जियो बनाएगी देसी शॉपिंग साइट, अमेज़न-फ्लिपकार्ट को मिलेगी टक्कर

152 Fake Jio Apps running in india Reliance Jio fraud Jio Prime 4G Offers

रिलायंस जियो के आने से भारत के टेलीकॉम बाजार में हालत पूरी तरह से बदल चुकी है और इस बात को कोई भी नकार नहीं सकता। जियो ने मुफ्त में डाटा और वॉयस कॉल देकर लाखों लोगो तक इंटरनेट की सर्विस पहुॅंचाई है। टेलीकॉम इंडस्ट्री की पुरानी कंपनियों को टक्कर देने के बाद जियो अपनी गीगाफाइबर सर्विस से ब्रांडबैंड के क्षेत्र में भी दस्तक देने वाली है। वहीं अब जियो के मालिक मुकेश अंबानी ने एक और बड़ी घोषणा कर दी है कि कंपनी अब जल्द ही अपना खुद का ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म यानि जियो की शॉपिंग वेबसाइट भी शुरू करने वाली है।

जियो को हुआ 88 लाख का फायदा और वोडाफोन आइडिया को हुआ 65 लाख का नुकसान

रिलायंस जियो के मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने ऑफिशियल घोषणा कर दी है कि जियो बेहद जल्द अपनी खुद की शॉपिंग वेबसाइट खोलने जा रही है। यह वेबसाइट अमेज़न व फ्लिपकार्ट की तरह ही होगी जो एक ही प्लेटफॉर्म पर हर प्रकार की वस्तुओं और प्रोडक्ट्स को बेचेगी। जियो की इस नई शुरूआत से देश में मौजूद अमेज़न, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील व मायंत्रा जैसी शॉपिंग साइट्स को कड़ी टक्कर मिलने वाली है।

reliance-jio-to-launch-e-commerce-platform-compete-with-amazon-flipkart-in-india-in-hindi

जियो की ओर से बोलते हुए मुकेश अंबानी ने कहा है कि जियो बेहद जल्द अपने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म का आरंभ करेगी। यह वेबसाइट रिलांयस रिटेल और रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड (आरआईएल) की ऑफलाईन रिटेल सहयोगी ईकाइयों द्वारा मिल कर चलाई जाएगी। इस नए प्रोजेक्ट की शुरूआत गुजरात से की जाएगी। मुकेश अंबानी के अनुसार जियो ई-कॉमर्स वेबसाइट से गुजरात में 12 लाख से भी अधिक लघु उद्योगों, दुकानदारों तथा रिटेलर्स को लाभ मिलेगा।

reliance-jio-to-launch-e-commerce-platform-compete-with-amazon-flipkart-in-india-in-hindi

जियो ई-कॉमर्स वेबसाइट ‘ऑफलाइन-टू-ऑनलाइन’ की तर्ज पर काम करेगी जो आने वाले 12 से 18 महीनें में पूर्ण तरीके से शुरू हो जाएगी। यह डिजीटल प्लेटफॉर्म जियो नेटवर्क तथा रिलायंस से जुड़े उद्यमियों को साथ लेकर चलेगा। लोकल दुकानों तथा लघु उद्योगों द्वारा निर्मित सामान को जियो की इस शॉपिंग साइट पर बेचा व खरीदा जा सकेगा। हर छोटी बड़ी दुकानों को चलाने वाले लोग इस प्लेटफॉर्म के जरिये अपने सामान दूर दराज तक बेच पाएंगे।

जियो यूजर्स ने एक महीने में देखी है 460 करोड़ घंटो की वीडियो और की है 63 हजार करोड़ मिनट की बात, जानें पूरी डिटेल

प्राप्त जानकारी अनुसार छोटी दुकानें व रिटेल स्टोर्स को रिलायंस जियो द्वारा कंपनी के होलसेल स्टोर्स के ​अंतर्गत शामिल किया जाएगा। ​तथा इन दुकानों के सामान को डिजीटल तरीके से बेचा जाएगा। उम्मीद है कि लोकल चीजों के साथ ही जियो ई-कॉमर्स वेबसाइट पर हर कैटेगरी व ब्रांड की चीजें भी खरीद के ​लिए उपलब्ध हो। ​जियो की इस घोषणा के बाद आम जनता व जियो फैन्स में जहां खुशी है वहीं ​अमेज़न व फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा उत्पन्न हो सकती है।

LEAVE A REPLY