OnePlus 9 और OnePlus 9 pro स्मार्टफोन ने बेंचमार्क स्कोर में की हेरफेर, Geekbench ने उठाया ये कड़ा कदम

oneplus-9

OnePlus ने कुछ महीने पहले ही OnePlus 9 series को लॉन्च किया है। OnePlus का ये फ्लैगशिप स्मार्टफोन टॉप-ऑफ-द-लाइन Qualcomm Snapdragon 888 चिपसेट के साथ पेश किया गया है। Qualcomm का यह फ्लैगशिप मोबाइल प्रोसेसर को लेकर कंपनी का दावा है कि इसका CPU और GPU दमदार परफॉर्मेंस ऑफर करता है। वनप्लस 9 सीरीज भले ही Qualcomm के सबसे दमदार चिपसेट के साथ पेश किया गया है लेकिन नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वनप्लस ने बैंचमार्क ऐप में डिवाइस की परफॉर्मेंस को बढ़ाने के लिए गड़बड़ किया है। AnandTech की रिपोर्ट में दावा किया गया है गीकबेंच प्लेटफॉर्म पर OnePlus 9 Pro स्मार्टफोन में अजीब सी गतिविधि देखने को मिल रही है। इस पर जांच के बाद Geekbench ने OnePlus 9 series को अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है।

AnandTech की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि OnePlus 9 और OnePlus 9 pro दोनों फोन में कई ऐप्स की परफॉर्मेंस में अंतर देखने को मिला है। वेबसाइट का दावा है कि वनप्लस अपने सबसे फास्ट कोर से कुछ पॉपुलर एप्लीकेशन को दूर रखता है, जिससे वेब ब्राउज़िंग जैसे वर्कलोड में धीमापन आ रहा है। AnandTech ने अपनी रिपोर्ट में ये बताया है कि उनसे कई टेस्ट किए हैं। इसके साथ ही कई लोकप्रिय नॉल बेंचमार्क ऐप्स में इस फ़ोन की परफ़ॉर्मेंस काफ़ी स्लो है। इसके साथ ही बेंचमार्क और दूसरी ऐप्स में इस फ़ोन की परफ़ॉर्मेंस दमदार रहती है।

Geekbench बोला- OnePlus ने किया निराश

Geekbench ने इस प्रकरण के बाद OnePlus 9 Series को एंड्रॉयड बेंचमार्च चार्ज से हटा दिया है। इसके साथ ही गीकबेंच का यह भी कहना है वह इस बात की जांच कर रहा है कि वनप्लस के पुराने स्मार्टफोन ने बेंचमार्क स्कोर को मैन्यूपुलेट किया है। गीक बेंच ने ट्वीट कर कहा है कि यह निराश करता है कि वनप्लस ने परफॉर्समें से लिए ऐप आइडेंटीफायर का यूज किया है। बेंचमार्क स्कोर में हेरफेस सामने आने के बाद हमने OnePlus 9 और OnePlus 9 Pro स्मार्टफोन को अपने एंड्रॉयड बेंचमार्क चार्ज से रिमूव कर दिया है। इसके साथ ही हम वनप्लस के दूसरे स्मार्टफ़ोन की भी जांच अपनी परफ़ॉर्मेंस लैब में करेंगे। अगर ऐसा हुआ तो उन स्मार्टफोन्स को भी बेंचमार्क चार्ट से हटा दिया जाएगा।

oneplus-9-pro-vs-vivo-x60-pro-plus-comparison-specs-features-india-price

Realme भी कर चुकी है गड़बड़

OnePlus ने फिलहाल इस पर कोई ऑफिशियल बयान नहीं दिया है। इससे पहले वनप्लस की सिस्टर कंपनी Realme भी बेंचमार्क स्कोर में हेरफेर कर चुकी है। Realme GT 5G स्मार्टफोन को AnTuTu बेंचमार्क टेस्ट से बैन किया गया था। Realme ने अपने बचाव में कहा था उसके बेंचमार्क स्कोर बिलकुल सटीक हैं और वे इस मामले में AnTuTu के साथ बातचीत कर रहे हैं।

लेटेस्ट वीडियो : Poco M3 Pro vs Redmi Note 10 Pro Max कौन है बेस्ट

वीडियो

LEAVE A REPLY