रजनीकांत की रोबोट 2.0 के लिए कोर्ट ने की 12,564 वेबसाइट्स ब्लॉक, जानें क्या है पूरा माजरा

rajinikanth-akshay-kumar-robot-2-0-piracy-12564-websites-blocked-in-hindi

साउथ के ​सुपर​ हीरो या​नि रजनीकांत की मोस्ट अवेटेड फिल्म 2.0 आज भारत में रिलीज हो गई है। यह फिल्म साल 2010 में आई हिट ​फिल्म रोबोट का सिक्वेल यानि सेकेंड पार्ट है। रजनीकांत की कोई भी फिल्म हो वह चर्चा में जरूर रहती है। रोबोट 2.0 भी चर्चाओं में छाई हुई है, लेकिन इस चर्चाओं की वजह कुछ अलग है। रोबोट की रिलीज के साथ ही हाईकोर्ट ने देश में मौजूद 12,000 से भी अधिक वेबसाइट्स को ब्लॉक करने के आदेश दिए हैं। और यह आदेश 35 से भी ज्यादा इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को सख्ती से मानने के निर्देश हाईकोर्ट द्वारा दिए गए हैं।

रोबोट 2.0 को लेकर मद्रास हाईकोर्ट ने 37 इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स (आईपीएस) को 12,000 से भी अधिक वेबसाइट्स का तत्कालिन प्रभाव से ब्लॉक करने के आदेश दिए हैं। इन वेबसाइट्स को ब्लॉक करने की वजह 2.0 की प्राइवेसी रोकना है। यह मामला अपनेआप में अनूठा इसलिए भी हो जाता है​ कि इससे पहले किसी भी हाईकोर्ट द्वारा फिल्म पाइरेसी को लेकर इतनी संख्या में वेबसाइट्स ब्लॉक नहीं कराई गई है।

hacker-2

दरअसल 2.0 फिल्म बनाने वाली एलवाईसीए (लाइका) प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड ने मद्रास हाईकोर्ट में याचिका दर्ज की थी। इस याचिका के मद्देनज़र जस्टिस एम सुंदर ने कल यानि बुधवार को उन सभी वेबसाइट्स को ब्लॉक करने का आदेश​ दिया है जिनपर से फिल्मों का पाइरेटेड वर्ज़न डाउनलोड किया जाता है। हाईकोर्ट के आदेश की लिस्ट में 12,564 वेबसाइट्स शामिल हैं। हाईकोर्ट ने 37 इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स मोबाइल व कंम्प्यूटर डिवाईसेज़ पर इन वेबसाइट्स को ब्लॉक करने का आदेश दिया है।

फोन की स्क्रीन के बीच में होगा लेनोवो ज़ेड5एस का सेल्फी कैमरा ! फोटो आई सामने

याचिका दायर होने पर सामने आया है कि इन 12,564 वेबसाइट्स में से 2,000 के अधिक वेबसाइट्स ‘तमिलरॉकर्स’ की है। तमिलरॉकर्स एक ऐसा हैकिंग ग्रुप है जो उनकी वेबसाइट ब्लॉक होने के कुछ ही मिनटों बाद यूआरएल या किसी अन्य एक्सटेंशन के हिस्से को बदलकर तुंरत ​बिल्कुल नई वेबसाइट बना लेते हैं। यह नई बनी वेबसाइट पूरी तरह से पुरानी वेबसाइट जैसी ही होती है।

मोटो जी7 पावर में होगी 5,000एमएएच की पावरफुल बैटरी, फोन हुआ अमेरिकी साइट पर लिस्ट

आपको जानकार हैरानी होगी कि तमिलरॉकर्स के ए​डमिन पुलिस द्वारा गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं, लेकिन फिर भी इनकी वेबसाइट चल रही है। रोबोट 2.0 की बात करें तो यह फिल्म 500 करोड़ से भी अधिक के बजट में बनी फिल्म है, जिससे इंडस्ट्री को काफी उम्मीदे हैं। आपको बता दें कि इस ​फिल्म में विलेन बने अक्षय कुमार मोबाइल फोन व मोबाइल टॉवर के जरिये शक्ति पाते हैं, और इसी कॉन्सेप्ट के चलते देश के टेलीकॉम आॅपरेटर रोबोट 2.0 पर बैन लगाने की मांग भी कर रहे हैं।