Nokia C3 रिव्यू: स्मार्ट OS के साथ नोकिया का अहसास, लेकिन फीचर्स में थोड़ा पीछे

लॉकडाउन खत्म होने के बाद नोकिया ने मिड और बजट सेग्मेंट में अपने फोंस पेश किए। मिड सेग्मेंट में जहां नोकिया 5.3 को पेश किया गया है वहीं बजट सेग्मेंट में कंपनी नोकिया सी3 को लेकर आई है। अच्छी बात यह कही जा सकती है कि पहले जहां हार्डवेयर व स्पेसिफिकेशन के मामले में नोकिया फोंस को थोड़े पीछे कहे जाते थे वहीं इस बार काफी कॉम्पेटेटिव माने जा रहे हैं और खास कर बजट सेग्मेंट वाले नोकिया सी3 को लेकर अच्छा खासा शोर है। यह फोन हमारे पास भी आया और आते ही हमने इसके रिव्यू की शुरुआत कर दी। लगभग 10 दिनों के उपयोग में जो अनुभव किया उसे लिख रहा हूं।

Nokia C3 डिजाइन और डिसप्ले

डिजाइन को देखकर कहा जा सकता है कि Nokia ने इस बार भी नए डिज़ाइन को नहीं चुना है। पुराने फ्रेमवर्क पर ही काम कर रही है। हालांकि कलर में नयापन है। Nokia C3 को दो रंग के विकल्पों में पेश किया गया है, जिनमें Nordic Blue और Sand कलर शामिल हैं। रिव्यू के लिए हमारे पास Sand ब्लू रंग का वेरिएंट कंपनी द्वारा भेजा गया था। यह रंग निश्चित रूप से आकर्षक है। खास बात कही जा सकती है कि जहां आज कई कंपनियां यूनिबॉडी डिजाइन को पूरी तरह से अपना चुकी हैं वहीं इसका बैक पैनल रिमूवेबल है जो कि पुरानी यादों को ताजा जरुर करता है। इसका फायदा यूजर्स को भी है। फोन के बैक को रिमूव कर सिम कार्ड, बैटरी और माइक्रोएसडी कार्ड को खुद से लगाया जा सकता है। बैटरी बदलने के लिए आपको सर्विस सेंटर जाने की जरूरत नहीं है और न ही ज्यादा पैसा पेड करना पड़ेगा। नैनो-सिम कार्ड के लिए दो स्लॉट हैं, इसलिए आपको किसी भी एडेप्टर की आवश्यकता नहीं होगी। लेकिन, फोन का बैक पैनल पूर्ण रूप से प्लास्टिक का है। क्वालिटी ठीक—ठाक है लेकिन हम और बेहतर की उम्मीद कर रहे थे। यह डिवाइस 8.69 मिमी से ज्यादा मोटा नहीं है और इसका वजन भी 184.5 ग्राम है जो कि ज्यादा नहीं कहा जा सकता।

nokia-3-new-1

वहीं, नोकिया सी3 के रियर पर एक कैमरा मॉड्यूल और फिंगरप्रिंट सेंसर है। साथ ही बैक पैनल पर उंगलियों के निशान नहीं पड़ते और अच्छी ग्रिप मिलती है। वॉल्यूम और पावर बटन फोन के दाईं ओर हैं, जबकि डेडिकेटेड गूगल असिस्टेंट बटन बाईं ओर प्लेस किया गया है। टॉप पर फोन में एक हेडफोन जैक और सबसे नीचे एक माइक्रो-यूएसबी पोर्ट दिया गया है। स्पीकर के लिए कोई कटआउट नहीं है और ऐसा इसलिए है क्योंकि Nokia C3 लाउडस्पीकर के रूप में अपने इयरपीस का उपयोग करता है। इसे भी पढ़ें: क्या आप अब भी करते हैं Nokia से प्यार? जानें नोकिया के बनने, मिटने और फिर बनने की कहानी

nokia 3

फ्रंट पैनल की बात करें तो फोन में 5.99-इंच एचडी+ आईपीएस डिसप्ले है। फ्रंट में भी बैक की तरह कुछ नयापन नहीं मिलता है। लेकिन, अगर इस डिजाइन को भी भूल जाएं तो फोन में नॉच न होने की बात को भूला नहीं जा सकता। पुराने जमाने की तरह डिवाइस के टॉप और बॉटम पर बेज़ल देखने को मिलेंगे। इतना जरूर कहा जा सकता है कि बेज़ल पुराने फोन के मुकाबले कम कर दिए गए हैं और बड़ी स्क्रीन के बावजूद डिजाइन कॉम्पैक्ट है।

रही बात डिसप्ले क्वालिटी की तो इस रेंज में मुख्य रूप से आपको एचडी+ रेजल्यूशन वाले फोन ही मिलते हैं। फोन का डिसप्ले अच्छा है लेकिन तेज धूप में टेक्सट आदि देखने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है। वहीं स्क्रीन प्रोटेक्शन के बारे में भी कंपनी ने कोई जानकारी नहीं दी है। इसे भी पढ़ें: क्या आपको याद हैं Nokia के ये अनोखे डिजाइन वाले फोन?

nokia 3

हार्डवेयर और परर्फोमेंस

मीडियाटेक और क्वालकॉम को छोड़कर Nokia C3 को Unisoc SC9863A चिपसेट पर पेश किया है। यह एक ऑक्टाकोर प्रोसेसर है जिसमें दो क्वाडकोर प्रोसेसर शामिल हैं। हैवी ऐप के लिए इसमें एक 1.6 GHz क्लॉक स्पीड वाला क्वाडकोर प्रोसेसर है जबकि नॉर्मल कामों के लिए 1.2 GHz का प्रोसेसर है। यह 28nm वाले कोर्टेक्ट ए55 आर्किटेक्चर पर काम करता है। फोन में 2GB रैम के साथ 16GB की मैमोरी और 3GB रैम के साथ 32GB स्टोरेज उपलब्ध है।

अगर बात करें फोन के परफॉर्मेंस की तो आपको यह निराश नहीं करेगा। फोन के उपयोग के दौरान गैलरी ओपन करने से लेकर नॉर्मल इस्तेमाल में फोन लैग कर रहा था। इससे पहले भी हम नोकिया फोन का उपयोग कर चुके हैं जिनमें स्पेसिफिकेशन तो साधारण हैं लेकिन परफॉर्मेंस में अपने पुराने मॉडल नोकिया सी2 से काफी बेहतर था।

nokia-3

डेली बेसिस पर आप इसमें हल्के—फुलके गेम खेल सकते हैं, मैसेजिसंग, वॉट्सऐप चैट ईमेल आदि में कोई समस्या नहीं मिलेगी। यदि मल्टीटास्किंग बहुत ज्यादा करते हैं तो थोड़ा धीमा जरूर हो जाता है। यहां एक बात और बताना चाहूंगा कि यदि आप हैवी गेमर हैं तो फिर आपके लिए यह फोन नहीं है। छोटे—मोटे गेम यह आसानी से रन कर देता है जबकि हमने इसमें अस्फाल्ट 9 जैसे गेम रन किए तो वहां परेशानी हुई। हैवी गेम होने के कारण इसे ओपेन होने में कुछ समय लगा। गेम खेलने को दौरान थोड़ी परेशानी हुई और फ्रेम ड्रॉप होने के साथ ही फोन कुछ समय में हीट होने लगा। हां टेंपल रन और कैंडी क्रश आदि में कोई समस्या नहीं होगी।

बैटरी परर्फोमेंस

पावर बैकअप के लिए इस बजट फोन में 3,040mAh की बैटरी दी गई है। हालांकि, इस कीमत में आपको 5000mAh तक की बैटरी वाले फोन्स मिल जाएंगे इसलिए पहली नजर में यह कम लगेगा। परंतु जब आप इसका उपयोग करेंगे तो कहेंगे कि इतनी बैटरी काफी है। एक बार चार्ज करने पर हमे लगभग 2 घंटे से ज्यादा का समय लगा और नॉर्मल इस्तेमाल में बैटरी से एक पूरा दिन आराम से निकल गया। इसे भी पढ़ें: पसंद है Nokia ब्रांड लेकिन फिर भी बना रहे दूरी, जानें क्या है भारतीयों की मजबूरी
nokia-3-new-1

कैमरा

Nokia C3 में सिंगल 8-मेगापिक्सल का रियर कैमरा और 5-मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है। ऑटोफोकस आमतौर पक कम रोशनी में खराब हो जाता है। कैमरा ऐप में कुछ शूटिंग मोड हैं, लेकिन कुछ सामान्य फीचर्स जैसे पोर्ट्रेट मोड गायब है। लेकिन, इसकी जगह डिवाइस में ऑटो-एचडीआर फ़ंक्शन है जो अच्छा है। अच्छी रोशनी कंडिशन में यह फोन ठीक—ठाक फोटोज क्लिक कर लेता है लेकिन लो लाइट में इससे फोटोग्राफी की सलाह मैं नहीं दूंगा।


वहीं, सेल्फी में भी ओके है बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता। Nokia C3 की मदद से आप 1080p पर वीडियो को शूट कर सकते हैं। लेकिन, क्वालिटी से समझौता करना पड़ सकता है।
nokia-c3
Nokia C3 daylight camera sample

कनेक्टिविटी

दोहरा सिम आधारित इस फोन में 4जी के अलावा ब्लूटूथ, वाई—फाई और हॉटस्पॉट है। इसके अलावा माइक्रो यूएसबी 2.0 कनेक्टिविटी दिया गाय है। सिम कार्ड लगाने के लिए अपको कवर हटाना होगा। वहीं माइक्रोएसडी कार्ड का स्लॉट भी कवर के नीचे ही है। फोन में सेल्स पैक के साथ बैटरी, केबल और एडप्टर मिलता है।

9

निष्कर्ष

भारतीय बाजार में Nokia C3 के 2GB रैम और 16GB मैमोरी वेरियंट की कीमत 7499 रुपए है वहीं 3GB रैम और 32GB स्टोरेज वाला मॉडल 8999 रुपए आता है। अब सवाल यही है कि क्या यह फोन लेने लायक है? लेने के पीछे दो-तीन कारण हो सकते हैं जो ये हैं।

नोकिया का ब्रांड और दूसरा ओएस। स्टॉक एंड्रॉयड है जो एंडरॉयड वन इंटीग्रेटेड है। आगे भी दो साल तक आपको अपडेट मिलेगा। वहीं गूगल असिस्टेंट बटन इसके उपयोग को और आसान बनाता है। प्राइस के हिसाब से स्पेसिफकेशन थोड़े जस्टीफाई नहीं करते हैं। इस बजट में रियलमी, शाओमी के पास थोड़े अच्छे ऑप्शन हैं। वहीं सैमसंग गैलेक्सी एम01 भी देखा जा सकता है।

LEAVE A REPLY