PUBG Mobile से कितना अलग है BattleGrounds Mobile India, डाउनलोड करने के पहले जरूर जानें ये 5 अंतर

दिन में अधिकतम 3 घंटे ही खेल सकेंगे गेम और पैसा खर्च करने की भी होगी लिमिट।

PUBG Mobile vs BattleGrounds Mobile India

BattleGrounds Mobile India (BGMI) यानी PUBG Mobile अब अर्ली एक्सेस भारत में सभी के लिए उपलब्ध हो गया है। गुरुवार को पहले इस गेम का Beta Version पेश किया गया था जो सीमित संख्या में ही टेस्टर्स के लिए उपलब्ध हुआ था। वहीं अब Krafton ने बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया को सभी के लिए अर्ली एक्सेस के रूप में पेश कर दिया है। मतलब अब कोई भी इंडियन यूजर्स इस गेम को अपने फोन डाउनलोड कर सकता है और इस नए पबजी मोबाइल गेम का लुफ्त उठा सकता है। PUBG Mobile के क्रेज के दौरान पूरे देश से कई तरह की अप्रिय घटनाएं सामने आई थी जिसके बाद इस गेम को आलोचना का शिकार होना पड़ा था। लेकिन BattleGrounds Mobile India के साथ गेम निर्माता नहीं चाहते कि ऐसा कुछ फिर से दोहराया जाएगा। इसीलिए बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया को नए सिरे और नए नियमों के साथ बनाया गया है जो पबजी मोबाइल से काफी अलग है। हमने आगे 5 ऐसे ही प्वाइंट्स बताए हैं जिन्हें बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया को फोन में डाउनलोड करने के पहले जरूर जानना चाहिए कि PUBG Mobile और BattleGrounds Mobile India में क्या अंतर है।

Battlegrounds Mobile India Vs PUBG Mobile: प्राइवेसी और सिक्योरिटी

प्राइवेसी और सिक्योरिटी को देखते हुए ही PUBG Mobile को बैन किया गया था। लेकिन Krafton ने BGMI में प्लेयर्स की सुरक्षा, गोपनीयता और उनके डाटा पर विशेष ध्यान दिया गया है। 18 साल से कम उम्र के प्लेयर्स के लिए इस पॉलिसी पर ज्यादा ध्यान और जोर दिया दया है। 18 वर्ष से कम उम्र के प्लेयर्स यह गेम नहीं खेल पाएंगे।

Battlegrounds Mobile India beta version available for download and play in india PUBG

Battlegrounds Mobile India Vs PUBG Mobile: खून का रंग हुआ हरा

पिछले साल पबजी मोबाइल के बैन होने के बाद से क्राफ्टन ने भारत सरकार के नियमों का पालन करते हुए गेम में कई बदलाव किए हैं। इस वजह से बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया में प्लेयर्स को ब्लड यानी खून से रिलेटेट कुछ नहीं दिखाई देगा। यानि पबजी के जिन सीन्स में ब्लड का कलर लाल था वहीं, अब BGMI में लाल रंग को हरे रंग से बदल दिया गया है। हालांकि, खेलते समय यह देखना काफी अजीब जरूर लगेगा। लेकिन यह कदम नाबालिग प्लेयर्स को देखते हुए उठाया गया है।

Battlegrounds Mobile India Vs PUBG Mobile: स्क्रीन पर नहीं दिखाई देगा ‘Killed’

BattleGrounds Mobile India में इस बात का खास ख्याल रखा गया है कि ज्यादा खूनखराबा न दिखाया जाए। इस गेम में वायलेंस सीन्स को काफी लिमिटेड रखा जाएगा। सुनने में आ रहा है कि गेम के किलिंग के वक्त ब्लड स्प्लैश यानी खून की छीटों का रंग भी लाल नहीं बल्कि हरा दिखाया जाएगा। डेथ शॉट विजुअल ज्यादा क्लियर नहीं होंगे और ऐसे सीन्स पर ग्राफिक्स भी बलर कर दिए जाएंगे।

PUBG Mobile vs BattleGrounds Mobile India

Battlegrounds Mobile India Vs PUBG Mobile: खेलने का टाईम होगा सीमित

PUBG Mobile के दौरान अभिभावकों की शिकायत थी कि उनका बच्चा सारा दिन मोबाइल में लगा रहता है और पबजी खेलता रहता है। ऐसा करने के कई युवाओं को शारीरिक और मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ा था। कई बच्चों ने तो गेेम की लत के चलते सही वक्त पर खाना भी छोड़ दिया था। लेकिन BattleGrounds Mobile India के साथ ऐसा न हो, इस बात का खास ध्यान रखा गया है। इस गेम में 18 वर्ष से कम आयु वाले बच्चे एक दिन में अधिकतम 3 घंटे ही यह मोबाइल गेम खेल पाएंगे। यह भी पढ़ें : Battleground Mobile India नहीं हो रहा डाउनलोड, जानें स्टेप बाई स्टेप तरीका

Battlegrounds Mobile India Vs PUBG Mobile: पैसा खर्च करने की होगी लिमिट

गेम खेलने की लत ने खानापीना छुड़ाने के साथ ही कई लोगों को अपना ऐसा शिकार बना लिया था कि बच्चों ने चोरी-छिपे अपने माता-पिता का बहुत सारा पैसा PUBG Mobile में बर्बाद कर दिया था। लेकिन बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया में गेम में पैखा खर्च करने की भी लिमिट रखी गई है। कोई भी प्लेयर एक दिन में अधिकतम 7,000 रुपये ही इस गेम में खर्च कर सकता है और गेम आईटम अपग्रेड कर सकता है। सिर्फ इतना ही नहीं पैसा खर्च करने के लिए घर के किसी बड़े का फोन नंबर भी वेरिफाई करवाना होगा।

LEAVE A REPLY