-मेल की मदद से साइन-इन कर सकते हैं। इसके अलावा गेस्ट के रूप में सिर्फ मीटिंग भी अटेंड कर सकते हैं। हमने इस ऐप में जियो नंबर की मदद से ओटीपी के माध्यम से साइन-इन किया। साइन-इन करने के बाद ऐप आपसे आपका नाम और कुछ परमिशन मांगेगा। इन सबके बाद आप इस ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं।
jiomeet-image-with-new-logo-1

JioMeet के खास फीचर

-यूजर किसी को भी एक सिंपल कॉन्फ्रेंस लिंक की मदद से इनवाइट कर सकते हैं।
-कॉन्फ्रेंस के दौरान यूजर लाइव चैट मैसेज कर सकते हैं।
-यूजर कॉल के दौरान ऑडियो-वीडियो मोड जवाब दे सकते हैं।
-कॉलिंग की हिस्ट्री देखेने का ऑप्शन।
-लो नेटवर्क जोन में भी काम करेगा जियोमीट।

jiomeet-image-with-new-logo
सरकारी डिपार्टमेंट्स में बैन हुआ था ZOOM

भारत सरकार ने हाल ही में अपने कुछ कार्यालय और कर्मचारियों के लिए ZOOM ऐप का इस्तेमाल ‘बैन’ कर दिया था। इसके अलावा मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी ने हाल ही में मेक इन इंडिया मुहिम अनुसार इनोवेशन चैलेंज फॉर डिवेलपमेंट ऑफ ए विडियो कॉन्फ्रेंसिंग सॉल्यूशन की घोषणा की थी। जिसके तहत जूम ऐप बनाना वाले को 1 करोड़ की राशि देने का ऐलान किया गया था। इस तरह के ऐप बनाने की आखिरी डेट 30 अप्रैल थी। वहीं, 30 अप्रैल को ही जियोमीट को पेश किया गया है। हालांकि, 1 करोड़ की राशि जियो या जियो की टीम को मिलेगी या नहीं इस बारे में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं है।

LEAVE A REPLY