रिलायंस जियो का धमाका: फिर से तीन महीने सभी सेवाएं मुफ्त, जुलाई से लागू होगा शुल्क

5 reliance jio achievements mukesh ambani chairman

​रिलायंस जियो ने फिर से अपने उपभोक्ताओं को बहुत बड़ी खुशखबरी दी है। कंपनी ने एक साथ फिर से कई आॅफर पेश किए हैं जिसे सुनकर आप खुश हो जाएंगे। कंपनी ने फिर से तीन महीने तक अपनी सेवाएं मुफ्त कर दी हैं। एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर रिलायंस के चेयरमैन एंड मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने बताया कि हमें इस बात को बताते हुए बेहद खुशी है कि 7.2 करोड़ से ज्यादा लोगों ने अपने जियो सिम को प्राइम मेंबरशिप में इनरोल करायाा है।

अंबानी ने आगे कहा कि हालांकि कई लोग अब भी अपने जियो नंबर को प्राइम मेंबरशिप में इनरोल नहीं करा पाए हैं और अब भी स्टोर पर लोगों की काफी भीड़ देखी जा रही है। ऐसे में हमने जियो मेंबरशिप प्लान को 15 अप्रैल तक बढ़ाने की घोषणा की है।

इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि जैसा कि आप जानते हैं जियो की फ्री सर्विस को खत्म होने का समय आ गया है लेकिन जो उपभोक्ता लंबे समय से हमारे साथ बने हैं उनके लिए हमनें एक आकर्षक आॅफर पेश किया है। जो लोग 15 अप्रैल से पहले अपने नंबर को 303 से रिचार्ज करेंगे वे कॉ​म्लिमेंटरी सर्विस के तहत तीन महीने तक जियो की सेवाओं का लाभ मुफ्त में उठा सकेंगे। उनका सब्सिक्रिप्शन प्लान जुलाई से शुरू होगा।

कंपनी ने इस आॅफर नाम का नाम समर सरप्राइज दिया है। अर्थात ​यदि आप 15 अप्रैल से पहले जियो सिम को प्राइम मेंबरशिप में अनरोल करते हैं और 303 रुपये का रिचार्ज कराते हैं तो जियो की सभी सेवाएं 28 जुलाई तक मुफ्त होंगी। 31 जून तक कॉ​म्लिमेंटरी सर्विस के तहज सेवाएं मुफ्त होंगी जबकि आपका रिचार्ज प्लान 1 जुलाई से ए​क्टिव होगा।

SHARE
Previous articleये पांच स्मार्टफोन होंगे अगले हफ्ते लॉन्च
Next articleजानें कैसे लें रिलायंस जियो की स​र्विस तीन महीनें तक मुफ्त
टेक्नोलॉजी शौक नहीं इनका जुनून है और इसी जुनून ने इन्हें टेक जगत में आने के लिए प्रेरित किया। मुकेश कुमार सिंह उन चंद लोगों में से हैं जिन्होंने हिंदी में मोबाइल रिव्यू लिखने की शुरूआत की। अपने 15 सालों के प​त्रकारिता के सफर की शुरुआत इन्होंने हिंदी डेली से की और पिछले 13 सालों से ये मोबाइल तकनीकी क्षेत्र में सक्रिय हैं। अब तक ये मॉय मोबाइल मैगजीन और बीजीआर जैसे वेबसाइट के लिए कार्य कर चुके हैं। वहीं जागरण और नवभारत टाइम्स जैसे अखबारों में इनके लेख नियमित रूप से छपते रहते हैं।