Oneplus 7 Pro रिव्यू : दमदार परफॉर्मेंस लेकिन कीमत की वजह से रह जाता है पीछे

oneplus-7-pro-review-in-hindi

पिछले साल Oneplus 6 और बाद में 6जी को लॉन्च किया गया था। वहीं इस बार Oneplus 7 फोन को लेकर काफी चर्चा थी। हालांकि लॉन्च से लगभग एक माह पहले खबर आई कि कंपनी इस बार दो मॉडल पेश कर सकती है और यह हुआ भी। Oneplus 7 के साथ ही कंपनी ने Oneplus 7 Pro प्रो को भी लॉन्च कर दिया। सबसे खास बात थी कि प्रो वेरियंट पहले सेल के लिए उपलब्ध हुआ और हमारे पास भी रिव्यू के लिए यही फोन पहले आया।

oneplus-7-pro-review-in-hindi

प्रो जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है यह Oneplus 7 के स्टैंडर्ड एडिशन का ही बड़ा वेरियंट है और इसमें कई चीजें वनप्लस 7 से अडवांस हैं। वहीं कीमत में भी काफी अंतर है। भारतीय बाजार में वनप्लस 7 प्रो की शुरुआती कीमत 48,999 रुपये है और इस रेंज में सैमसंग की एस10 सीरीज भी उपलब्ध है जो बेस्ट लुक के साथ शानदार परफॉर्मेंस के लिए जानें जाते हैं। ऐसे में फ्लैगशिप कीलर कहे वाले वाले वनप्लस की टक्कर सीधे फ्लैगशिप से है। अब सवाल यही उठता है कि ब्रांड सैमसंग की ओर जाएं या फिर वनप्लस बेस्ट है। जो चलिए इस रिव्यू में पता करते हैं। इसे भी पढ़ें: Google Pixel 3a और Pixel 3a XL Review : कमाल का कैमरा और स्मूथ यूआई लेकिन थोड़ा महंगा

यूनीक डिजाइन
oneplus-7-pro-review-in-hindi
वनप्लस 6टी को डिजाइन के मामले में काफी सराहा गया था और Oneplus 7 Pro इस मामले में एक स्टेप आगे है। फोन बैक पैनल ग्लास का बना है जिसकी क्वालिटी बहुत अच्छी है। वहीं कर्व्ड बॉडी पकड़ने पर बहुत अच्छा अहसास कराता है। हां थोड़ा ज्यादा चिकना है ऐसे में हाथ से हमेशा फिसलने का डर लगता है लेकिन सेल्स पैक के साथ सिलिकॉन कवर दिया गया है। सबसे खास बात की ग्लास बॉडी के बाद भी पिछले पैनल में उंग्लियों के निशान नहीं के बराबर पड़ते हैं। हमारे पास Oneplus 7 Pro का ब्लू वेरियंट रिव्यू के लिए आया था जिसे मेटैलिक ग्रेडियंट कलर में पेश किया गया है। परंतु इसका ग्रेडियंट औरों से बिल्कुल अलग है और स्मूथ अहसास कराता है।

oneplus-7-pro-review-in-hindi

फोन के पिछले पैनल में सिलेंडर शेप के अंदर तीनों कैमरे उपलब्ध हैं और उसके बाहर फ्लैश और फिर कंपनी का लोगो देखने को मिलेगा। वहीं साइड पैनल की ओर रुख करें तो दाई और वायबरेशन बटन और पावर बटन दिया गया है जबकि बाईं ओर वॉल्यूम रॉकर है। इसे भी पढें: Samsung Galaxy A70 रिव्यू: बड़ी स्क्रीन, बड़ी बैटरी और ट्रिपल कैमरा इस फोन को बनाते हैं बड़ा

oneplus-7-pro-review-in-hindi

उपर में पॉप-अप कैमरा और नीचे में सिम स्लॉट, यूएसबी टाइप सी स्लॉट और लाउडस्पीकर ग्रिल दिया गया है। फोन में मैमोरी कार्ड नहीं है और सिम के लिए भी सिर्फ एक ही खांचा है। एक सिम ट्रे में ही उपर और नीचे दोनों सिम लगते हैं। इस तरह का प्लेसमेंट हम पहले हुआवई फोन में देख चुके हैं। फ्रंट में आते हैं तो जैसा कि आपको मालूम है इसमें पॉप कैमरा दिया गया है। ऐसे में कोई भी नॉच या बेज़ल देखने को नहीं मिलेगा। बल्कि नीचे में भी बेज़ल काफी कम हो गए हैं। कुल मिलाकर डिजाइन काफी शानदार लगा और प्रीमियम क्वालिटी का अहसास कराता है। इसे भी पढें: नोकिया 4.2 रिव्यू: कॉम्पैक्ट डिजाइन और स्टॉक एंडरॉयड के बाद परफॉर्मेंस में रह जाता है पीछे

oneplus-7-pro-review-in-hindi

खूबी के बाद डिजाइन में खामी की ओर रुख करें तो सबसे पहले तो यही कहेंगे कि पहली बार फोन पकड़ने में आपको काफी भारी लगेगा। आज फोन में स्क्रीन बड़ी हो गई है और वजन भी 180 ग्राम के लगभग होते हैं। परंतु इसका वजन 206 ग्राम है और थोड़ा वजनी प्रतीत होता है। वहीं दूसरी कमी कवर की कहेंगे। फोन के साथ सिलिकॉन कवर दिया गया है जबकि 50,000 रुपये के बजट में आप और बेहतर क्वालिटी की आशा करते हैं। इस तरह का कवर आज 5,000 रुपये के बजट में उपलब्ध होता। इसके अलावा आप कह सकते हैं कि अब जब वनप्लस महंगा हो गया है तो फिर इसे वाटर और डस्ट प्रूफ भी होना चाहिए था। क्योंकि इस बजट में सैमसंग और एप्पल जैसे इसके प्रतियोगी मौजूद हैं और उनमें यह फीचर उपलब्ध है। ऐसे में बाकी कमियों को आप छोड़ भी सकते हैं लेकिन इसकी वाटर प्रूफ और डस्ट प्रूफ न होना बड़ी कमी मानी जाएगी।

शार्प डिसप्ले
oneplus-7-pro-review-in-hindi

Oneplus 7 Pro में 6.67-इंच की एमोलेड स्क्रीन दी गई है। फोन की स्क्रीन काफी बड़ी है और हाथ में लेने पर इसका अहसास होगा। एक हाथ से आप पूरी स्क्रीन का उपयोग नहीं कर पाएंगे। कंपनी ने इसे क्यूएचडी रेजल्यूशन के साथ पेश किया है और यह कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 कोटेड है। पूरी तरह से बेज़ल लेस इसकी स्क्रीन का आसपेक्ट रेशियो 19.5:9 है। वहीं खास बात यह कही जा सकती है कि इसमें 90Hz रिफ्रेश रेट सपोर्ट है। यह विश्व का पहला फोन है जो डिसप्ले के लिए 90Hz रिफ्रेश रेट सपोर्ट करता है। आज कई स्मार्ट टीवी में 60Hz का रिफ्रेश रेट सपोर्ट है ऐसे में इसे बहुत खास कहा जाएगा। इसका फायदा आपको यह मिलेगा कि जब आप वीडियो देखेंगे तो दूसरे फोन के मुकाबले ज्यादा स्मूथ अहसास कराएगा। हालांकि आज ऑनलाइन स्ट्रीमिंग में 90Hz रिफ्रेश रेट वाले कंटेंट बहुत कम है लेकिन कह सकते हैं कि वनप्लस तकनीक में सबसे आगे है।

oneplus-7-pro-review-in-hindi

इसके अलावा फोन की स्क्रीन एचडीआर10+ कम्पैटिबल है। अर्थात फोन में आपको बिल्कुल वास्तविक अहसास होगा। डिसप्ले के बारे में कह सकते हैं कि बेस्ट है।

पावरफुल हार्डवेयर
oneplus-7-pro-review-in-hindi

डिजाइन में भले ही आप कमी निकाल सकते हैं लेकिन हार्डवेयर सेग्मेंट में वनप्लस बहुत मजबूत रहा है और इसमें भी आप कमी नहीं निकाल सकते। यह भारत का पहला फोन है जिसे क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 855 चिपसेट पर पेश किया गया है। फिलहाल मोबाइल के लिए यह सबसे पावरफुल चिपसेट में से एक है। फोन में ऑक्टाकोर प्रोसेसर है और इसके लिए तीन अलग-अलग क्लॉक स्पीड वाले प्रोसेसर का उपयोग किया गया है। सिंगल कोर प्रोसेसर है जो 2.8 GHz क्लॉक स्पीड वाला है। वहीं दूसरा प्रोसेसर ट्रिपल कोर वाला है और यह 2.42 GHz क्लॉक स्पीड तक सपोर्ट करता है। वहीं तीसरा प्रोसेसर आॅक्टाकोर है जो 1.80 GHz तक की क्लॉक स्पीड को सपोर्ट करता है।

oneplus-7-pro-review-in-hindi

भारतीय बाजार में यह फोन 6जीबी रैम के साथ 128जीबी मैमोरी और 8जीबी व 12जीबी रैम के साथ 256जीबी मैमोरी में उपलब्ध है। इसमें मैमोरी कार्ड सपोर्ट नहीं है और आपको फोन मैमोरी पर ही निर्भर रहना होगा। हालांकि इतनी मैमोरी कम नहीं है।

oneplus-7-pro-review-in-hindi

एक बात का यहां जिक्र करना बेहद जरूरी है। इस फोन को कंपनी ने इसे ufs 3.0 स्टोरेज के साथ पेश किया है। डाटा ट्रांसफर की सबसे फास्ट तकनीक है इसके साथ ही कम पावर खपत भी करती है। इसका अहसास आपको फोन में डाटा ट्रांसफर के दौरान होगा भी। रही बात प्रोसेसिंग कीे तो इस फोन से आप कुछ भी कर लें यह स्लो नहीं होगा। पबजी खेलें या फिर मल्टी टास्किंग यह हर काम को आसानी से हैंडल करने में सक्षम है। पबजी जैसे गेम को आप बिलकुल हाई ग्राफिक्स मोड पर खेलें इसे कोई फर्क नहीं पड़ता। फोन के उपयोग के बाद निर्णय के तौर पर यही कहा जा सकता है कि सबसे फास्ट फोन में से एक है।

स्मार्ट ओएस
oneplus-7-pro-review-in-hindi
Oneplus 7 Pro को एंडरॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम 9 पाई के साथ पेश किया गया है। फोन में आपको ऑक्सीज़न यूआई देखने को मिलेगा। हालांकि उपयोग में यह स्टॉक एंडरॉयड के समान ही है लेकिन थोड़े बदलाव कंपनी ने किए हैं। इसमें ज़ेन मोड का ऑप्शन दिया गया है। इसे ऑन करते ही 20 मिनट तक आपका फोन कोई भी काम नहीं करेगा।

फोन में आपको डार्क मोड, नाइट मोड और रीडिंग मोड जैसे ऑप्शन मिलेंगे। वहीं होम स्क्रीन ले आउट और आईकॉन साइज को बदलने का ऑप्शन भी दिया गया है। ओएस की अच्छी बात यह भी कही जा सकती है कि इसमें गूगल और अमेज़न के अलावा ज्यादा प्रीलोडेड ऐप्स नहीं मिलेंगे। रही बात यूआई की तो काफी आसान है और आपको किसी तरह की कोई समस्या नहीं होगी।

पॉप-अप कैमरा
oneplus-7-pro-review-in-hindi
OnePlus 7 Pro में जहां बैक पैनल में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप देखने को मिलेगा। वहीं सेल्फी के लिए पॉप-अप कैमरा सेटअप दिया गया है। यह पहली बार है जब कंपनी ने पॉप-अप कैमरे के साथ फोन पेश किया है। फोन का मेन सेंसर एफ/1.6 अपर्चर वाला है और कंपनी ने इसे 48-मेगापिक्सल का Sony IMX5867पी लेंस से लैस किया है। यह सेंसर ऑप्टिकल ईमेज स्टेबलाईज़ेशन तकनीक को सपोर्ट करता है। इसके साथ ही दूसरा सेंसर 8-मेगापिक्सल का है जो टेलीफोटो लेंस है। इसमें तीसरा सेंसर 16-मेगापिक्सल का है तो वाइड-एंगल के लिए दिया गया है। यह सेंसर 117-डिग्री फिल्ड ऑफ व्यू सपोर्ट करता है।

oneplus-camera-sample-11

कैमरे के साथ साधारण फोटो मोड के अलावा प्रोट्रेट और नाइटस्केप मोड दिया गया है। यदि पुराने फोन से इसके कैमरे की तुलना करेंगे तो यह काफी प्रभावित करेगाा। परंतु एक साल में कैमरा तकनीक सबसे ज्यादा बदला है और इस रेंज में ओपो रेनो 10एक्स जूम और सैमसंग गैलेक्सी एस10 इस फोन पर भारी पड़ता है। इतना ही नहीं आपको यह भी बता दूं कि साधारण मोड में आप 48एमपी की पिक्चर नहीं ले सकते हैं। इसके लिए आपको प्रो मोड को आॅन करना होगा। प्रो मोड फोन की सेटिंग में उपलब्ध है।

oneplus-camera-sample-1

साधारण फोटो मोड में पिक्सल रेजल्यूशन नहीं बल्कि आसपेक्ट रेशियो बदलने का विकल्प दिया गया है। आप 4:3, 1:1 और फुल डिसप्ले रेशियो में पिक्सल क्लिक कर सकते हैं। प्रो मोड में साधारण जेपीईजी के अलावा 48एमपी जेपीईजी और रॉ फोटो का ऑप्शन दिया गया है। रॉ इमेज का उपयोग मुख्य रूप से फोटोग्राफर करते हैं। ये काफी हैवी इमेज होती हैं और इन्हें एडिट करना आसान हो जाता है।

वीडियो की ओर रुख करें तो Oneplus 7 Pro में 4के वीडियो रिकॉर्डिंग दिया गया है। इसके अलावा स्लो मो सपोर्ट भी है। स्लो मोशन के लिए यह 1080 पिक्सल पर 240 फ्रेम प्रति सेकेंड की दर से शूट करता है। पिक्सल और फ्रेम बदलने का विकप्लप नहीं है। अच्छी बात यह कही जा सकती है कि जहां सैमसंग में आप छोटा स्लो मो वीडियो कैप्चर कर सकते हैं। वहीं यह आपको थोड़ा ज्यादा समय देता है।

oneplus-7-pro-review-in-hindi
सेल्फी के लिए वनप्लस 7 प्रो में पॉप-अप स्टाइल वाला 16-मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है। बेहतर पिक्चर के लिए कंपनी ने Sony IMX471 सेंसर का उपयोग किया है। यह सेंसर 2.0 अपर्चर के साथ आता है और इमसें ईआईएस सपोर्ट है। फोन का सेल्फी कैमरा भी अच्छा है इसे टॉप नहीं कह सकते। गूगल फोन इस मामले में काफी आगे निकल जाते हैं।

नेटवर्क और कनेक्टिविटी
oneplus-7-pro-review-in-hindi
Oneplus 7 Pro में डुअल सिम सपोर्ट दिया गया है और एक ही स्लॉट में दोनों सिम लगते हैं। यह 4जी वोएलटीई सपोर्ट करता है और इसमें वाईफाई और ब्लूटूथ भी है। हालांकि बाहर में कंपनी वनप्लस 7 प्रो का 5जी वेरियंट पेश करने की बात कही है लेकिन इंडिया में अभी नहीं आएगा। हालांकि भारत में 5जी नेटवर्क नहीं है ऐसे में फोन लाकर अभी कोई फायदा भी नहीं है लेकिन यूजर हमेशा कुछ ज्यादा ही चाहते हैं। कमी नहीं है लेकिन होता तो बेहतर कहा जाता।

सिक्योरिटी के लिए यह लगभग सभी अडवांस फीचर्स से लैस है। फोन में इन डिसप्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर दिया गया है। इसके साथ ही फेस अनलॉक भी है। हालांकि इन फीचर्स के उपयोग के बाद कहा जा सकता है कि मार्केट में उपलब्ध सभी फोन से तेज है और फिंगरप्रिंट व फेस अनलॉक जल्दी फेल भी नहीं होता। फोन में एनएफसी भी दिया गया है।

शानदार बैटरी बैकअप
oneplus-7-pro-review-in-hindi
वनप्लस 7 प्रो में 4,000 एमएएच की बैटरी दी गई है। कंपनी ने इसे फास्ट चार्जिंग के साथ पेश किया है और यह वास्तव में कमाल का है। एक घंटे से भी कम समय में पूरी तरह से चार्ज हो जाता है। वहीं बैटरी बैकअप की ओर रुख करें तो वहां भी आपको यह निराश नहीं करेगा। यदि आप औसत यूज करते हैं और हैवी गेमर नहीं हैं तो फिर एक दिन आराम से निकाल देता है। कुल मिलाकर बैटरी सेग्मेंट संतोषजनक है।

निष्कर्ष
oneplus-7-pro-review-in-hindi
इसमें कोई दो राय नहीं है कि Oneplus 7 Pro प्रो एक बेहतरीन डिवाइस है। परंतु पहले जहां वनप्लस को फ्लैगशिप कीलर कहा जाता था।वहीं इस बार आप इसे फ्लैगशिप तो कह सकते हैं लेकिन किलर नहीं कह सकते 50,000 रुपये के बजट में अब यह भी फ्लैगशिप सेग्मेंट में आ गया। रही बात परफॉर्मेंस की तो हां बहुत बेहतर है और पॉपअप कैमरा इसके स्टाइल को और खास बनाता है। बजट के अनुसार बिल्ट क्वालिटी भी प्रीमियम है और बैटरी बैकअप भी शानदार है।

samsung-galaxy-s10-best-review-in-hindi

कमियों की ओर रुख करें तो कैमरा आपको निराश नहीं करेगा लेकिन इसे बेस्ट नहीं कह सकते। इसके अलावा वाटर प्रूफ न होना और वायरलेस चार्जिंग की अनुपलब्धता भी इसे दूसरे फ्लैगशिप से पीछे ले जाता है। अंतत: सवाल यही है कि सैमसंग गैलेक्सी एस10 लें या फिर वनप्लस 7 प्रो। तो मेरे हिसाब से यदि आप परफॉर्मेंस की ओर जाते हैं तो फिर वनप्लस ले लें बेहतर होगा। परंतु स्टाइल के साथ एक बेहतरीन फ्लैगशिप की चाह में हैं तो गैलेक्सी एस10 लेना ज्यादा बेहतर है।

oppo-reno

इतना ही नहीं हाल में लॉन्च ओपो रेनो भी इसका अच्छा विकल्प है। शार्क फिन पॉप-अप कैमरे के साथ उपलब्ध ओपो रेनो का कैमरा इससे कहीं बेहतर है और समान प्रोसेसर के साथ उपलब्ध है। इतना ही नहीं स्टाइल के मामले में वह आगे भी है और प्राइस में भी लगभग 9,000 रुपये का अंतर है।

SHARE
Previous articleपॉप-अप कैमरे वाला नया फोल्डेबल फोन ला सकता है Oppo
Next articleSamsung Galaxy M40 इंडिया में हुआ लॉन्च, ट्रिपल रियर कैमरे के साथ है 6जीबी रैम
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 15 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 13 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।

LEAVE A REPLY