मुकेश अंबानी ने खोला राज, बताया कैसे बना जियो

5 reliance jio achievements mukesh ambani chairman

वर्ष 2016 और ​तारीख 5 सितंबर यह दिन मोबाइल इतिहास में हमेशा याद किया जाएगा। यह वही दिन है जब रिलायंस जियो ने अपनी 4जी सर्विस भारत में लॉन्च की थी। लगभग डेढ़ साल पहले कंपनी ने भारत में कदम रखा और आज दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल ब्रॉडबैंड सर्विस प्रदाता बन गया। इतना ही नहीं जियो के दम पर ही भारत दुनिया में सबसे ज्यादा डेटा खपथ करने वाला देश बन गया। लॉन्च से लेकर अब तक कंपनी ने ऐसे आॅफर्स पेश किए कि लोगों ने हाथो हाथ लिया है। लॉन्च के लगभग डेढ़ साल में ही कंपनी 16 करोड़ से ज्यादा यूजर जोड़कर कीर्तिमान स्थापित कर दिया है। आज भारत सहित विश्व भर में जियो की चर्चा होती है।

परंतु शायद आपको मालूम नहीं कि इस जियो के पीछे सबसे पहला आइडिया किसका था। रिलांयस इंडस्ट्रीज ‘ फाइनेंशियल टाइम्स आर्सेलरमित्तल बोल्डनेसइन बिजनेस पुरस्कार अवॉर्ड से सम्मानित किया जाना था और इस मौके पर रिलायंस ​इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी भी मौजूद ​थे। अंबानी ने पुरस्कार ग्रहण करते हुए अपने भाषण में रिलायंस जियो बनने के पीछे की कहानी बयां की।

उन्होंने बताया कि रिलायंस जियो के पीछे सबसे पहला आइडिया मेरी बेटी ईशा ​अंबानी की थी। 2011 वह अमेरिका के येल में पढ़ाई कर रही थी और छुट्टियां बिताने के लिए घर आई थी। उस दौरान उसे कोर्सवर्क भेजना था और घर का इंटरनेट बेहद ही धीमा था। उसने यह बात मुझे बताई कि डैट इंटरनेट अटक रहा है।

इसके बाद ईशा के जुड़वा भाई आकाश ने उस कहा कि फोन पर बात करना और कॉल करना तो पुरानी दुनिया की दूरसंचार तकनीक हैं। आज के आधुनिक दुनिया में सबकुछ डिजिटल है। उन्होंने कहा कि ईशा और आकाश भारत की युवा पीढ़ी हैं जो कि कहीं हमसे कहीं ज्यादा क्रियेटिव हैं और दुनिया में बेस्ट बनने की चाह रखते हैं। उन्होंने बताया कि इंटरनेट आज जरूरत है और भारत इस तनकीक से ज्यादा दिन पीछे नहीं रह सकता।

इसके बाइ सितंबर 2016 में जियो असतित्व में आया और आज भारत में बदलाव का सबसे बड़ा कारण बन गया है। जियो विश्व का सबसे बड़ा स्टार्टअप है और यह आगे 5जी के लिए भी तैयार है।