जानें फोन को चार्ज करने का सही तरीका

एंडरॉयड फोन की समस्या और उनका समाधान हिंदी में

मोबाइल फोन में अक्सर फोन बैटरी को लेकर आपको परेशानी होती है। कई लोगों की शिकायत होती है उनके फोन की बैटरी जल्दी खत्म हो रही है तो कुछ लोग कहते नजर आते हैं कि उनके फोन की बैटरी जल्दी चार्ज नहीं होती है और यदि फोन की बैटरी में ही परेशानी है तो जाहिर है आपको फोन आपको बहुत ज्यादा तंग करेगा।

हालांकि कई बार तो फोन की बैटरी को जल्दी खराब होने के पीछे निर्माण दोष होता है जबकि कई बार इसके जिम्मेदार हम खुद होते हैं। फोन को चार्ज पर लगाने के दौरान हम सावधानियों को नहीं बरतते और उसका खामियाजा फोन को होता है। कमजोर बैटरी की वजह से फोन के परफॉर्मेंस पर भी असर होता है। ऐसे में आगे हमनें बैटरी चार्जिंग का सही तरीका बताया है।

जानें एंडरॉयड स्मार्टफोन के 5 बेहद ही जरूरी फीचर्स

1. बैटरी पूरी तरह डिसचार्ज न करें
स्मार्टफोन में मुख्यत: लीथीयम आॅयन बैटरी का उपयोग होता है। यह बैटरी जब पूरी तरह से डिसचार्ज होता है तो अपनी क्षमता खो देता है। ऐसे में कोशिश करें कि कभी पूरी तरह डिसचार्ज न हो।

2. 100 फीसदी चार्जिंग से बचें
एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम के निर्माता गूगल का ही कहना है कि यदि आप अपने फोन की बैटरी से बेहतर परफॉर्मेंस चाहते हैं तो बैटरी चार्जिंग 40 फीसदी से 80 फीसदी के बीच रखें। कोशिश करें कि बैटरी चार्जिंग 20 फीसदी से नीचे न हो। वहीं फुल चार्जिंग के बजाए उसे 90 फीसदी के आसपास भी निकाल लें तो बेहतर होगा।

जानें कैसे करें एंडरॉयड फोन से यूट्यूब वीडियो अपलोड

3. सही तरह से हो कनेक्ट
चार्ज करते समय हमेशा यह देख लें कि चार्जर सही तरीके से पोर्ट के साथ कनेक्ट हो। यदि वह ढीला रह जाएगा तो या ठीक से बैठ नहीं रहा तो उसका प्रयोग न करें। एक तो इससे चार्जिंग में तकलीफ होगी दूसरा फोन का चार्जिंग स्लाट भी खराब कर सकता है।

4. वायरलेस चार्जिंग से बचें
आज कई फोन में वायरलेस चार्जिंग है। परंतु बैटरी हेल्थ के लिए ये वायरलेस चार्जिंग बहु​त अच्छे नहीं होते हैं। वायरलेस चार्जर बैटरी चार्जिंग क्षेत्र में गर्मी पैदा कर देते हैं। इस दौरान भारी मात्रा में ऊर्जा की खपत भी होती है। यह गर्मी बेवजह बैटरी को भी गर्म करती है और गर्मी से फोन को भी नुकसान हो सकता है।

5. नकली चार्जर से बचें
अक्सर फोन का चार्जर खराब हो जाता है और हम बाजार से सस्ते नकली चार्जर उठा लाते हैं। ये चार्जर फोन के लिए बेहद खतरनाक होते हैं। क्योंकि ये चार्जर कितना पावर सप्लाई कर रहे हैं इन सबकी जानकारी आपके पास नहीं होती है। इनका कोई पैमाना नहीं होता और ये फोन को खराब भी कर सकते हैं।

5 ऐप्लिकेशन जो करते हैं सबसे ज्यादा बैटरी की खपथ

6. चार्जिंग साइकल
दिन में तो अक्सर आप फोन को चार्ज में लगाते हैं और बार—बार उसे निकाल देते हैं। परंतु आपको मालूम नहीं कि हर बैटरी की लाईफ-साइकल होती है। जैसे किसी बैटरी की लाईफ-साइकल 500 है तो किसी की किसी की 700। एक बार अपने चार्ज पर लगा दिया और फिर उसे निकाल लिया तो साईकल पूरा हो जाता है चाहे फोन पूरी तरह चार्ज हो या न हो। ऐसे में आप जितनी बार फोन को चार्ज पर लगाते हैं और उसे हटाते हैं बैटरी का लाईफ—साइकल घटता जाता है। ऐसे में आपने गौर किया होगा कि जो लोग जल्दी-जल्दी फोन को चार्ज पर लगाते हैं और हटाते हैं उन्हें जल्दी फोन की बैटरी बदलने की जरूरत होती है।

7. फोन के साथ दिए चार्जर का ही करें उपयोग
आपके फोन के साथ जो चार्जर दिया गया होता है, हो सके तो उसी चार्जर का उपयोग करें। इससे बैटरी और फोन दोनों सुरक्षित होगा।

8. महीनों में एक बार फोन को करें रिस्टार्ट
वैसे तो आप लगातार फोन का उपयोग करते हैं लेकिन बैटरी की सुरक्षा के लिए जरूरी है कि आप एक बार महीने में अपने फोन को रिस्टार्ट कर दें। इससे भी आपके फोन का बैटरी परफॉर्मेंस बेहतर होगा।
navigation-car-drive-road-1
9. गर्मी में न करें चार्ज
अक्सर कार में या कहीं ऐसी जगह फोन रखकर चार्जिंग में लगा देते हैं। परंतु मालूम नहीं कि इससे फोन की बैटरी पर असर होता है। 32 डिग्री से ज्यादा के टैंपरेचर पर बैटरी अपनी 6 फीसदी क्षमता खो देता है। टैंपरेचर ज्यादा हो तो यह आंकड़ा और बढ़ जाता है। इतना ही नहीं ज्यादा टैंपरेचर में फोन ब्लास्ट होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए फोन को सुरक्षित जगह रखकर ही चार्ज करें। वहीं यह भी ध्यान रहे कि चार्जिंग के दौरान फोन बेड या कोई ऐसी जगह न हो जो आसानी से आग पकड़ ले।