रिलायंस जियो ने शुरू की प्री 5जी मैसिव मीमो सर्विस, आईपीएल स्टेडियम में मिलेगी सुपर फास्ट नेटवर्क

रिलायंस जियो की प्री 5जी मैसिव मीमो सर्विस आईपीएल

भारत को हमेशा से ही तकनीक में पीछे कहा जाता है। यहां मोबाइल सेवा देर से शुरू हुई, 3जी बहुत बाद में आया, 4जी में भी हम पीछे थे लेकिन लगता है कि 5जी नेटवर्क के मामले में हम विश्व की बराबरी कर लेंगे या कई देशों से आगे होंगे। जी हां इसे सुनकर आप भले ही थोड़ा आश्चर्य करेंगे लेकिन यह सच है। बल्कि 5जी की कोशिशें अभी से ही शुरू हो गई हैं। पिछले साल सितंबर में भारत की प्रमुख मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी एयरटेल ने मैसिव मीमो सर्विस की शुरुआत की थी।इस तकनीक को आने वाले 5जी नेटवर्क की झलक कही जा रही है। वहीं कल मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस ​जियो ने भी प्री 5जी मैसिव मीमो तकनीक की घोषणा कर दी है। यह तकनीक हाई स्पीड डाटा एक्सपीरियंस प्रदान करने में सक्षम है।

हालांकि कंपनी ने फिलहाल इसकी शुरुआत आईपीएल क्रिकेट स्टेडियम से की है। कंपनी ने जानकारी दी है कि आईपीएल मैच के दौरान दिल्ली और मुंबई स्टेडियम में जियो यूजर प्री 5जी मैसिव मीमो नेटवर्क का अनुभव कर सकेंगे। कंपनी का कहना है कि मैसिव मीमो तकनीक 30मेगाहट्र्ज वाइड बैंड स्पैक्ट्रम पर वर्तमान 4जी के मुकाबले 5 गुणा तेज डाटा सर्विस प्रदान करने में सक्षम है। इस अडवांस प्री—5जी तकनीक के माध्यम से यूजर सुपर फास्ट स्पीड से वीडियो स्ट्रीम और पोस्ट शेयर सहित कई दूसरे तकनीकी सेवाओं का मजा ले सकेंगे।
jiofiber

जियो ने जानाकरी दी है कि दिल्ली और मुंबई के आईपीएल स्टेडियम अब हाई स्पीड वायरलेस ब्रॉडबैंड से जुड़ गए हैं। इसके लिए मैसिव मीमो, 4जी ईएनपीएस (Evolved Node B), सैंकड़ों वाईवाई चैनल्स के साथ स्मॉल सेल की एक व्यू तैयार की गई है जो जियो यूजर्स को सिमलेस हाईस्पीड डाटा एक्सपीरियंस कराने में सक्षम है।

जियो के साथ ही एयरटेल ने भी इस आईपीएल फीवर को भुनाने में कोई कोर कसर नहीं छोडी है। कंपनी ने भी आईपीएस स्टेडियम में मैसिव मीमो आधारित प्री—5जी तकनीक मुहैया कराने का दावा किया है। एयरटेल दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, कोलकाता, मोहाली, इंदौर, जयपुर, बंगलुरू और चैन्नई स्टेडियम में हाईस्पीड प्री 5जी मैसिव मीमो तकनीक उपलब्ध कराएगी।

गौरतलब है कि मुकेश अंबानी ने अपनी 4जी सर्विस लॉन्च के दौरान ही बताया था कि रिलायंस ​जियो नेटवर्क 5जी रेडी है। वहीं बाद में 5जी नेटवर्क की तैयारी के लिए कंपनी ने सैमसंग के साथ हाथ मिलाया था।