रिलायंस जियो 199, एयरटेल 198, वोडाफोन 199, जानें कौन प्लान है बेस्ट

आज के वक्त में टेलीकॉम कंपनियों के बीच तगड़ा कंपटीशन देखने को मिल रहा हैं रिलायंस जियो के सस्ते प्लान्स के बाद अन्य कंपनियों ने भी अपने प्लान कई गुणा तक घटाए हैं। ​इन दिनों देश की तीन बड़ी टेलीकॉम कंपनियां एयरटेल, वोडाफोन और रिलायंस जियो 200 रुपये से भी कम में ढ़ेर सारा डाटा और अनलिमिटेड वॉयस कॉल दे रही हैं। आइये बताते हैं किस कंपनी का प्लान है आपके लिए बेस्ट।

एयरटेल 198 प्लान
सबसे पहले बात करते हैं देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल भारती की। एयरटेल की ओर से 198 रुपये का प्लान पेश किया गया है। यह प्लान 28 दिनों की वेलिडिटी के साथ आता है जिसके अंतर्गत हर दिन 1जीबी 4जी इंटरनेट डाटा दिया जा रहा है। मलतब में 198 रुपये में आपको 28जीबी डाटा मिलेगा। वहीं दूसरी ओर एयरटेल की ओर से इस प्लान में वॉयस कॉल की सुविधा नहीं दी है।

girl-with-phone-indian-12

वोडाफोन 198 प्लान
वोडाफोन ने भी अपने यूजर्स के लिए बेहतरीन प्लान पेश किया है। यह प्लान 199 रुपये का है जो 28 दिनों की वेलिडिटी के सा​थ आता है। इस प्लान में 1जीबी 4जी डाटा प्रतिदिन के हिसाब से 28 दिनों तक यूजर के नंबर पर क्रेडिट होता है। वहीं दूसरी ओर यह रिचार्ज वोडाफोन यूजर्स को वॉयस कॉल की भी सुविधा देता है। इस प्लान में किसी भी नेटवर्क के लोकल या एसटीडी नंबर पर एक दिन में 250 मिनट और एक हफ्ते में 1,000 मिनट की कॉल फ्री में कर सकते हैं।

सिर्फ 3,999 रुपये में मिलेगा शाओमी का लेटेस्ट फोन रेडमी 5ए, जानें कैसे

रिलायंस जियो 198 प्लान
बात करें देश में सबसे तेजी से बढ़ने वाली जियो की तो इसने भी अपने ग्राहकों के लिए नया प्लान पेश कर दिया है। जियो का यह नया प्लान भी 199 रुपये का है। जियो के इस प्लान के तहत 28 दिनों तक अनलिमिटेड 4जी डाटा मिल रहा है जो 1जीबी/प्रतिदिन के हिसाब से यूजर अकाउंट में क्रेडिट होगा। इस प्लान के तहत सभी नेटवर्क पर अनलिमिटेड वॉयस कॉल भी दी जा रही है।

SHARE
Previous articleओपो एफ3 प्लस
Next articleशाओमी रेडमी 5ए की टक्कर में आया 5,000एमएएच बैटरी वाला माइक्रोमैक्स भारत 5
मेरे लिखने से आपके पढ़ने तक, सब तकनीक है। Kamal Kant का मानना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 10 साल के अनुभव के दौरान ये विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों से जुड़ते हुए मीडिया के तीनों मंच - प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और डिजीटल मीडिया पर कार्य चुके हैं।