5G के लिए Jio और Xiaomi ने मिलाया हाथ, एक है टेलीकॉम का बादशाह तो दूसरा स्मार्टफोन का King!

इंडिया के स्मार्टफोन बाजार के किंग Xiaomi के सब-ब्रांड Redmi India ने इस हफ्ते भारतीय टेलिकॉम क्षेत्र के बादशाह Reliance Jio के साथ साझेदारी की घोषणा की है। इस पार्टनरशिप का मकसद 5G ट्रायल के लिए Reliance Jio को Redmi डिवाइस उपलब्ध कराना है। वहीं, रेडमी ने साफ कर दिया है कि कुछ समय में Jio की तरफ से 5G ट्रायल रन अपकमिंग Redmi Note 11T 5G स्मार्टफोन पर किया जाएगा। Redmi Note 11T 5G पर टेस्टिंग कर कंपनी को अपनी 5G क्षमताओं को जांचने-परखने का एक मौका मिलेगा। वहीं दूसरी तरफ Jio डिवाइस पर रियल-टाइम 5G टेस्टिंग कर पाएगी और अपनी कमियों का पता लगाकर खुद को बेहतर बनाने की दिशा में काम कर सकेगी।

वहीं, इस साझेदारी को लेकर Xiaomi का कहना है कि वह Reliance Jio के साथ 5जी ट्रायल करने को लेकर काफी उत्साहित है। साथ ही Xiaomi का मानना है कि इस तरह की साझेदारी से 5G टेक्नोलॉजी में भी इंप्रूवमेंट हो सकेगा। साथ ही यूजर्स को हाई-क्वॉलिटी 5G एक्सपीरिएंस मिलेगा। इसे भी पढ़ें: इंडिया में मौजूद सभी 5G Smartphone हुए बेकार! मोबाइल यूजर्स को होगा भारी नुकसान, जानें क्यों

jio-logo-and-redmi-ka-logo-1

इसके अलावा Xiaomi और Redmi मिलकर 5G स्टैंडअलोन लैब ट्रायल करेंगी। जहां डिवाइस की हर तरह की कंडीशन पर जांच की जाएगी। जिससे यूजर्स के 5G एक्सपीरिएंस को बेहतर बनाया जा सके। Redmi Note 11T 5G में SA:n1/ n3/ n5/n8/ n28/ n40/ n78 और NSA: n1/n3/n40/n78 सहित 7 बैंड के सपोर्ट है जो उपयोगकर्ताओं को बेहतर प्रदर्शन प्रदान करता है। इसे भी पढ़ें: 6 महीने और आगे बढ़ी 5G Trials की डेडलाईन, जनता को मिला Jio, Airtel और Vodafone Idea से तगड़ा झटका!

reliance-jio-trails-voinr-over-5g-ran-service

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गुरुवार को कहा कि 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी अगले साल अप्रैल-मई के आसपास हो सकती है। इससे पहले ऐसी खबर सामने आई थीं कि भारत में केंद्र सरकार 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी नवंबर 2021 में होगी। लेकिन, कुछ समय पहले बताया गया था कि 2022 की पहली तिमाही में 5G स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी की जा सकती है।

लेटेस्ट वीडियो

बता दें कि अभी इंडिया में मौजद टेलीकॉम कंपनियां 3500MHz band पर अपने 5जी ट्रॉयल कर रही हैं। वहीं आने वाले दिनों में 700MHz band समेत 3.3GHz और 3.6GHz millimeter wave पर भी 5G Trails किए जाने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY