Samsung फ्री में देगा क्वॉरन्टीन में रह रहे लोगों को स्मार्टफोन और स्कूलों को बांटेगा टैबलेट डिवाईस

Samsung Galaxy Tab M62 production starts in noida factory india

COVID-19 यानि कोरोना वायरस का दंश इन दिनों पूरा संसार झेल रहा है। चीन से शुरू हुई इस महामारी ने पूरे विश्व समेत भारत को भी अपनी चपेट में ले लिया है। coronavirus से निपटने के सरकार तो अपने प्रयास कर ही रही है वहीं साथ ही अन्य लोग भी अपना योगदान दे रहे हैं। टेक जगत की बात करें तो Xiaomi, OPPO, Vivo, Realme और Infinix व Tecno जैसे ब्रांड्स भी अपने अपने स्तर पर कोरोना से होने वाली हानि को कम करने में मदद कर रहे हैं। वहीं अब Samsung से जुड़ी खबर आ रही है कि इस कंपनी ने दो कदम आगे जाते हुए quarantine में रह रहे लोगों को मुफ्त में स्मार्टफोन और एयर प्योरिफायर बॉंटने का ऐलान किया है।

सैमसंग ने स्टेटमेंट के माध्यम के बताया है कि कंपनी कोरोना से जूझ रहे लोगों की मदद करने के लिए स्मार्टफोन, टैबलेट और एयर प्योरिफायर फ्री में बॉंटेगी। सीनेट की रिपोर्ट के अनुसार Samsung ने ऐलान किया है कि कंपनी अपनी होम मार्केट में क्वॉरन्टीन में रह रहे लोगों को मुफ्त में स्मार्टफोन देगी। सैमसंग का प्रयास है कि मोबाइल फोन बॉंटने से घरों से दूर अकेले रह रहे लोग अपने परिवार जनों के संपर्क में रह पाएंगे और यह उनके स्वास्थय के लिए भी बेहतर साबित होगा।

Samsung donates free smartphones to quarantined coronavirus patients tablet device

इसके साथ ही Samsung शिक्षण संस्थानों को फ्री में टैबलेट भी देगी जिसकी सहायता से घर बैठे छात्रों तक पढ़ाई संबधित सामग्री पहुॅंचाई जा सकेगी। रिपोर्ट में बताया गया है कि सैमसंग की ओर क्वॉरन्टीन सेंटर और अस्पतालों में भी ब्रांड के एयर प्योरिफायर और अन्य एक्सेसरीज़ वितरीत की जा रही है। गौरतलब है कि सैमसंग की ओर से 29 मिलियन डॉलर की सहायता की जा रही है जिससे फेस मास्क, हैंड सेनेटाईज़र और अन्य सामान उपलब्ध कराए जा रहे हैं जो कोरोना के खिलाफ छिड़ी जंग में सहायक होंगे।

इंडिया में बढ़ी इंटरनेट की खपत

रिपोर्ट में सामने आया है कि Coronavirus के चलते देश में हुए लॉकडाउन के बाद देश में इंटरनेट के यूज़ के बेहद तेजी से वृद्धि हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान इंडिया में इंटरनेट की खपत 30 प्रतिशत तक बढ़ गई है। सिर्फ इतना ही नहीं एक ओर जहां इंटरनेट का यूज़ पहले के मुकाबले कहीं ज्यादा हो गया है वहीं दूसरी ओर इस यूज़ के बढ़ जाने के बाद इंटरनेट की स्पीड में भी 20 प्रतिशत तक की कमी आंकी गई है।

कोरोना लॉकडाउन में कम पड़ रहा है डाटा ? अपनाएं ये तरीके और चलाए इंटरनेट ज्यादा

स्पीड में आएगी और भी गिरावट

रिपोर्ट के अनुसार ISPAI यानि इंटरनेट सर्विसेज प्रोवाइडर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ओर से कहा गया है कि पिछले सप्ताह भारत में हुए लॉकडाउन के बाद देश में इंटरनेट के यूज़ में वृद्धि हुई है। इंटरनेट का यूज़ ज्यादा होने की वजह से स्पेक्ट्रम पर भार पड़ा है और इंटरनेट स्पीड में गिरावट आई है। फिलहाल यह गिरावट 20 प्रतिशत तक की है लेकिन अभी दो हफ्ते से अधिक चलने वाले लॉकडाउन में इंटरनेट का स्पीड और भी कम होगी। रिपोर्ट के मुताबिक अभी इंटरनेट स्पीड 25 से 30 प्रतिशत तक और भी कम हो सकती है। विश्लेषकों के अनुसार औसत तौर पर इंटरनेट स्पीड 9Mbps से 10Mbps तक रहने के आसार है।

70 प्रतिशत तक बढ़ा है यूज़

लॉकडाउन के बाद ज्यादातर कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम करने की आदेश दिए हैं। घर से दफ्तर का काम करने पर सभी लोगों को इंटरनेट का यूज़ ज्यादा करना पड़ा है। देश में इंटरनेट का यूज़ औसतन 30 प्रतिशत तक अधिक हो गया है। पिछले दिनों में वर्क फ्रॉम होम के चलते इंटरनेट यूजर्स की गिनती तीन गुना तक बढ़ गई है। रिपोर्ट की मानें तो लॉकडाउन शुरू होने के बाद से बेंगलुरु और हैदराबाद जैसे शहरों में इंटरनेट डाटा का यूज़ 70 प्रतिशत तक बढ़ गया है।

LEAVE A REPLY