नोकिया 3 बनाम शाओमी रेडमी 3एस, क्या शाओमी से बाजी मार पाएगा नोकिया

नोकिया ने कल अपने सबसे सस्ते एंडरॉयड स्मार्टफोन नोकिया 3 का प्रदर्शन कर दिया। अब तक मिली जानकारी के अनुसार कंपनी इसे 7 या 8,000 रुपये के बजट में लॉन्च कर सकती है। इस बजट में देखा जाए तो शाओमी रेडमी 3एस स्मार्टफोन की बादशाहत है। बेहतरीन स्पेसिफिकेशन के बल पर कंपनी पिछले छह माह से भी ज्यादा समय से यह इस बादशाहत कायम किए हुए है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या नोकिया 3 इतना दमदार है कि शाओमी रेडमी 3एस प्राइम को टक्कर दे स​के। आगे हमने हर सेग्मेंट में दोनों फोन को जांचा है और निष्कर्ष आपके सामने है।

स्टाइल व लुक
xiaomi-redmi-3s-1
शाओमी रेडमी 3एस और शाओमी रेडमी 3एस प्राइम मैटल यूनिबॉडी​ डिजाइन में उपलब्ध है। स्लीक डिजाइन का यह फोन देखने में काफी स्टाइलिश है। इसका वजन 144 ग्राम है और मोटाई 8.5 एमएम है। फोन के कोने थोड़े कर्व हैं जो इसे पकड़ने में आरामदायक बनाते हैं। कुल मिलाकर देखें तो इसका लुक शानदार है।

नोकिया 3 की बॉडी मैटल और पॉलीकार्बोनेट से बनी है। मैटल का फ्रेम उपयोग किया गया है जबकि बैक पैनल पॉलीकार्बोनेट का दिया गया है। फोन के साइट कर्व्ड है जो इसे पकड़ने में आरामदायक बनाते हैं। यह फोन भी मात्र 8.48 एमएम मोटा है। ऐसे में कहा सकता है कि मोटाई बराबर है लेकिन मैटल बॉडी वाला शाओमी रेडमी 3एस ज्यादा अच्छा कहा जाएगा।

स्क्रीन व डिसप्ले
शाओमी रेडमी 3एस में 5-इंच की स्क्रीन दी गई है। इसका स्क्रीन रेजल्यूशन 720×1280 पिक्सल है। फोन की स्क्रीन गोरिल्ला ग्लास कोटेड नहीं है।
nokia-3-launch-1
नोकिया 3 में 5-इंच की 2.5डी कर्व्ड आइपीएस स्क्रीन गई है। इसका भी स्क्रीन रेजल्यूशन एचडी (720×1280 पिक्सल) है। फोन की स्क्रीन कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास कोटेड है जो इसे सुरक्षित रखता है। ऐसे में कहा जा सकता है कि नोकिया डिसप्ले के मामले में बाजी मार जाता है।

प्रोसेसर
शाओमी रेडमी 3एस को क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 430 चिपसेट पर पेश किया गया है। इस फोन में 1.4गीगाहट्र्ज क्लॉक स्पीड वाला 64बिट्स का आॅक्टाकोर प्रोसेसर दिया गया है। इसके साथ ही एड्रीनो 505 जीपीयू है।
xiaomi-redmi-3s
नोकिया 3 को कंपनी ने मीडियाटेक 6737 चिप​सेट पर पेश किया है और बेहतर प्रोसेसिंग के लिए 1.3गीगाहट्र्ज का कोर्टेक्स ए53 प्रोसेसर दिया गया है। इसके साथ ही माली—टी720एमपी2 जीपीयू दिया गया है। प्रोसेसर के मामले में शाओमी रेडमी 3एस बेहतर कहा जा सकता है।

रैम व मैमोरी
शाओमी रेडमी 3एस के दो संस्करण है। 2जीबी रैम के साथ 16जीबी मैमोरी और दूसरा संस्करण 3एस प्राइम​ है जिसमें 3जीबी रैम के साथ 32जीबी इंटरनल मैमोरी। इसमें 128जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड का उपयोग किया जा सकता है।
nokia-3-launch-2
नोकिया 3 में 2जीबी रैम और 16जीबी की इंटरनल मैमोरी दी गई है। इसके साथ ही इसमें मैमोरी कार्ड सपोर्ट भी है जहां आप 128जीबी तक के कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। यहां आप किसी फोन को आगे नहीं कह सकते।

कैमरा
फोटोग्राफी के लिए शाओमी रेडमी 3एस में 13-मेगापिक्सल का मेन कैमरा​ दिया गया है जबकि सेकेंडरी कैमरा 5-मेगापिक्सल का है।
nokia-3-camera
नोकिया 3 में फ्रंट और बैक दोनों कैमरे 8—मेगापिक्सल के हैं। मेगापिक्सल को देखकर आप कह सकते हैं कि रियर कैमरा शाओमी का अच्छा है लेकिन सेल्फी के मामले में नोकिया आगे है। परंतु याद रहे कि कैमरा के मामले में शुरू से ही नोकिया का सानी कोई नहीं रहा है।

सॉफ्टवेयर
शाओमी रेडमी 3एस प्राइम मीयूआई 7 पर रन करता है जो एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम 6.0 मार्शमेलो पर आधारित है।
xiaomi-redmi-3s-os
नोकिया 3 को एंडरॉयड आॅपरेटिंग सिस्टम 7.0 नुगट पर पेश किया गया है और इसमें आपको स्टॉक एंडरॉयड मिलेगा जो आपको शाओमी के मीयूआई से कहीं बेहतर कहा जाएगा।

कनेक्टिविटी
शाओमी रेडमी 3एस प्राइम में दोहरा सिम सपोर्ट है। फोन का दूसरा स्लॉट हाईब्रीड है और आप मैमोरी कार्ड या फिर सिम में से किसी एक का ही उपयोग कर पाएंगे। वहीं डाटा के लिए इसमें वाईफाई, 3जी के अलावा 4जी वोएलटीई सपोर्ट है। शाओमी रेडमी 3एस में फिंगरप्रिंट सेंसर नहीं है जबकि इसका 3जीबी रैम वाले मॉडल ​3एस प्राइम में आपको फिंगरप्रिंट सेंसर मिलेगा।
xiaomi-redmi-3s-prime-design 91Mobiles
नोकिया सिंगल सिम और डुअल सिम सपोर्ट के साथ मिलेगा। वहीं इसका स्लॉट हाईब्रीड नहीं है। ऐसे में आप डुअल सिम के साथ माइक्रोएसडी कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा 3जी 4जी और वोएलटीई सपोर्ट भी मिलेगा। नोकिया 3 में फिंगरप्रिंट सेंसर नहीं दिया गया है।

पावर बैकअप
शाओमी रेडमी 3एस प्राइम में 4,100 एमएएच की बैटरी दी गई है।
nokia-3_beautyshot_original
नोकिया 3 में 2,650 एमएएच की बैटरी है। बैटरी के मामले में नोकिया पीछे कहा जा सकता है लेकिन ध्यान देने वाली बात है कि नोकिया सॉफ्टवेयर शुरू से ऐसे रहे हैं जो कम बैटरी खपत के लिए जाने जाते हैं।

निष्कर्ष
शाओमी रेडमी 3एस की कीमत 6,999 रुपये है। वहीं इसका 3जीबी रैम वाला मॉडल 8,999 रुपये में उपलब्ध है। नोकिया फोन को भी इसी बजट में आने की उम्मीद है। ऐसे में आप देख सकते हैं कि प्रोसेसर लुक और बैटरी के मामले में शाओमी रेडमी 3एस आगे है। अर्थात कहा जा सकता है कि शाओमी ज्यादा ताकतवर होगा। परंतु याद रहे कि भारत में एक वाक्या बड़ा फेमस है कि नोकिया नोकिया है। अर्थात फीचर स्पेसिफिकेशन भले ही कम लगे लेकिन बेहतर सॉफ्टवेयर के बदौलत नोकिया फोन परफॉर्मेंस में आगे होते हैं। ऐसे में कहा जा सकता है कि ​फिलहाल किसी ठोस निर्णय पर आने से पहले नोकिया फोन को भारत में आने का इंतजार करते हैं।

SHARE
Previous articleशाओमी रेडमी नोट 4 को टक्कर देने 15 मार्च को आ रहा मोटो जी5
Next articleजेडटीई ने प्रदर्शित किया दुनिया का यह पहला 5जी स्मार्टफोन
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 11 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 10 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।