अरे वाह! अफ्रीका की सड़कों पर सरपट दौड़ेंगे ‘Made in UP’ ई-रिक्शा

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसके साथ ही अब रिक्शा भी इेल्कट्रिक आ गए हैं। ई-रिक्शान का चलन छोटे शहरों से लेकर बड़े शहरों में खूबर देखा जा रहा है। वहीं, अब खबर सामने आई है कि यूपी की ईवी सिटी में बने ई-रिक्शा यूगांडा तथा नेपाल की सड़कों पर चलते हुए दिखेंगे। दरअसल, यूपी की इलेक्ट्रिक वाहन मैन्युफैक्चरिंग नीति ने दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान में ई-रिक्शा बना रहे कारोबारियों को लुभाया है, जिसके चलते राज्यों में ई-रिक्शा बनाकर उन्हें देश भर में बेचने वाले 50 बड़े कारोबारियों ने अब यहां पर अपनी फैक्ट्री लगाने का फैसला कर लिया है। यह फैक्ट्रियां जल्द लगाने के लिए सरकार भी कारोबारियों की मदद कर रही है।

दरअसल, यूगांडा एवं नेपाल को ई-रिक्शा भेजने वाली कंपनी ने भी ईवी सिटी में अपनी फैक्ट्री लगाने में रूचि दिखाई है। इसलिए आने वाले समय में अफ्रिका और एशिया में मेड इन यूपी ई-रिक्शा चलते हुए दिखाई देंगे। इसे भी पढ़ें: Top Upcoming Electric Cars In India : भारत में रफ़्तार भरेंगी ये टॉप इलेक्ट्रिक कार, Tigor EV से लेकर Tesla Model 3 लॉन्च के लिए तैयार

e-rickshaw

आपको बता दें कि यमुना एक्सप्रेस औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने इन कारोबारियों को सेक्टर-28 में 100 एकड़ जमीन दिलाने की बात कही है। सेक्टर-28 में इस जमीन को इलेक्ट्रिक व्हीकल सिटी (ईवी सिटी) के रूप में बनाया जाएगा। वहीं, इस ईवी सिटी में जल्दी ही ई-रिक्शा बनाने वाली कंपनी तथा उनसे जुड़ी बैटरी एवं मैन्युफैक्च रिग कंपनियों को जमीन आवंटित की जाएगी, ताकि जल्द से जल्द यूपी पहली नियोजित ईवी सिटी में ई-रिक्शा का निर्माण शुरू कर पाए।

बताया जा रहा है कि इलेक्ट्रिक व्हीकल सिटी में उद्योग लगाने वाले कारोबारियों को 50 प्रतिशत ब्याज में छूट 7 साल तक मिलेगी। इसके अलावा रिसर्च एंड डेवलपमेंट पर 5 प्रतिशत की सब्सिडी मिलेगी। इलेक्ट्रिक ड्यूटी 10 साल के लिए माफ होगी। स्टेट जीएसटी में 10 साल तक 90 प्रतिशत की छूट मिलेगी। 200 कर्मचारियों तक पीएफ में सरकार सहयोग करेगी। सरकार यूपी में पूरी तरह से विकास की ओर अग्रसर दिखाई दे रही है। इसे भी पढ़ें: Maruti Suzuki और Toyota बना रहे हाइब्रिड इलेक्ट्रिक व्हीकल, चलते-चलते होगी चार्ज

इतने समय में चार्ज होती है Electric Car

इलेक्ट्रिक व्हीकल को दो तरह से चार्ज किया जा सकता है। इलेक्ट्रिक व्हीकल में दी जाने वाली फ़ास्ट चार्जिंग के ज़रिए कार की बैटरी को से एक से दो घंटे में फ़ुल चार्ज किया जा सकता है। इसके साथ ही स्लो चार्जिंग के ज़रिए कार की बैटरी फ़ुल चार्ज होने में छह से सात घंटे का समय लेती है।

Electric Car सिंगल चार्ज पर कितनी किलोमीटर चलती है?

इलेक्ट्रिक कार को लेकर सबसे पहला सवाल यही रहता है कि सिंगल चार्ज में यह कितने किलोमीटर की रेंज ऑफ़र करती है। यह सब कार में लगी बैटरी पैक, कार चलाने के तरीक़े पर निर्भर करता है। आमतौर पर 15KMH बैटरी पैक वाली इलेक्ट्रिक कार क़रीब 100 से 150 किलोमीटर की रेंज ऑफ़र करती है। इंडियन इलेक्ट्रिक कार मार्केट की बात करें तो मौजूदा समय में इंडियन इलेक्ट्रिक कार सिंगल चार्ज में 300 से 350 किलोमीटर की रेंज ऑफ़र करती है। दुनिया की नंबर वन इलेट्रिक व्हीकल निर्माता कंपनी Tesla की गाड़िया सिंगल चार्ज में करीब 500 किलोमीटर तक की रेंज ऑफ़र करती है।

LEAVE A REPLY